अगर सचिन तेंदुलकर को चोट लग जाती तो भारत के लोग मुझे जिंदा जला देते: शोएब अख्तर

भारत एक ऐसा देश है जहां पर आकर हर कोई खुश हो जाता है और यही बात पाकिस्तान के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने भी कबूल की है उनका मानना है कि उनके लिए भारत का दौरा करना हमेशा से ही एक अच्छी बात नहीं है और उन्हें भारत में खेलता काफी अच्छा भी लगता है! इसमें पाकिस्तान टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर भी शामिल है जिन्होंने यह बात कही है! हाल ही में तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक इंटरव्यू के दौरान यह कहा कि साल 2007 में कुछ ऐसा हुआ था जिसके बाद से उनको शायद द्वारा भारतीय सरजमीं पर आने का मौका ही नहीं मिलता एक अवार्ड फंक्शन के दौरान भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी एक साथ बैठे हुए थे और मजाक में शोएब अख्तर ने सचिन को उठाने की कोशिश की थी हालांकि सचिन तेंदुलकर उस समय संयोग के हाथों से फिसल कर नीचे गिर गए थे! इस बारे में बात करते हुए शोएब अख्तर ने कहा था कि पाकिस्तान के बाद जिस देश में मुझे सबसे ज्यादा प्यार मिलता है वह भारत है जब भी मैंने भारत का दौरा किया है तब अपने साथ अच्छी यादों को लेकर ही साथ आया हूं साल 2007 में एक ऐसा वोट फंक्शन हुआ था जिस समय भारत दोनों टीमों के खिलाड़ी मौजूद थे! मैं हमेशा की तरह ही कुछ अलग करना चाहता था इसलिए मैंने मजाक में भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को उठाने की कोशिश कर डाली मैंने उनको उठा तो लिया लेकिन वह मेरे हाथों से फिसल गए! वहीं उन्होंने बात को आगे रखते हुए कहा कि जब वह नीचे गिर गए लेकिन ज्यादा बुरी तरीके से नहीं फिर मैंने सोचा कि मैं तो गया मुझे उस समय ऐसा लग रहा था कि यदि सचिन तेंदुलकर अनफिट या चोटिल हो जाते तो मुझे दोबारा कभी भी भारत का वीजा नहीं मिलता भारत के लोग मुझे कभी भी अपने देश में नहीं बुलाते और या मुझे जिंदा ही जला देते!
 

अगर सचिन तेंदुलकर को चोट लग जाती तो भारत के लोग मुझे जिंदा जला देते: शोएब अख्तर

भारत एक ऐसा देश है जहां पर आकर हर कोई खुश हो जाता है और यही बात पाकिस्तान के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने भी कबूल की है उनका मानना है कि उनके लिए भारत का दौरा करना हमेशा से ही एक अच्छी बात नहीं है और उन्हें भारत में खेलता काफी अच्छा भी लगता है! इसमें पाकिस्तान टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर भी शामिल है जिन्होंने यह बात कही है! हाल ही में तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक इंटरव्यू के दौरान यह कहा कि साल 2007 में कुछ ऐसा हुआ था जिसके बाद से उनको शायद द्वारा भारतीय सरजमीं पर आने का मौका ही नहीं मिलता एक अवार्ड फंक्शन के दौरान भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी एक साथ बैठे हुए थे और मजाक में शोएब अख्तर ने सचिन को उठाने की कोशिश की थी हालांकि सचिन तेंदुलकर उस समय संयोग के हाथों से फिसल कर नीचे गिर गए थे! इस बारे में बात करते हुए शोएब अख्तर ने कहा था कि पाकिस्तान के बाद जिस देश में मुझे सबसे ज्यादा प्यार मिलता है वह भारत है जब भी मैंने भारत का दौरा किया है तब अपने साथ अच्छी यादों को लेकर ही साथ आया हूं साल 2007 में एक ऐसा वोट फंक्शन हुआ था जिस समय भारत दोनों टीमों के खिलाड़ी मौजूद थे! मैं हमेशा की तरह ही कुछ अलग करना चाहता था इसलिए मैंने मजाक में भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को उठाने की कोशिश कर डाली मैंने उनको उठा तो लिया लेकिन वह मेरे हाथों से फिसल गए! वहीं उन्होंने बात को आगे रखते हुए कहा कि जब वह नीचे गिर गए लेकिन ज्यादा बुरी तरीके से नहीं फिर मैंने सोचा कि मैं तो गया मुझे उस समय ऐसा लग रहा था कि यदि सचिन तेंदुलकर अनफिट या चोटिल हो जाते तो मुझे दोबारा कभी भी भारत का वीजा नहीं मिलता भारत के लोग मुझे कभी भी अपने देश में नहीं बुलाते और या मुझे जिंदा ही जला देते!