केजरीवाल का दोगलापन, व्यापारियों ने कहा धोखेबाज हैं दिल्ली का मुख्यमंत्री..

Kejriwal duplicity backfoot: बीते कुछ महीनों से दिल्ली में सीलिंग का विवाद चरम पर है. ऐसे में इस मुद्दे पे जमकर सियासत देखने को मिल रही है. इस बीच व्यापारियों के मसीहा बने CM केजरीवाल ने आंदोलन करने से मना कर दिया। जिसको लेकर अब विवाद फिर से शुरू हो गया. यह विवाद दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच मे जारी है. लेकिन इसे भुगतना आम जनता को पड़ रहा है.

पिछले कुछ दिनों में व्यापारियों ने दिल्ली बन्द करने का ऐलान भी किया था. जिसके बाद CM केजरीवाल ने उनसे बड़ा वादा किया था.

Kejriwal duplicity backfoot

Kejriwal duplicity backfoot

आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है.

जी हाँ, सीलिंग को लेकर व्यापारी पूरी तरह से पस्त है. ऐसे में केंद्र सरकार से लड़ने के लिए उन्हें CM केजरीवाल का साथ मिला था. लेकिन केजरीवाल ने फिलहाल U-turn ले लिया है. जिसकी वजह से व्यापारी समूह में नाराजगी देखने को मिल रही है. व्यापारियों की मांग यह है कि CM केजरीवाल इस्तीफा दें. क्योंकि CM केजरीवाल ने व्यापारियों को धोखा दिया है.

ऐसे में उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए. बता दें कि सीलिंग विवाद को लेकर CM केजरीवाल ने PM नरेन्दर मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र भी लिखा था.

Kejriwal duplicity backfoot

केंद्र की तरफ से कोई सुझाव ना आना.

हैरान करने वाली बात है, कि केजरीवाल ने पत्र में केंद्र को धमकी दी थी कि अगर 30 तक कोई फैसला नहीं लिया गया तो वे खुद व्यापारियों के साथ भूख हड़ताल पर बैठेंगे, 31 मार्च की तारीख दी थी. ऐसे में अब उन्होंने फिलहाल हड़ताल से इनकार कर दिया, जिसकी वजह से व्यापारियों का गुस्सा फूट पड़ा है. व्यापारियों ने दिल्ली के CM केजरीवाल पर धोखेबाज होने का आरोप तो लगाया है.

और पढ़े: Arvind Kejriwal बनाएंगे नई पार्टी, होगा ये नाम …

Kejriwal duplicity backfoot

साथ मे उनसे इस्तीफे की भी मांग की है. और CM केजरीवाल को दोगला भी कहा है. जिसकी वजह से केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है. केजरीवाल ने सीलिंग के खिलाफ होने वाले हड़ताल को फिलहाल के लिए रोक दिया है.

Kejriwal duplicity backfoot

ये आंदोलन कब शुरू होगा, इससे पर्दा नहीं हटाया है.

व्यापारियों का आरोप है कि इस तरह से CM का पीछे हटना इसी तरफ इशारा करता है कि उन्हें हमारी कोई चिंता नहीं है. ऐसे में अब हमें उन पे कोई भरोसा नहीं है. बता दें कि यह कोई पहला मामला नहीं है, जब केजरीवाल अपनी बात से पलटे हैं. इससे पहले भी वो अपनी बात से एक नहीं कई बार भी पलट चुके हैं. ऐसे में देखना ये होगा कि केजरीवाल व्यापारियों का साथ कैसे देते हैं.

Kejriwal duplicity backfoot

या फिर उन्हें किस तरह से शांत करते है. ये तो खैर time ही बताएगा, लेकिन इस समय सभी व्यापारी केजरीवाल के खिलाफ है. इतना ही नहीं केजरीवाल पर व्यापारियों ने इल्जाम लगाते हुए कहा कि केजरीवाल का रुख शुरू से ही ऐसा था. जोकि अब पूरी तरह से साफ हो गया है. उन्हें व्यापारियों से कोई लेना देना नहीं है. वो बस अपनी party को चमकाने में लगे हुए हैं. जोकि गलत है. ऐसे में CM को इस्तीफा दे देना चाहिए.

और पढ़े: टूट गया राहुल गांधी का दिल, लोकसभा चुनाव से पहले लगा झटका..

सभी तरह की खबरों से जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़े

RELATED ARTICLES