इसरो ने फिर रचा इतिहास, EMISAT के साथ 28 उपग्रह लॉन्च, जिसमे अमरीका के भी …

ISRO C-45 Rocket Launch: हेलो दोस्तों, भारत ने हाल ही में अंतरिक्ष में बड़ा करनामा किया है! जोकि DRDO की तरफ से हुआ था! लेकिन इस बार भारत की स्पेस एजेंसी ने करनामा किया है! जी हां हम बात कर रहे ISRO की! ISRO यानि इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन ने PSLV C-45 राकेट को स्पेस का रास्ता दिखाया! ISRO ने ये बड़ा कारनामा सोमवार यानी आज सुबह 9:27 पर किया! ISRO C-45 Rocket Launch - [embed]https://twitter.com/V_Anawalikar/status/1112569723835711488[/embed] आपकी जानकारी के लिए बता दे ये सैटेलाइट इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस है! और जो 28 विदेशी सैटलाइट्स को कक्षा में स्थापित करेगा! आपको बता दे कि इनमे अमरीका की भी 24 सैटेलाइट है! PSLV C-45 ने इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट (EMISAT) को सन सिंक्रोनस पोलर ऑर्बिट में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित कर दिया है! अब PSLV C-45 अन्य 28 सैटलाइट्स को प्रक्षेपित करने के लिए आगे बढ़ चुका है! इस मिशन की कुछ खास बाते [embed]https://twitter.com/ChowkidarVamsi/status/1112586853792669697[/embed] आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ये सैटेलाइट तीन अलग-अलग कक्षाओं में सैटेलाइट स्थापित करेगा! बताया जा रहा है इस सैटेलाइट से DRDO के डिफेंस सिस्टम को भी इससे मदद मिलेगी! ये सैटेलाइट टोटल 28 सैटेलाइट को स्थापित करेगा! जिनमे 24 अमरीका, 1 स्पेन, 1 लिथुआनिया और 1 स्विट्जरलैंड की सैटेलाइट है जिन्हे ये स्थापित करेगा! आपको बता दे कि इस मिशन को पूरा होने में करीब 3 घंटे का समय लगेगा! ISRO की बड़ी उपलब्धियों में से एक है! 47वा PSLV प्रोग्राम है ये ISRO का! जिसके माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट को लॉन्च किया गया! आपको बता दे कि C-45 राकेट स्पेस में 749 KM की कक्षा में इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट को स्थापित करेगा! जिसमे 504 KM ऑर्बिट पर और 28 सैटेलाइट को स्थापित करना है! आपको बता दे इस मिशन को पूरा करने के लिए ISRO और DRDO ने साथ में काम किया है!
 

इसरो ने फिर रचा इतिहास, EMISAT के साथ 28 उपग्रह लॉन्च, जिसमे अमरीका के भी …

ISRO C-45 Rocket Launch: हेलो दोस्तों, भारत ने हाल ही में अंतरिक्ष में बड़ा करनामा किया है! जोकि DRDO की तरफ से हुआ था! लेकिन इस बार भारत की स्पेस एजेंसी ने करनामा किया है! जी हां हम बात कर रहे ISRO की! ISRO यानि इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन ने PSLV C-45 राकेट को स्पेस का रास्ता दिखाया! ISRO ने ये बड़ा कारनामा सोमवार यानी आज सुबह 9:27 पर किया!

ISRO C-45 Rocket Launch -

[embed]https://twitter.com/V_Anawalikar/status/1112569723835711488[/embed] आपकी जानकारी के लिए बता दे ये सैटेलाइट इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस है! और जो 28 विदेशी सैटलाइट्स को कक्षा में स्थापित करेगा! आपको बता दे कि इनमे अमरीका की भी 24 सैटेलाइट है! PSLV C-45 ने इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट (EMISAT) को सन सिंक्रोनस पोलर ऑर्बिट में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित कर दिया है! अब PSLV C-45 अन्य 28 सैटलाइट्स को प्रक्षेपित करने के लिए आगे बढ़ चुका है!

इस मिशन की कुछ खास बाते

[embed]https://twitter.com/ChowkidarVamsi/status/1112586853792669697[/embed] आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ये सैटेलाइट तीन अलग-अलग कक्षाओं में सैटेलाइट स्थापित करेगा! बताया जा रहा है इस सैटेलाइट से DRDO के डिफेंस सिस्टम को भी इससे मदद मिलेगी! ये सैटेलाइट टोटल 28 सैटेलाइट को स्थापित करेगा! जिनमे 24 अमरीका, 1 स्पेन, 1 लिथुआनिया और 1 स्विट्जरलैंड की सैटेलाइट है जिन्हे ये स्थापित करेगा! आपको बता दे कि इस मिशन को पूरा होने में करीब 3 घंटे का समय लगेगा! ISRO की बड़ी उपलब्धियों में से एक है! 47वा PSLV प्रोग्राम है ये ISRO का! जिसके माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट को लॉन्च किया गया! आपको बता दे कि C-45 राकेट स्पेस में 749 KM की कक्षा में इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट को स्थापित करेगा! जिसमे 504 KM ऑर्बिट पर और 28 सैटेलाइट को स्थापित करना है! आपको बता दे इस मिशन को पूरा करने के लिए ISRO और DRDO ने साथ में काम किया है!