बड़ी जानकारी – आखिर क्यों डीजल इंजन को पटरियों पर बंद नहीं किया जाता..

Diesel engine nver turn off: 24 घंटे रेलवे के Diesel इंजन को on रखने के पीछे छिपा है यह राज दोस्तों आज जब सफर करने की बात आती हैं तो भारत जैसे शहर में यात्रा करने का अहम माध्यम indian railway बन गया है। लंबी दूरी का सफर तय करना हो या फिर आस पास का सफर rail की यात्रा सुखद मानी जाती है। Diesel engine nver turn off भारतीय रेलवे से जुड़ी एक रोचक जानकारी आज हम सभी आय दिन ही अपनी यात्रा के लिए railway से सफर करना मुनासिब समझते हैं, अपनी इस यात्रा के दौरान क्या आपने कभी गौर किया है कि कभी railway platform पर Diesel इंजन खत्म नहीं होता है ये हमेशा ही चालू स्थिति में होता है। या आपने कभी गौर किया कि आखिर ऐसा क्यों किया जाता है ? आखिर क्यों रेलवे में डीजल इंजन हमेशा रहता है ऑन दोस्तों जिस दौरान भी Diesel इंजन platform पर खड़ा रहता है तो वह चालू स्थिति में होता है। इसके पीछे एक मुख्य वजह है कि Diesel इंजन को बंद करने से ज्यादा चालू होने में समय लगता है। दोबारा चालू करने में ही लग जाती है ईंधन की इतनी खपत इसके साथ ही Diesel इंजन को चालू करने मे कम से कम 200 liter Diesel इंजन की आवश्यकता होती है। इतना तो ईंधन train 24 घंटे चालू रहने पर खर्च करती है। इससे साफ है कि ईंधन की खपत को बचाने के लिए ही इंजन को बंद नहीं किया जाता है। ईंधन के खर्चे को बचाने के लिए डील इंजन हमेशा रहता है ऑन यही इसके पीछे की मुख्य वजह है कि platform पर रहने के दौरान इस Diesel इंजन को बंद नहीं किया जाता है। तो दोस्तों हमारी यह खबर पढ़ने के बाद आपको यह जरुर पता चल गया होगा कि indian railway से जुड़ी इस चीज के पीछे असल कारण क्या है। अब किसी भी व्यक्ति की कॉल डिटेल निकालना हुआ आसान, बस फॉलो करने होंगे ये आसान स्टेप्स.. Follow @Indiavirals ? ------
 

Diesel engine nver turn off: 24 घंटे रेलवे के Diesel इंजन को on रखने के पीछे छिपा है यह राज दोस्तों आज जब सफर करने की बात आती हैं तो भारत जैसे शहर में यात्रा करने का अहम माध्यम indian railway बन गया है। लंबी दूरी का सफर तय करना हो या फिर आस पास का सफर rail की यात्रा सुखद मानी जाती है।

Diesel engine nver turn off

भारतीय रेलवे से जुड़ी एक रोचक जानकारी

आज हम सभी आय दिन ही अपनी यात्रा के लिए railway से सफर करना मुनासिब समझते हैं, अपनी इस यात्रा के दौरान क्या आपने कभी गौर किया है कि कभी railway platform पर Diesel इंजन खत्म नहीं होता है ये हमेशा ही चालू स्थिति में होता है। या आपने कभी गौर किया कि आखिर ऐसा क्यों किया जाता है ?

आखिर क्यों रेलवे में डीजल इंजन हमेशा रहता है ऑन

दोस्तों जिस दौरान भी Diesel इंजन platform पर खड़ा रहता है तो वह चालू स्थिति में होता है। इसके पीछे एक मुख्य वजह है कि Diesel इंजन को बंद करने से ज्यादा चालू होने में समय लगता है।

दोबारा चालू करने में ही लग जाती है ईंधन की इतनी खपत

बड़ी जानकारी – आखिर क्यों डीजल इंजन को पटरियों पर बंद नहीं किया जाता.. इसके साथ ही Diesel इंजन को चालू करने मे कम से कम 200 liter Diesel इंजन की आवश्यकता होती है। इतना तो ईंधन train 24 घंटे चालू रहने पर खर्च करती है। इससे साफ है कि ईंधन की खपत को बचाने के लिए ही इंजन को बंद नहीं किया जाता है।

ईंधन के खर्चे को बचाने के लिए डील इंजन हमेशा रहता है ऑन

यही इसके पीछे की मुख्य वजह है कि platform पर रहने के दौरान इस Diesel इंजन को बंद नहीं किया जाता है। तो दोस्तों हमारी यह खबर पढ़ने के बाद आपको यह जरुर पता चल गया होगा कि indian railway से जुड़ी इस चीज के पीछे असल कारण क्या है।

बड़ी जानकारी – आखिर क्यों डीजल इंजन को पटरियों पर बंद नहीं किया जाता..अब किसी भी व्यक्ति की कॉल डिटेल निकालना हुआ आसान, बस फॉलो करने होंगे ये आसान स्टेप्स..

------