भोजपुरी इंडस्ट्री के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव आजकल काफी चर्चा में बने हुए हैं। हाल ही में एक्टर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो को देख लोग खेसारी पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया जा रहा है।

खेसारी लाल यादव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। जिसकी वजह से वह वह इन दिनों विवादों में घिरे हुए नजर आ रहे हैं। खेसारी लाल यादव पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया जा रहा है। जानिए क्या है पूरा मामला

बता दें कि विवाद बढ़ते हुए उन्होंने वायरल वीडियो के पीछे की सच्चाई सबके सामने बताई और इसके लिए उन्होंने माफी भी मांगी है। वायरल हो रहे वीडियो पर खेसारी लाल यादव ने कहा कि गलत इरादे से वीडियो को साझा किया जा रहा है। आप सभी को पूरा वीडियो देखने पर सच पता चल जाएगा। उन्होंने सभी से गुजारिश की है कि जब वह इस वीडियो से जुड़ी हुई फिल्म को देखेंगे तो पूरी सच्चाई को जान जाएंगे।

खेसारी लाल यादव का वायरल वीडियो :

दरअसल वायरल हो रहा यह वीडियो गोरखपुर के पिपराइच नगर पंचायत स्थित भगवान मोटेश्वर नाथ मंदिर का यह वीडियो है। सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि यह शूटिंग का एक वीडियो है। वायरल वीडियो में खेसारी लाल यादव जूता पहने हुए हैं और मंदिर के गेट पर लात मारते हैं। इसके साथ ही वह गेट खुल जाता है।

वायरल हो रहे इस वीडियो को लेकर खेसारी लाल यादव के खिलाफ शिकायत की गई है। विवादित मामला यहीं थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। जिसपर अब खेसारी ने अपने इस वीडियो पर सफाई देते हुए कहा कि किस तरह से उनके खिलाफ यह विवाद खड़ा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि “मेरा एक वीडियो वायरल हो रहा है जिनको भी बुरा लग रहा है मैं उनसे शमा प्रार्थी हूं लेकिन बुरा लगने वाली बात है नहीं क्योंकि हमारी फिल्म में यह डायलॉग है कि जूता खोलकर अंदर चलो” किसी ने दूसरे एंगल से वीडियो लेकर पोस्ट किया है।

भगवान और आस्था की समझ है हमें :

खेसारी ने आगे कहा कि, ‘मैं मुंबई छोड़कर यूपी अपने लोगों के लिए आता हूं कि हमारे लोगों को जितना रोजगार मिल सके वो अच्छा है। हमारी कोशिश ये है। उसको जो लोग गलत तरीके से ले रहे हैं प्लीज ऐसा मत करिए। आस्था हमें समझ आती है। आस्था का गरिमा क्या है समझ आता है।

हम कोई नादान नहीं है। ठीक है हम पढ़े लिखे नहीं हैं लेकिन समाज का मतलब क्या होता है जानते हैं, भगवान का मतलब जानते हैं। वो एक सिनेमा का सीन है कि हम गेट के अंदर जा रहे हैं। उसको अंदर से खींचने वाले लोग हैं। वो सिर्फ एक रोल है , ऐसा नहीं है कि आस्था को ठेस पहुंचाने के लिए किया है। जब आप फिल्म देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि ऐसा क्यों किया है।‘ खेसारी ने कहा की आप लोग ऐसा मत कीजिए गलत वीडियो को बढ़ावा मत दीजिए। उन्होंने बताया की उनका यह वीडियो गलत एंगल से लिया गया है।

 

 

You missed