कांग्रेस ने अभियान के नाम हड़प लिए करोड़ों, खुला राज तो अध्यक्ष समेत 4 लोगो पर

0
15

राजस्थान जोधपुर के भोपालगढ़ थाने में यूथ कांग्रेस के राष्ट्रिय अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास समेत चार पदाधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया गया है। रामचंद्र जलवानिया की तरफ से दर्ज एक एफआईआर करि गई थी वो श्रीनिवास के साथ यूथ कांग्रेस के राष्ट्रिय प्रभारी कृष्ण अलवारु, तरुण त्यागी और यूथ कांग्रेस चुनाव के प्रदेश रिटर्निंग ऑफिसर रहे जगदीश संधू के खिलाफ भी केस दर्ज़ कराया गया है।

जानकारी के हिसाब से भोपालगढ़ थाने में 4 जून, 2020 को रामचंद्र जलवानिया की तरफ से जो एफआईआर कराई थी उसमे वो चारो पदाधिकारियों की बातो में आकर पुरे प्रदेश में युवाओ ने 5 लाख सदस्य बनाये है। इतना ही नहीं सदस्यों के करीब 6 करोड़ 25 लाख रूपये प्राप्त भी किये गए है।

थाना प्रभारी राजेन्द्रे खदाव ने बोला कि कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने राष्ट्रिय यूथ कांग्रेस की कार्यकारिणी के पदाधिकारियों पर रुपये हड़पने का आरोप लगाकर मामला दर्ज़ करके मामले की जाँच शुरू कर दी है।

जानकारी के हिसाब से 22 और 23 फरवरी को हुए ऑनलाइन चुनाव के बाद 3 मार्च को वो लोग इसका परिणाम एक महीने बाद मतलब 7 अप्रैल को ही बदल दिए थे। इसमें पहले अध्यक्ष पद पर सुमित भगासरा को 46304 वोट और मुकेश बहकर को 23349 वोट और अमर दिन फकीर को 16720 वोट प्राप्त हुए थे, लेकिन उसके बाद वो वर्तमान में विधायक मुकेश बहकर को विजयी घोषित कर दिया गया है।

इसमें चौकाने वाली बात ये है कि चुनावी परिणामो के 35 दिन बाद ही बदल दिए गए थे। वैसे तो कांग्रेस के विधायक और जो इस चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष के पद सुमित भगासरा से शिकस्त खाने वाले मुकेश भाकर ने ही वोटिंग में हैकिंग का दवा किया है।

अब विधायक के इन सारे दावों के बाद यूथ कांग्रेस के चुनावी नतीजे भी थोड़े से बदल दिए गए है। अब 35 दिन तक यूथ कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रह चुके है जो सुमित, उनको इस संगठन से हटा दिया गया है और उनकी जगह अब मुकेश भाकर को विजयी घोषित कर दिया गया है।