इजरायल: अब नहीं रुकेंगे जब तक दुश्मन पूरी तरीके से शांत नहीं हो जाता, अब लंबा जुगाड़ करके रहेंगे

0
1738

इज़राइल और फिलिस्तीन के बीच तनाव के हफ्तों ने अब हिंसक रूप ले लिया है। हमास, जिसे इज़राइल (फिलिस्तीन में एक आतंकवादी संगठन माना जाता है) ने इजरायल पर लगभग 3,000 रॉकेट दागे हैं। इस हमले के बाद, इजरायल ने अपनी सबसे शक्तिशाली वायु सेना को युद्ध के मैदान में उतारा, जिससे फिलिस्तीन में भारी विनाश हुआ। इजरायल और फिलिस्तीन के बीच हुए इस युद्ध में अब तक 6 इजरायली और 53 फिलिस्तीनी नागरिकों की मौत हो चुकी है, जिसमें एक भारतीय महिला भी शामिल है।

पिछले कई दिनों से इजरायल और फिलिस्तीन के बीच जिस तरह की स्थिति है, उसे देखते हुए यह कहा जा रहा है कि खतरा और भी बढ़ सकता है। इजरायल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्स ने बुधवार शाम को कहा – हमारी सेना अब गाजा पट्टी और फिलिस्तीन पर हमलों को नहीं रोकेगी। हमारी सेना तब तक नहीं रुकेगी जब तक कि दुश्मन पूरी तरह से शांत नहीं हो जाता। शत्रु के पूर्ण खात्मे के बाद ही शांति बहाली पर कोई बात होगी।

इजरायल के रक्षा मंत्री ने जिस तरह का बयान दिया है, उससे लगता है कि इजरायल लंबे समय तक शांति बनाए रखने के लिए उपाय करना जारी रखेगा। रक्षा मंत्री ने अपने बयान में कहा कि हमने 6 हमास कमांडरों को मार दिया है और बड़ी संख्या में इमारतें, कारखाने और सुरंगें स्थापित की गई हैं। इजरायली सेना के प्रवक्ता की ओर से कहा गया है कि यह तय किया जाना चाहिए कि हमारे सैन्य अधिकारी और जवान अब किसी भी युद्धविराम के पक्ष में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि फिलिस्तीन ने जिस तरह की स्थिति पैदा की है उसे देखने के बाद अब हमें लंबे समय तक इसका समाधान खोजना होगा.

वहीं, हमास के नेता हनिया ने कहा है कि अगर इजरायल युद्ध को बढ़ाना चाहता है, तो हम इसके लिए तैयार हैं। इजरायल ने जिस तरह से हमला किया है, उसके बाद हम रुकने के लिए तैयार नहीं हैं। खास बात यह है कि वर्ष 2014 के बाद दोनों ओर से सबसे घातक कार्रवाई की गई है। अंतरराष्ट्रीय समुदाय भी लगातार बढ़ रहे इस जमीनी संघर्ष से चिंतित है। कई देशों ने जारी हिंसा को रोकने के लिए कहा है। इदाहो के इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि हमास ने यरुशलम में रॉकेट दागकर ‘सीमा पार कर ली है।’ साथ ही उन्होंने हमास पर हमले बढ़ाने की बात कही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here