महिला एकल टेबल टेनिस में बत्रा की एक और जीत, ओलंपिक में भारतीयों की मेडल की आस और मजबूत

0
90
another-victory-for-batra-in-womens-singles-table-tennis-and-the-hopes-of-indians-getting-stronger-in-the-olympics

Another victory for Batra in women’s singles table tennis : टोक्यो ओलंपिक (Olyampic) के तीसरे दिन यानी आज 25 जुलाई को भारत की एक नंबर की तथा विश्व की 63वे नंबर की 26 वर्षीय महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा का एकल टेबल टेनिस के दूसरे दौर के मैच में ग्रुप यूक्रेन की मार्गरीटा पेसोत्स्का से मुकाबला था. बत्रा ने पहले दौर के मैच में भी शानदार फॉर्म में थी उन्होंने ग्रेट ब्रिटेन की ही टिन-टिन को सीधे गेम में 4-0 से पराजित किया था.

अपने इस शानदार फॉर्म को बरकरार रखते हुए उन्होंने आज के मैच में यूक्रेन की मार्गरीटा को खिलाफ शानदार प्रदर्शन करते हुए छठे गेम में लगातार अंक हासिल करते हुए 11-05 से पराजित कर मैच अपने नाम किया तथा तीसरे दौर में प्रवेश किया.

हालांकि यह मैच पहले दौर के मैच इतना सरल नहीं था क्योंकि ब्रिटेन की मार्गरीटा ने पांचवें गेम तक उन्हें कड़ी टक्कर दी. मनिका बत्रा की शुरुआत खराब रही तथा उन्हें पहले गेम में ही 4-11 से पराजय मिली और दूसरे गेम भी वह मार्गरीटा के खिलाफ सिर्फ 5 मिनट में गंवा दिया हालांकि वापसी करते हुए उन्होंने तीसरा गेम जीत लिया और चौथे गेम में भी मार्गरीटा को 12-0 से पराजित किया.

पांचवें गेम में मार्गरीटा ने शानदार वापसी करते हुए आक्रामक खेल दिखाया और पांचवा गेम 11-8 से जीत लिया. छठे गेम में मनिका बत्रा ने दमदार प्रदर्शन किया तथा गेम अपने नाम करते हुए मैच भी अपने नाम कर लिया.

इसी के साथ उन्होंने तीसरे दौर में जगह पक्की करते हुए टोक्यो ओलंपिक के महिला एकल टेबल टेनिस वर्ग में भारतीयों के मेडल की आस जीवंत रखा. बत्रा ने पहले भी कॉमनवेल्थ गेम 2018 के मिक्स डबल्स तथा महिला सिंगल मुकाबले में मेडल जीता है एवं 2018 एशियन गेम्स के मिक्स डबल मे देश का नाम रोशन करते हुए मेडल जीता है. इन्हें राजीव गांधी खेल रत्न और अर्जुन अवॉर्ड (Arjun Award) से भी नवाजा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here