कंगना रनौत ने आमिर के तलाक पर पूछा गजब सवाल- आखिर क्यों किसी को मुस्लिम से शादी करने के लिए अपना धर्म बदलना पड़ता है?’

बॉलीवुड की बेहतरीन एक्ट्रेस और क्वीन कही जाने वाली कंगना रनौत (Kangna Ranaut) अपनी फिल्मों के अलावा सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं.कंगना रनौत सोशल मीडिया पर फिल्मों के अलावा समाज और राजनीतिक से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपना पक्ष रखती हैं और किसी से भी डरती नहीं है. अब कंगना रनौत ने आमिर खान और किरण राव के तलाक के जरिए मुस्लिम समुदाय को आड़े हाथों लिया है और सवाल उठाया है कि आखिर किसी महिला को मुस्लिम के साथ रहने के लिए मुस्लिम धर्म क्यों अपनाना पड़ता है. गौरतलब है कि कंगना ने इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक लंबा नोट शेयर करते हुए लिखा,'एक समय पर पंजाब में ज्यादातर परिवारों में अपने एक बेटे को हिंदू जबकि दूसरे बेटे को सिख बनाने का रिवाज था. ऐसा चलन हिंदुओ और मुस्लिम या सिख और मुस्लिम में देखने को नहीं मिला. आमिर खान सर के तलाक के बाद मुझे ताज्जुब हुआ कि अंतरधार्मिक विवाह में बच्चे हमेशा मुस्लिम ही क्यों बनते हैं. क्यों आखिर महिलाएं हिंदू नहीं बनी रह पाती हैं. वक्त बदलने के साथ हमें यह भी बदलना चाहिए. एक पुरानी और उल्टी प्रथा है. अगर एक परिवार में हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख, राधास्वामी और नास्तिक साथ रह सकते हैं तो मुस्लिम क्यों नहीं? आखिर क्यों किसी को मुस्लिम से शादी करने के लिए अपना धर्म बदलना पड़ता है?' हम बता दें आपको कि आमिर खान ने हाल ही में अपने फैंस को जानकारी दी कि उनका दूसरी पत्नी किरण राव से तलाक हो गया है. आमिर खान ने 2005 में किरण राव से शादी की थी और उनका एक बेटा आजाद है. इससे पहले आमिर खान ने 1986 में रीना दत्ता से शादी की थी जिनसे उनका तलाक 2002 में हो गया था. आमिर और रीना के दो बच्चे बेटा जुनैद और बेटी आइरा हैं. अब इस सवाल का जवाब आमिर खान कब तक देंगे यह तो उन पर ही निर्भर करता है परंतु यह सवाल पूछ कर कंगना राणावत ने निश्चित ही खतरा मोल ले लिया है.
 

कंगना रनौत ने आमिर के तलाक पर पूछा गजब सवाल- आखिर क्यों किसी को मुस्लिम से शादी करने के लिए अपना धर्म बदलना पड़ता है?’

बॉलीवुड की बेहतरीन एक्ट्रेस और क्वीन कही जाने वाली कंगना रनौत (Kangna Ranaut) अपनी फिल्मों के अलावा सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं.कंगना रनौत सोशल मीडिया पर फिल्मों के अलावा समाज और राजनीतिक से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपना पक्ष रखती हैं और किसी से भी डरती नहीं है. अब कंगना रनौत ने आमिर खान और किरण राव के तलाक के जरिए मुस्लिम समुदाय को आड़े हाथों लिया है और सवाल उठाया है कि आखिर किसी महिला को मुस्लिम के साथ रहने के लिए मुस्लिम धर्म क्यों अपनाना पड़ता है. गौरतलब है कि कंगना ने इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक लंबा नोट शेयर करते हुए लिखा,'एक समय पर पंजाब में ज्यादातर परिवारों में अपने एक बेटे को हिंदू जबकि दूसरे बेटे को सिख बनाने का रिवाज था. ऐसा चलन हिंदुओ और मुस्लिम या सिख और मुस्लिम में देखने को नहीं मिला. आमिर खान सर के तलाक के बाद मुझे ताज्जुब हुआ कि अंतरधार्मिक विवाह में बच्चे हमेशा मुस्लिम ही क्यों बनते हैं. क्यों आखिर महिलाएं हिंदू नहीं बनी रह पाती हैं. वक्त बदलने के साथ हमें यह भी बदलना चाहिए. एक पुरानी और उल्टी प्रथा है. अगर एक परिवार में हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख, राधास्वामी और नास्तिक साथ रह सकते हैं तो मुस्लिम क्यों नहीं? आखिर क्यों किसी को मुस्लिम से शादी करने के लिए अपना धर्म बदलना पड़ता है?' हम बता दें आपको कि आमिर खान ने हाल ही में अपने फैंस को जानकारी दी कि उनका दूसरी पत्नी किरण राव से तलाक हो गया है. आमिर खान ने 2005 में किरण राव से शादी की थी और उनका एक बेटा आजाद है. इससे पहले आमिर खान ने 1986 में रीना दत्ता से शादी की थी जिनसे उनका तलाक 2002 में हो गया था. आमिर और रीना के दो बच्चे बेटा जुनैद और बेटी आइरा हैं. अब इस सवाल का जवाब आमिर खान कब तक देंगे यह तो उन पर ही निर्भर करता है परंतु यह सवाल पूछ कर कंगना राणावत ने निश्चित ही खतरा मोल ले लिया है.