Indian Culture | भारतीय संस्कृति और परंपराओं का अद्भुत मेल, जानिए क्या भारतीयों की शान …

0
985

Indian Culture: भारत अपनी संस्कृति (Culture) और परंपराओं (Tradition) के लिए पूरी दुनिया में एक प्रसिद्ध देश है । यह विभिन्न संस्कृतियों (Cultures) और परंपराओं (Traditions) की भूमि है । भारत दुनिया का सबसे पुराना सभ्यता वाला देश है।

Indian Culture-

भारतीय संस्कृति (Indian Culture) के महत्वपूर्ण तत्व अच्छे शिष्टाचार, ताहजीब, नागरिक संवाद, धार्मिक संस्कार, मान्यताएं और मूल्य हैं। अब जबकि हर किसी की जीवनशैली आधुनिक (Lifestyle Modern) हो रही है, भारतीय लोग अब भी अपनी परंपराओं और मूल्यों को बनाए रखते हैं!

विभिन्न संस्कृतियों और परंपराओं (culture and tradition) के लोगों के बीच आत्मीयता ने एक अनूठा देश बनाया है, ‘ भारत ‘. हमारी अपनी संस्कृति और परंपरा (culture and tradition) का पालन करते हुए लोग भारत में शांति से रहते हैं ।

भारत की संस्कृति में धरोहर के विचार, लोगों की जीवनशैली (Lifestyle), मान्यताएं, रीति-रिवाज (Tradition), मान, आदतें, परवरिश, विनम्रता, ज्ञान आदि जैसी सब कुछ है। संस्कृति (Indian Culture) एक तरह से दूसरों के साथ सौदा है, सौम्यता के साथ चीजों का जवाब है, मूल्यों, न्याय, सिद्धांतों और विश्वासों की हमारी समझ को समझते हैं ।

पुरानी पीढ़ी के लोग अपनी संस्कृति (Culture) और मान्यताओं (Tradition) को नई पीढ़ी को देते हैं। इसलिए, सभी बच्चों को यहां अच्छी तरह से व्यवहार क्योंकि वे इन संस्कृतियों और परंपराओं (Own Culture, Tradition) पहले से ही अपने माता पिता और दादा दादी से प्राप्त किया है!

हम सभी चीजों में भारतीय संस्कृति (Indian Culture) की झलक जैसे नृत्य, संगीत, कला, व्यवहार, सामाजिक नियम, भोजन, हस्तशिल्प, वेशभूषा आदि देख सकते हैं। भारत एक बड़ा पिघला हुआ बर्तन है, जो विभिन्न विश्वासों (Believes) और व्यवहार (Behave) है कि यहां विभिंन संस्कृतियों को जंम दे रहा है ।

यह लगभग 5,000 साल पहले के बाद से विभिंन धर्मों (Religions) के मूल में अपनी जड़ें है । ऐसा माना जाता है कि हिंदू धर्म (Hindu Dheram) की उत्पत्ति यहां वेदों से हुई है । हिंदू धर्म के सभी पवित्र ग्रंथों (Sacred Taxt) को संस्कृत भाषा में लिखा जाता है । यह भी माना जाता है कि जैन धर्म (Jainism) की शुरुआत प्राचीन काल से हुई थी और उसका अस्तित्व सिंधु घाटी (Indus Velly) में था. बुद्ध एक दूसरा धर्म है जो भगवान गौतम बुद्ध (Buddhism) की शिक्षाओं के बाद देश में उत्पन्न हुआ.

ईसाई धर्म अंग्रेजी (English) और फ्रांसीसी (France) जो कुछ 200 साल के लिए एक लंबे समय के लिए यहां शासन के साथ यहां आया था । इस तरह से विभिन्न धर्मों (Religion) का उद्गम प्राचीन काल से या किसी तरह से यहां लाया गया है । हालांकि, सभी धर्मों के लोग अपने रीति-रिवाजों (Tradition) और विश्वासों (Believe) को प्रभावित किए बिना शांति से एक साथ रहते हैं ।

भारत की राष्ट्रीय भाषा हिंदी (National Language) है, हालांकि विभिन्न राज्यों और संघ शासित प्रदेशों (Union Territories) में लगभग 22 आधिकारिक भाषाएं और 400 अन्य भाषाएं प्रतिदिन बोली जाती हैं । History के अनुसार भारत को हिन्दू और बौद्ध धर्मों जैसे धर्मों की जन्मभूमि के रूप में पहचाना जाता है. भारत की बहुसंख्यक आबादी हिंदू धर्म (Hindu Religions) से संबंधित है । हिन्दू धर्म की दूसरी किस्म है शैव्या, शक्ति, वैष्णव और स्म्राता.

कई युग आए और चले गए, लेकिन कोई इतना प्रभावशाली नहीं बन गया कि वे हमारी वास्तविक संस्कृति (Natural Culture) को बदल सकें। हमारी राष्ट्रीय संस्कृति (National Culture) हमें हमेशा अच्छे कर्म करने, बड़ों का सम्मान करने, मज़बूर लोगों की मदद करने और गरीब व जरूरतमंद लोगों की मदद करने की शिक्षा देती है ।

यह हमारी धार्मिक संस्कृति (Religious Culture) है कि हम उपवास रखते हैं, पूजा करते हैं, गंगा जल (Ganga) अर्पित करते हैं, सूर्य को सलाम करते हैं, परिवार के सदस्यों के पैरों को छूते हैं, ध्यान करते हैं और रोज ध्यान करते हैं, भूख और विकलांग को खिलाते हैं ।

हमारे राष्ट्र के इस महान संस्कृति (Indian Culture) है कि हम बहुत खुशी के साथ अपने मेहमानों की सेवा है क्योंकि मेहमानों को भगवान का रूप है । यही कारण है कि भारत में “अतीथी देवो भव:” का कथन बहुत प्रसिद्ध है । हमारी संस्कृति (Culture) की मूल जड़ मानवीय (Human) और आध्यात्मिक (Spiritual) कार्य है ।

और देखे – शारीरिक संबंध बनाने वालों को हाई कोर्ट का जबरदस्त इनाम …