Adani, including KKR bid to buy Anil Ambani’s bankrupt company, the purchase of shares will increase!:कर्ज में फंसी अनिल अंबानी  की रिलायंस कैपिटल  को खरीदने के लिए अडानी से लेकर पिरामल, केकेआर  समेत कई बड़ी कंपनियां कतार में हैं। PTI को इस मामले की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने बताया है कि रिलायंस कैपिटल को खरीदने के लिए अडानी फिनसर्व, केकेआर, पिरामल फाइनेंस और पूनावाला फाइनेंस  समेत 14 प्रमुख कंपनियों ने रूचि दिखाईं हैं। ये कंपनियां कर्ज में डूबी रिलायंस कैपिटल लिमिटेड के अधिग्रहण के लिए बोली लगाई हैं।

सूत्रों ने बताया कि जिन अन्य कंपनियों ने रिलायंस कैपिटल के लिए ईओआई (EOI) जमा कराया है उनमें अर्पवुड, वर्दे पार्टनर्स, मल्टीपल्स फंड, निप्पन लाइफ, जेसी फ्लॉवर्स, ब्रुकफील्ड, ऑकट्री, अपोलो ग्लोबल, ब्लैकस्टोन और हीरो फिनकॉर्प शामिल हैं। बता दें कि कंपनी पर 40,000 करोड़ रुपये का कर्ज है।

25 मार्च है बोली लगाने की अंतिम तारीख

रिलायंस कैपिटल के लिए बोलियां दाखिल करने की तारीख भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नियुक्त प्रशासक ने 11 मार्च निर्धारित की थी जिसे अब बढ़ाकर 25 मार्च कर दिया गया है। बोली दाखिल करने की समयसीमा कुछ संभावित बोलीदाताओं के अनुरोध पर बढ़ाई गई है, जिन्होंने रुचि पत्र (ईओआई) दाखिल करने के लिए कुछ और समय मांगा था। सूत्रों ने बताया कि ज्यादातर बोलीदाताओं ने पूरी कंपनी के लिए बोली लगाई है।

यह तीसरी सबसे बड़ी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) है जिसके खिलाफ केंद्रीय बैंक ने हाल में दिवाला एवं ऋणशोधन अक्षमता संहिता (आईबीसी) के तहत दिवाला कार्यवाही शुरू की है। दो अन्य कंपनियां श्रेई ग्रुप की एनबीएफसी तथा दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन (डीएचएफएल) हैं।

RBI ने भंग किया था निदेशक मंडल

बता दें कि RBI ने 29 नवंबर को रिलायंस कैपिटल के बोर्ड को भंग कर दिया था और अपनी तरफ से बैंक ऑफ महाराष्ट्र के पूर्व कार्यकारी निदेशक नागेश्वर राव को प्रशासक नियुक्त कर दिया था। इसके अगले ही दिन केंद्रीय बैक ने प्रशासक की मदद के लिए एक तीन सदस्यीय पैनल भी गठित कर दिया था। अनिल अंबानी की अगुआई वाली आरसीएल पर कर्ज भुगतान में चूक और कंपनी संचालन संबंधी कई गंभीर आरोप हैं।

शेयरों की बढ़ेगी खरीदारी!

बता दें कि रिलायंस कैपिटल के शेयरों की खरीदारी लगातार बढ़ रही है। इस दिवालिया कंपनी को खरीदने के लिए जैसे-जैसे बड़े नाम सामने आए वैसे-वैसे शेयरों में भी तेजी देखी गई। रिलायंस कैपिटल लि. के शेयर पिछले पांच कारोबारी सत्र में 10.93% उछल चुका है। शुक्रवार को कंपनी के शेयर 5 फीसदी तक ऊपर चढ़कर 13.70 रुपये पर बंद हुए थे।