Unlock 5 की Guideline 30 नवंबर तक बढ़ी, जाने क्या फिर से आ रहा है संकट

पिछले महीने जारी की गयी Unlock 5 की Guideline को नवंबर के अंत तक के लिए आगे बढ़ा दिया हैं. जबकि यह 31 अक्टूबर को ख़त्म होने वाली थी, सरकार ने इस Guideline के साथ ही कहा है की कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन भी 30 नवंबर तक जारी रहेगा. भारत के गृहमंत्रालय की तरफ से आए ब्यान में कहा गया हैं की, "MHA ने आज ऑर्डर जारी किया है, जिसके तहत 30 सितंबर को जारी गईं गाइडलाइंस 30 नवंबर तक प्रभावी रहेंगी. वहीं, 30 नवंबर, 2020 तक कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जाएगा." नागरिकों को राहत देते हुए गृह मंत्रालय ने कहा है की, अब किसी नागरिक को एक से दूसरे प्रदेश में जाने के लिए किसी पास की जरूरत नहीं होगी. किसी सामान को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के लिए भी किसी प्रकार की रोक नहीं होगी. हालाँकि कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन की वजह आप उस एरिया में जाने से परहेज़ करें. स्कूल, कॉलेज और ट्यूशन सेंटर्स खोलने को लेकर सरकार ने कहा है की 15 अक्टूबर के बाद हम पहले ही इसकी Guideline जारी कर चुके हैं. इस Guideline के अनुसार राज्य सरकार के पास यह अधिकार होगा की वह अपने राज्य के हालातों को देखते हुए स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर को खोलने की अनुमति देते हैं या नहीं. इसके इलावा अनुमति देने के बाद स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर्स को बच्चों के माँ बाप से एक सेल्फ डेक्लरेशन फॉर्म साइन करवाना अनिवार्य होगा. जिसमें यह लिखा होगा की हम अपनी मर्ज़ी से अपने बच्चों को स्कूल/कॉलेज/कोचिंग सेंटर्स भेज रहें हैं. अगर भविष्य में इन्हें कोरोना जैसी या अन्य बिमारी होती है उसका जिम्मेदार स्कूल नहीं बल्कि वह खुद होंगे. इस फॉर्म साइन करवाए जाने के बाद ही माँ बाप अपने बच्चों को स्कूल/कॉलेज/कोचिंग के लिए भेज सकेंगे. नहीं तो अभी फिलहाल से जिस प्रकार से ऑनलाइन/डिस्टेंस लर्निंग चल रही हैं. उसी प्रकार से यह आगे भी चलती रहेगी. ऐसे में सवाल यह भी उठता हैं की भारत में 2021 मार्च के महीने में अगली क्लास के लिए पेपर होंगे भी या नहीं?
 

Unlock 5 की Guideline 30 नवंबर तक बढ़ी, जाने क्या फिर से आ रहा है संकट

पिछले महीने जारी की गयी Unlock 5 की Guideline को नवंबर के अंत तक के लिए आगे बढ़ा दिया हैं. जबकि यह 31 अक्टूबर को ख़त्म होने वाली थी, सरकार ने इस Guideline के साथ ही कहा है की कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन भी 30 नवंबर तक जारी रहेगा. Unlock 5 की Guideline 30 नवंबर तक बढ़ी, जाने क्या फिर से आ रहा है संकट भारत के गृहमंत्रालय की तरफ से आए ब्यान में कहा गया हैं की, "MHA ने आज ऑर्डर जारी किया है, जिसके तहत 30 सितंबर को जारी गईं गाइडलाइंस 30 नवंबर तक प्रभावी रहेंगी. वहीं, 30 नवंबर, 2020 तक कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जाएगा." नागरिकों को राहत देते हुए गृह मंत्रालय ने कहा है की, अब किसी नागरिक को एक से दूसरे प्रदेश में जाने के लिए किसी पास की जरूरत नहीं होगी. किसी सामान को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के लिए भी किसी प्रकार की रोक नहीं होगी. हालाँकि कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन की वजह आप उस एरिया में जाने से परहेज़ करें. स्कूल, कॉलेज और ट्यूशन सेंटर्स खोलने को लेकर सरकार ने कहा है की 15 अक्टूबर के बाद हम पहले ही इसकी Guideline जारी कर चुके हैं. इस Guideline के अनुसार राज्य सरकार के पास यह अधिकार होगा की वह अपने राज्य के हालातों को देखते हुए स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर को खोलने की अनुमति देते हैं या नहीं. इसके इलावा अनुमति देने के बाद स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर्स को बच्चों के माँ बाप से एक सेल्फ डेक्लरेशन फॉर्म साइन करवाना अनिवार्य होगा. जिसमें यह लिखा होगा की हम अपनी मर्ज़ी से अपने बच्चों को स्कूल/कॉलेज/कोचिंग सेंटर्स भेज रहें हैं. अगर भविष्य में इन्हें कोरोना जैसी या अन्य बिमारी होती है उसका जिम्मेदार स्कूल नहीं बल्कि वह खुद होंगे. Unlock 5 की Guideline 30 नवंबर तक बढ़ी, जाने क्या फिर से आ रहा है संकट इस फॉर्म साइन करवाए जाने के बाद ही माँ बाप अपने बच्चों को स्कूल/कॉलेज/कोचिंग के लिए भेज सकेंगे. नहीं तो अभी फिलहाल से जिस प्रकार से ऑनलाइन/डिस्टेंस लर्निंग चल रही हैं. उसी प्रकार से यह आगे भी चलती रहेगी. ऐसे में सवाल यह भी उठता हैं की भारत में 2021 मार्च के महीने में अगली क्लास के लिए पेपर होंगे भी या नहीं?