अपना 1st Independence Day भारत ने ऐसे मनाया था, तस्वीरों से समझिये

India celebrated its 1st Independence Day like this: 15 अगस्त 1947, भारत के इतिहास का वह सबसे खूबसूरत दिन जिस दिन भारत को अंग्रेजों के शासन से पूरी तरह से आजादी मिल गई थी. देश में चारों तरफ जश्न ही जश्न का माहौल था, अब सब खुली हवा में बिना किसी डर के सांस ले सकते थे. जब 14 अगस्त की देर रात पंडित जवाहर लाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) ने देश के आजादी की घोषणा की तो पूरे देश में आजादी की लहर दौड़ गई और लोग होली और दिवाली साथ में मनाने लगे. अगली सुबह, सूरज की किरणें चारों तरफ आजादी का आनंद लेकर आई थीं. प्रतिवर्ष इस दिन भारत के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से देश को सम्बोधित करते हैं. 15 अगस्त 1947 के दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने, दिल्ली में लाल किले (Red Fort) के लाहौरी गेट के ऊपर, भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया था. इसी दिन हमने वर्षों की गुलामी की जंजीरों को तोड़कर स्वतंत्रता की नई सांस ली थी. इसी दिन हमारे बलिदानों का कर्ज उतरा था. लालकिले पर इस जश्न में शामिल होने के लिए हजारों की भीड़ जुटी. पंडित नेहरू ने देशवासियों को आजादी दिवस के मौके पर संबोधित किया. माउंटबेटन ने 15 अगस्त 1947 को भारत के स्वतंत्रता के तारीख की पुष्टि की. जैसे ही यह घोषणा की गई, ब्रिटिश सैनिकों को उनके बैरकों में वापस ले लिया गया था. तस्वीर में पंडित नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना (Mohammad Ali Jinnah) मौजूद हैं. 15 अगस्त 1947 को आयोजित संविधान सभा में स्वतंत्रता दिवस सत्र दौरान ली गई एक तस्वीर. यह सभा आजादी की उमंग को दोगुनी करने वाली थी. 15 अगस्त, 1947 को स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान इंडिया गेट, नई दिल्ली पर खड़ी रॉयल इंडियन नेवी की एक टुकड़ी. 15 अगस्त, 1947 को को न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में स्वतंत्र भारत का झंडा फहराया गया. भारत के आजादी की जश्न मनाया जा रहा था.
 

अपना 1st Independence Day भारत ने ऐसे मनाया था, तस्वीरों से समझिये

India celebrated its 1st Independence Day like this: 15 अगस्त 1947, भारत के इतिहास का वह सबसे खूबसूरत दिन जिस दिन भारत को अंग्रेजों के शासन  से पूरी तरह से आजादी मिल गई थी. देश में चारों तरफ जश्न ही जश्न का माहौल था, अब सब खुली हवा में बिना किसी डर के सांस ले सकते थे. जब 14 अगस्त की देर रात पंडित जवाहर लाल नेहरू ( Jawaharlal Nehru) ने देश के आजादी की घोषणा की तो पूरे देश में आजादी की लहर दौड़ गई और लोग होली और दिवाली साथ में मनाने लगे. अगली सुबह, सूरज की किरणें चारों तरफ आजादी का आनंद लेकर आई थीं. प्रतिवर्ष इस दिन भारत के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से देश को सम्बोधित करते हैं. 15 अगस्त 1947 के दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने, दिल्ली में लाल किले ( Red Fort) के लाहौरी गेट के ऊपर, भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया था. इसी दिन हमने वर्षों की गुलामी की जंजीरों को तोड़कर स्वतंत्रता की नई सांस ली थी. इसी दिन हमारे बलिदानों का कर्ज उतरा था. लालकिले पर इस जश्न में शामिल होने के लिए हजारों की भीड़ जुटी. पंडित नेहरू ने देशवासियों को आजादी दिवस के मौके पर संबोधित किया. अपना 1st Independence Day भारत ने ऐसे मनाया था, तस्वीरों से समझिये माउंटबेटन ने 15 अगस्त 1947 को भारत के स्वतंत्रता के तारीख की पुष्टि की. जैसे ही यह घोषणा की गई, ब्रिटिश सैनिकों को उनके बैरकों में वापस ले लिया गया था. तस्वीर में पंडित नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना ( Mohammad Ali Jinnah) मौजूद हैं. अपना 1st Independence Day भारत ने ऐसे मनाया था, तस्वीरों से समझिये 15 अगस्त 1947 को आयोजित संविधान सभा में स्वतंत्रता दिवस सत्र दौरान ली गई एक तस्वीर. यह सभा आजादी की उमंग को दोगुनी करने वाली थी. अपना 1st Independence Day भारत ने ऐसे मनाया था, तस्वीरों से समझिये 15 अगस्त, 1947 को स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान इंडिया गेट, नई दिल्ली पर खड़ी रॉयल इंडियन नेवी की एक टुकड़ी. अपना 1st Independence Day भारत ने ऐसे मनाया था, तस्वीरों से समझिये 15 अगस्त, 1947 को को न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में स्वतंत्र भारत का झंडा फहराया गया. भारत के आजादी की जश्न मनाया जा रहा था.