अमित शाह ने लगाया नेहरू पर आरोप क्यों लगा दिया था युद्धविराम और यूएन में

दिल्ली, इंडियावायरलस: भारत की राजनीति में एक बार फिर कांग्रेस और भाजपा आमने-सामने है, क्योकि चुनाव है तो माहौल तो गर्म होना लाज़मी है! इस गर्मागर्मी में भाजपा के गृहमंत्री अमित शाह ने देश के पहले प्रधानमंत्री और कांग्रेस के लीडर जवाहर लाल नेहरू पर निशाना साधा है! कांग्रेस को कश्मीर मुद्दे पर चपेट में लिया है! बीजेपी के अमित शाह ने कांग्रेस के सबसे ख्याति प्राप्त नेता नेहरू को कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र में ले जाना उनके जीवन की सबसे बड़ा गलत निर्णय बताया है! मोदी सरकार में गृह मंत्री अमित शाह ने जवाहर लाल नेहरू को आड़े हाथ लिया! उन्होंने नई दिल्ली में कहा कि नेहरू गलत चार्टर के साथ संयुक्त राष्ट गए थे! उन्होंने कहा देश के पहले पीएम को यूएन में घुश्पेठ चार्टर के साथ जाना चाहिए था! इसके साथ साथ अमित शाह ने यह भी प्रश्न उठा दिया कि जब हमारी सेना जीत रही थी! तो क्यों युद्धविराम लगाया? इसके साथ साथ बड़ा सियासी दांव पेंच खेलते हुए अमित शाह ने नेहरू पर बड़ा आरोप भी लगा दिया! उन्होंने नेहरू पर परोक्ष रूप से इतिहास अपने हिसाब से लिखने का आरोप लगा दिया! गृह मंत्री बोले कि जिन लोगों ने गलतियां की उन्हीं के हाथों में इतिहास लेखन भी रहा! इस कारण हम लोगों को सही तथ्य पता नहीं लग सके! हालांकि वो बोले कि उनको लगता है अब समय आ गया है कि सही इतिहास लोगों तक पहुंचे! [embed]https://www.youtube.com/watch?v=ftibZyGrqe4[/embed]
 

अमित शाह ने लगाया नेहरू पर आरोप क्यों लगा दिया था युद्धविराम और यूएन में

दिल्ली, इंडियावायरलस: भारत की राजनीति में एक बार फिर कांग्रेस और भाजपा आमने-सामने है, क्योकि चुनाव है तो माहौल तो गर्म होना लाज़मी है! इस गर्मागर्मी में भाजपा के गृहमंत्री अमित शाह ने देश के पहले प्रधानमंत्री और कांग्रेस के लीडर जवाहर लाल नेहरू पर निशाना साधा है! कांग्रेस को कश्मीर मुद्दे पर चपेट में लिया है! बीजेपी के अमित शाह ने कांग्रेस के सबसे ख्याति प्राप्त नेता नेहरू को कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र में ले जाना उनके जीवन की सबसे बड़ा गलत निर्णय बताया है! मोदी सरकार में गृह मंत्री अमित शाह ने जवाहर लाल नेहरू को आड़े हाथ लिया! उन्होंने नई दिल्ली में कहा कि नेहरू गलत चार्टर के साथ संयुक्त राष्ट गए थे! उन्होंने कहा देश के पहले पीएम को यूएन में घुश्पेठ चार्टर के साथ जाना चाहिए था! इसके साथ साथ अमित शाह ने यह भी प्रश्न उठा दिया कि जब हमारी सेना जीत रही थी! तो क्यों युद्धविराम लगाया? इसके साथ साथ बड़ा सियासी दांव पेंच खेलते हुए अमित शाह ने नेहरू पर बड़ा आरोप भी लगा दिया! उन्होंने नेहरू पर परोक्ष रूप से इतिहास अपने हिसाब से लिखने का आरोप लगा दिया! गृह मंत्री बोले कि जिन लोगों ने गलतियां की उन्हीं के हाथों में इतिहास लेखन भी रहा! इस कारण हम लोगों को सही तथ्य पता नहीं लग सके! हालांकि वो बोले कि उनको लगता है अब समय आ गया है कि सही इतिहास लोगों तक पहुंचे! [embed]https://www.youtube.com/watch?v=ftibZyGrqe4[/embed]