Amitabh Bacchan: Amitabh Bacchan ने ऐतिहासिक जीत हासिल करने के बावजूद क्यों बना ली राजनीति से दूरी ! साल 1984 में अमिताभ (Amitabh Bacchan) ने एलाहाबाद से 8वें लोकसभा चुनाव में MP का चुनाव लड़ा था! उन्हें Congress party से टिकट मिली थी! उन्होंने ये चुनाव Utter Pradesh के तत्कालीन चीफ मिनिस्टर H.N Bahuguna के खिलाफ लड़ा और भारी अंतर से जीत भी हासिल की!

Amitabh Bacchan-

ये अंतर इतना ज्यादा था कि उन्होंने ऐतिहासिक रूप से करीब 68 % के Margin से जीत हासिल की! लेकिन 3 साल बाद ही उन्होंने Resigned भी कर दिया! आपको बता दें कि अमिताभ ने अपने पुराने Family friend Rajiv Gandhi के सपोर्ट से राजनीति में पैर रखा था!

लेकिन क्या वजह थी कि अमिताभ ने 3 साल में ही अपने Political career को खत्म कर दिया! इस बारे में अमिताभ ने शेखर कपूर (Sekhar Kapoor) और बरखा दत्त (Barkha Dutt) को एक इंटरव्यू के दौरान बताया!

एक इंटरव्यू के दौरान बताया –

उन्होंने बताया कि एक राजनेता के तौर पर Election Campaign के दौरान आपको अपने लोगों से बहुत से वादे करने होते हैं, जो कि मैंने किये! लेकिन मुझे महसूस हुआ कि मैं उन वादों को पूरा नहीं कर पा रहा हूं! जो मैंने एलाहाबाद (Allahabad) के लोगों से किये थे! तो मुझे बुरा लगा और मैंने Resign कर दिया! उन्होंने ये भी बताया कि सिर्फ एक यही चीज है जिस मामले में एलाहाबाद (Allahbaad) के लोग मुझसे नाराज हों!

अमिताभ ने बताया कि उनका पॉलिटिक्स Join करना एक Emotional कदम था! लेकिन जब वो इसमें घुसे तब उन्हें पता लगा कि यहां (Politics) पर Emotion के लिये कोई जगह नहीं है!

लेकिन कुछ लोग उनके इस इस्तीफे की वजह कुछ और ही मानते हैं! दरअसल बोफोर्स विवाद (Bofors controversy) में उनके भाई का नाम अखबार में आ गया था! जिसके लिए Amitabh Bacchan को अदालत में जाना पड़ा! लेकिन इस मामले में Bacchan को दोषी नहीं पाया गया!

किसने की अमिताभ की बुरे वक़्त में मदद –

इसके बाद जब अमिताभ की Company ABCL फेल हो गयी! और अमिताभ आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे! तब उनके पुराने मित्र अमर सिंह (Amer singh) ने उनकी मदद की! इसके बाद से अमिताभ ने Amer singh की राजनीतिक पाटी समाजवादी पार्टी (SP Party) को सहयोग देना शुरू कर दिया! Jaya Bacchan ने सामाजवादी पार्टी की सदस्यता ले ली और राज्यसभा की सदस्य बन गयीं!

और देखे – Congress लालटेन लेकर विकास की चिड़िया ढूंढ रही है, आया चौंका देने वाला सच !

By dp

You missed