बी एस येदियुरप्पा ने अपने कैबिनेट ने इन्हे मंत्री पद दिया, जोकि विधानसभा के आरोपी है

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने मंगलवार का कैबिनेट का विस्तार किया. उन्होंने 26 जुलाई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और उसके बाद से अकेले की काम कर रहे थे. उन्होंने अपने मंत्रिमंडल में 17 नए मंत्रियों का शामिल किया है.

0
164
Karnataka CM BS Yeddyurappa cabinet added 17 new ministers, Karnataka CM BS Yeddyurappa, karnataka cabinet added 17 new ministers, BS Yediyurappa, Karnataka Cabinet, Karnataka cabinet formation, BS Yediyurappa Cabinet, Karnataka cabinet, JDS, Congress, BJP

Karnataka CM BS Yeddyurappa cabinet added 17 new ministers: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने मंगलवार का कैबिनेट का विस्तार किया. उन्होंने 26 जुलाई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और उसके बाद से अकेले की काम कर रहे थे. उन्होंने अपने मंत्रिमंडल में 17 नए मंत्रियों का शामिल किया है. नए मंत्रिमंडल में दो ऐसे भी चेहरे हैं, जो विधानसभा में पोर्न वीडियो देखने के आरोपी रह चुके हैं.

साल 2012 के पोर्नगेट स्कैंडल में इस्तीफा देने वाले दो मंत्रियों लक्ष्मण सवदि और सीसी पाटिल को भी कैबिनेट में लिया गया है. सवदि वर्तमान में विधानसभा या विधान परिषद के सदस्य भी नहीं हैं. 2012 में इन दोनों सहित तीन मंत्री विधानसभा में मोबाइल पर पोर्न क्लिप देखते कैमरे में पकड़े गए थे और तीनों को इस्तीफा देना पड़ा था.

येदियुरप्पा के मंत्रिमंडल में पूर्व सीएम जगदीश शेट्टार और दो पूर्व डिप्टी सीएम केएस ईशवरप्पा और आर अशोक भी हैं. सीएम के अलावा 34 तक मंत्री कैबिनेट में शामिल किए जा सकते हैं. अभी 17 पद खाली रखे गए हैं.

मंत्रिमंडल में शामिल किए गए नए मंत्रियों में पूर्व मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार, दो पूर्व उप मुख्यमंत्री के. एस. ईश्वरप्पा, आर. अशोक, निर्दलीय विधायक एच. नागेश और लक्ष्मण सावदी (जो विधानसभा या परिषद के सदस्य नहीं हैं) और विधान पार्षद कोटा श्रीनिवास पुजारी शामिल हैं. राज्यपाल वजूभाई वाला ने राजभवन में नए मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई.

कब की है घटना

जब राज्य में बीजेपी की सरकार थी तो उस समय सरकार में मंत्री और भाजपा विधायक लक्ष्मण सावादी विधानसभा की कार्यवाही के दौरान मोबाइल फोन पर पोर्न देखते पकड़े गए थे. इस दौरान तत्कालीन सरकार में पर्यावरण मंत्री जे.कृष्णा पालेमर और महिला एवं बाल विकास मंत्री सीसी पाटिल भी लक्ष्मण सावदी के फोन में पोर्न देखने मशगूल थे. विधानसभा में उस वक्त सूखे के हालात पर चर्चा चल रही थी. इस दौरान विधानसभा की कार्यवाही कवर कर रहे मीडिया के कैमरों ने इन मंत्रियों को पोर्न देखते रंगे हाथ पकड़ा था.

इस घटना के मीडिया में आने के बाद काफी हंगामा हुआ था. विपक्षी पार्टियों ने आरोपी नेताओं के इस्तीफे की भी मांग की थी. हालांकि अपने बचान में मंत्री लक्ष्मण सावादी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि ‘मिस्टर पाले,मार मुझे पश्चिमी देश में हुए एक महिला के गैंगरेप की वीडियो दिखा रहे थे, जिसे ब्लू फिल्म समझ लिया गया, वह ब्लू फिल्म नहीं थी.’