जा मोदी तू भस्म हो जाएगा, मेरा शाप है तुझे….

Modi Aasaram Mystery: जा मोदी तू भस्म हो जाएगा, मेरा शाप है तुझे…. नाबालिग लड़की से रेप केस में आध्यात्मिक गुरु आसाराम दोषी करार दिया गया है, लेकिन इस मामले से भी पहले उसका विवादों से पुराना नाता रहा है। बताया जाता है कि आसाराम एक समय इतना रसूखदार था कि किसी भी बड़े नेता-मंत्री या फिर ब्यूरोक्रेट को सार्वजनिक मंच से चुनौती दे देता था। ऐसा ही एक बार 2008 में हुआ था। जब आसाराम ने उस वक्त गुजरात के मुख्यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी को सार्वजनिक मंच से चेतावनी दी थी।

Modi Aasaram Mystery-

दरअसल, हुआ यूं था कि 5 जुलाई 2008 को आसाराम के मुटेरा आश्रम के बाहर मौजूद साबरमती नदी के सूखे तल में 10 वर्षीय अभिषेक वाघेला और 11 वर्षीय दीपेश वाघेला के अध-जले शरीर बरामद हुए थे। इस बच्चों का दाखिला कुछ ही दिन पहले आसाराम के ‘गुरुकुल’ नामक स्कूल में करवाया गया था। बच्चों के परिजनों ने आरोप लगाया था कि बच्चों की मौत आसाराम के आश्रम में तांत्रिक क्रियाओं के कारण हुई थी। उस वक्त यह मामला काफी उछला।

आखिरकार उस वक्त मोदी सरकार ने जस्टिस डी। के त्रिवेदी कमिशन से मामले की जांच करने के आदेश दिए। मोदी सरकार के इस कदम पर आसाराम भड़क उठा। उसने कहा कि, “यदि हमें दबाया गया तो मोदी भस्म हो जाएगा। मेरा शाप है तूझे। इसके कुछ दिन बाद ही आसाराम और उसका बेटा नारायण साईं एक हेलिकॉप्टर दुर्घटना में बाल-बाल बचे थे। तब भी आसाराम ने मोदी पर हमला बोला। उसने कहा था कि, “यदि हमें मोदी सरकार दबाने की कोशिश करेगी तो उसे सत्ता से उखाड़ फेंका जाएगा। जिस तरह से गुजरात पुलिस हमसे बर्ताव कर रही है वैसे तो रावण की भी पुलिस किसी से बर्ताव नहीं करती।”

हालांकि, आसाराम की तमाम बातों के बावजूद 2012 में नरेंद्र मोदी फिर जीते और गुजरात के मुख्यमंत्री बने। गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी कई बार बीजेपी नेताओं को आसाराम का समर्थन ना करने की बातें भी कह चुके हैं।

और देखे – आखिर देश में इतनी हलचल क्यों, ऐसा किसकी सरकार आने वाली है, जानिए पूरी रिपोर्ट !

सभी तरह की खबरों से जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़े

RELATED ARTICLES