इस लिए सनी ने कभी हेमा मालिनी को नहीं दिया अपनी माँ का दर्ज़ा

0
203

हेमा मालिनी इस वक़्त बीजेपी के टिकट पर उत्तर प्रदेश के मथुरा की सांसद हैं और सनी देओल जो की उनसे आठ साल छोटे हैं वह भी बीजेपी के टिकट पर पंजाब के गुरदासपुर के सांसद हैं. दोनों ही अपने-अपने समय में बॉलीवुड में बहुत बड़े स्टार हुआ करते थे और अब राजनीती में भी धीरे-धीरे यह अपने पाँव मजबूत कर रहें हैं.

आपको बता दें की सनी देओल धर्मेंद्र की पहली पत्नी प्रकाश कौर के बेटे हैं. हेमा मालिनी धर्मेंद्र की दूसरी पत्नी हैं और वह सनी से मात्र आठ साल बड़ी हैं. आज के समय में हेमा मालिनी 72 वर्ष की हैं और सनी देओल 64 वर्ष के हैं. लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो यह दोनों सांसद में एक ही पार्टी के चुने हुए प्रतिनिधि तो हैं लेकिन इन दोनों के रिश्तें कुछ ख़ास अच्छे नहीं हैं.

शुरू से ही सनी देओल हेमा मालिनी को अपनी माँ के रूप में स्वीकार नहीं करते थे और आज तक हेमा मालिनी भी सनी देओल के घर नहीं गई. यही नहीं ईशा देओल की शादी में हेमा मालिनी ने बॉबी देओल और सनी देओल दोनों को आमंत्रित किया था लेकिन शादी में दोनों में से किसी ने भी आना जरूरी नहीं समझा.

इससे पहले हिन्दू धर्म में मनाये जाते त्योहारों के दौरान फिर चाहे रक्षा बंधन हो या भाई दूज इनको कभी साथ में नहीं देखा गया. सुख में भले ही सनी देओल और बॉबी देओल अपनी सौतेली माँ के साथ न दिखे हों. लेकिन जब बात दुःख की आती है तो दोनों भाई कन्धे से कन्धा मिलाकर साथ खड़े हुए नज़र आये हैं.

ऐसा ही एक वाक्या तब देखने को मिला था जब 2015 में एक रात को हेमा मालिनी एक सड़क दुर्घटना में बहुत बुरी तरह से घायल हो गई थी. उस वक़्त सनी देओल अपने सभी गीले-शिकवे भुलाकर हेमा मालिनी के घर उनका हाल-चाल पूछने के लिए पहुंचे थे. इस बात का जिक्र कई बार हेमा मालिनी ने खुद अपने इंटरव्यूज में भी किया हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here