जावेद अख्तर ने शाहजहां बताया राजपूत का बेटा! देखें लोगो ने कैसे लगाई क्लास

0
76
indiavirals

Shahjahan was the son of a rajput mother but people consider him a foreigner javed akhtar read now: बॉलीवुड संगीतकार जावेद अख्तर रोज कुछ ना कुछ ऐसा बयान देते रहते हैं जिसके चलते वो हमेसा सुर्ख़ियों में बने रहते हैं। जावेद अख्तर (Javed Akhtar) अपने बेबाक खासे अंदाज के लिए भी जाने जाते है। जावेद देश से जुड़े कई मुद्दों पर बहुत ही बेबाकी से अपनी बातों को रखते रहे है। उनके विचार भी ऐसे होते हैं जिसे सुनकर आप हँसी रोक नहीं पाएंगे। कुछ लोग उनकी सराहना भी करते हैं तो वहीं कुछ लोग उनके बारे में तरह तरह की बातें भी करते हैं। संगीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ज्यादातर राजनीतिक मुद्दों पर खुलकर अपनी राय देते हैं। बीते दिनों उन्होंने कुछ ऐसा बयान दे दिया है जिसे लेकर सोशल मीडिया यूजर (Social Media User) उन्हें आड़े हाथ ले लिया । जावेद ने शाहजहां को राजपूत माँ का बेटा बता दिया, जानिए कैसे।

Jawed Akhtar

जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में उन्होंने शाहजहां में 75% राजपूत खू न बता दिया है। उदाहरण के तौर पे उन्होंने अपनी बात रखते हुए अमेरिका (America) के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा को भी घसीट लिया। जावेद अख्तर अपने ट्वीट में लिखते हैं कि “ओबामा के पिता केन्याई थे, उनकी मौसी अभी भी केन्या में रहती हैं, लेकिन ओबामा का जन्म अमेरिका में होने के वजह से उन्हें अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव ल ड़ने का अधिकार मिला था। भारत में शाहजहाँ 5 वें पीढ़ी की पैदाइश थे। उनकी दादी और माँ राजपूतनी थीं

यूजर्स दे रहे जवाब

Tweet

अनुपम सिंह नाम के ट्विटर यूजर जावेद अख्तर (Javed Akhtar) को पेलते हुए लिखते हैं कि ” क्या ओबामा ने अमरीका में किसी चर्च को कुछ किया? या उसने ईसाइयों के साथ कुछ गलत किया? यदि वास्तव में, वह एक धर्मनिष्ठ ईसाई है। आपके पूर्वज शाहजहां भी मुस लमान थे। उसने 1635 में ओरछा के महान मंदिर को न ष्ट कर दिया। उनके कहने पर वाराणसी में 76 हिंदू मंदिरों को नष्ट कर दिया गया था। ऐसा बादशाहनामा में भी लिखा है।”

kalpana

वही कल्पना नाम की एक अन्य ट्विटर यूजर जावेद अख्तर (Javed Akhtar) को जवाब देते हैं हुए लिखती है कि “उन्होंने उस देश के लिए कभी कुछ गलत नहीं किया और यहां भी उन्हें चुनाव में उतरने का अधिकार है। आप दो अलग-अलग चीजों की तुलना क्यों कर रहे हैं? इसलिए 75% खू न से क्या इनके राजपूत नाम भी हैं? आप जैसे लोग देश में कभी भी वास्तविक सद्भाव नहीं चाहते।”

 

लगातार Indiavirals खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here