चौटाला ने की पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बोलती बंद, दिया करारा जवाब

0
587
Chautala, former Chief Minister Bhupendra Singh Hooda, JJP, BJP, CONGRESS

हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी के गठबंधन से सरकार बन चुकी है! फिर से मनोहर लाल खट्टर प्रदेश के सीएम की शपथ ली और वही जेजेपी के दुष्यंत चौटाला को उपमुख्यमंत्री का पद दिया गया! दुष्यंत चौटाला को जब से उपमुख्यमंत्री का पद मिला है तभी से उन्होंने विपक्ष को चेता दिया है कि वर्तमान सरकार के बारे में फालतू की बातें करना बंद कर दे! चौटाला ने साफ लफ्जों में कहा है कि हरियाणा प्रदेश को एक स्थिर सरकार देने के लिए हम संकल्प ले चुके हैं!

दुष्यंत चौटाला का कहना है कि हम भाजपा के साथ मिलकर हरियाणा को आगे ले जाने का काम करेंगे! हरियाणा की तरक्की होगी! बता दें कि लोह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की 144 वी जयंती के मौके पर दुष्यंत चौटाला गुरुवार को सुबह देवीलाल स्टेडियम में आयोजित हुए रन फॉर यूनिटी दौड़ में शामिल होने आए थे!

दुष्यंत चौटाला ने साफ लफ्जो में कह दिया है कि विपक्ष जनता को सरकार के खिलाफ भड़काने की कोशिश कर रही है लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं होगा! उनका कहना है कि जेजेपी और बीजेपी मिलकर हरियाणा को प्रगति के मार्ग पर आगे लेकर जाएगी यह हमारा संकल्प है और इसे हम पूरा करके रहेंगे! दरअसल, चौटाला का यह बयान भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बयान का जवाब माना जा रहा है! भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रोहतक में कहा था कि यह सरकार 5 साल भी नहीं दिखने वाली है!

आपको बता दें कि नई सरकार के शपथ ग्रहण के बाद हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अपने रोहतक आवास पर मीडिया से बात की थी! उन्होंने कहा था कि वह चाहते हैं कि प्रदेश को स्थाई सरकार मिले और जो पूरे 5 साल तक चले! इसके बाद उन्होंने कहा कि जेजेपी और बीजेपी के विरोधाभास को देखते हुए हमें नहीं लगता कि यह सरकार अपना कार्यकाल पूरा कर पाएगी! एक सवाल के बाद भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जवाब देते हुए कहा कि जेजेपी को भाजपा के खिलाफ वोट मांगने पर वोट मिला था और ऐसे में यह जन भावना का अपमान है!

बता दें कि इससे पहले दुष्यंत चौटाला दिल्ली में भी नजर आए! जहां उन्होंने कई नेताओं से बातें की लेकिन उनकी सबसे खास मुलाकात अमित शाह के साथ रही! बताया जा रहा है कि अमित शाह से मिलने के बाद दुष्यंत चौटाला काफी उत्साहित है! इसके साथ साथ दुष्यंत चौटाला रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई बड़े नेताओं से भी मिली है!