प्रधानमंत्री के परिवार के ये शख्स नाम बदलकर करवा रहा था अपना इलाज, बताया ऐसा क्यों किया

Modi Uncle Treatment Change Own Name: सूरत के एक सरकारी अस्पताल में तब लोग हैरान हो गए जब वहां पर इलाज करवा रहे एक शख्स के बारे में पता चला की वो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चाचा है! सूरत में एक वृद्ध शख्स सरकारी अस्पताल में इलाज करवा रहे थे, पर बाद में पता चला की वो तो कांतिलाल मोदी थे, जो की PM मोदी के चाचा है! Modi Uncle Treatment Change Own Name - नाम बदलकर करवा रहे थे इलाज कांतिलाल मोदी अपना नाम बदलकर अस्पताल में इलाज करवा रहे थे, उन्होंने अपनी पहचान इसलिए छिपाई क्यूंकि वो नहीं चाहते थे की अस्पताल को पता चले की वो नरेंद्र मोदी के चाचा है और दुसरे मरीजों के मुकाबले उनको स्पेशल ट्रीट किया जाने लगे! एक हिंदी अखबार ने बताया एक हिंदी अखबार के मुताबिक कांतिलाल ने इलाज के लिए भर्ती होने के दौरान किसी को भी ये नहीं बताया था कि वो पीएम मोदी के रिश्तेदार हैं! उन्होंने खुद की पहचान छिपाने की कोशिश की जिससे पीएम के रिश्ते की बात सार्वजानिक न हो! हालांकि अस्पताल में जब पूछताछ हुई तो ये बात सामने आ गई! बुधवार को यूरीन इन्फेक्शन की समस्या के चलते कांतिलाल अस्पताल पहुंचे थे! जांच में उनका शुगर लेवल 223 और ब्लड प्रेशर 150 पाया गया! उन्हें मेडिसिन से सर्जरी विभाग में रेफर कर एडमिट कर लिया गया है! मोदी का परिवार जीता है सामान्य ज़िंदगी बता दें कि पीएम मोदी के भाई और परिवार के दूसरे लोग भी सामान्य जीवन जी रहे हैं! मोदी के चाचा कांतिलाल भी पीएम के नाम का इस्तेमाल करने से परहेज करते हैं और इसलिए ही उन्होंने पहचान छुपाकर सूरत के सिविल अस्पताल में भर्ती होने का फैसला किया था! 81 वर्षीय कांतिलाल सूरत के पाल अडाजण के रुद्र रेजिडेंसी में रहते हैं! गौरतलब है कि कुछ वक़्त पहले मोदी के बड़े भाई प्रहलाद मोदी की पत्नी का निधन हो गया था, तब कांतिलाल भी उनके अंतिम संस्कार में गए थे! पीएम बनने के बाद नहीं आये मिलने मोदी हिंदी अखबार से बातचीत में कांतिलाल ने बताया कि जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब मिलना-जुलना होता था! हालांकि प्रधानमंत्री बनने के बाद वे उनसे नहीं मिल पाए हैं! कांतिलाल के मुताबिक वे कभी भी किसी को नहीं बताते हैं कि मोदी उनके भतीजे हैं! हालांकि अस्पताल को इसकी जानकारी होने के बाद सीनियर डॉक्टर्स ने उनका हाल-चाल लिया!
 

प्रधानमंत्री के परिवार के ये शख्स नाम बदलकर करवा रहा था अपना इलाज, बताया ऐसा क्यों किया

Modi Uncle Treatment Change Own Name: सूरत के एक सरकारी अस्पताल में तब लोग हैरान हो गए जब वहां पर इलाज करवा रहे एक शख्स के बारे में पता चला की वो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चाचा है! सूरत में एक वृद्ध शख्स सरकारी अस्पताल में इलाज करवा रहे थे, पर बाद में पता चला की वो तो कांतिलाल मोदी थे, जो की PM मोदी के चाचा है!

Modi Uncle Treatment Change Own Name - नाम बदलकर करवा रहे थे इलाज

कांतिलाल मोदी अपना नाम बदलकर अस्पताल में इलाज करवा रहे थे, उन्होंने अपनी पहचान इसलिए छिपाई क्यूंकि वो नहीं चाहते थे की अस्पताल को पता चले की वो नरेंद्र मोदी के चाचा है और दुसरे मरीजों के मुकाबले उनको स्पेशल ट्रीट किया जाने लगे! प्रधानमंत्री के परिवार के ये शख्स नाम बदलकर करवा रहा था अपना इलाज, बताया ऐसा क्यों किया

एक हिंदी अखबार ने बताया

एक हिंदी अखबार के मुताबिक कांतिलाल ने इलाज के लिए भर्ती होने के दौरान किसी को भी ये नहीं बताया था कि वो पीएम मोदी के रिश्तेदार हैं! उन्होंने खुद की पहचान छिपाने की कोशिश की जिससे पीएम के रिश्ते की बात सार्वजानिक न हो! हालांकि अस्पताल में जब पूछताछ हुई तो ये बात सामने आ गई! बुधवार को यूरीन इन्फेक्शन की समस्या के चलते कांतिलाल अस्पताल पहुंचे थे! जांच में उनका शुगर लेवल 223 और ब्लड प्रेशर 150 पाया गया! उन्हें मेडिसिन से सर्जरी विभाग में रेफर कर एडमिट कर लिया गया है!

मोदी का परिवार जीता है सामान्य ज़िंदगी

बता दें कि पीएम मोदी के भाई और परिवार के दूसरे लोग भी सामान्य जीवन जी रहे हैं! मोदी के चाचा कांतिलाल भी पीएम के नाम का इस्तेमाल करने से परहेज करते हैं और इसलिए ही उन्होंने पहचान छुपाकर सूरत के सिविल अस्पताल में भर्ती होने का फैसला किया था! 81 वर्षीय कांतिलाल सूरत के पाल अडाजण के रुद्र रेजिडेंसी में रहते हैं! गौरतलब है कि कुछ वक़्त पहले मोदी के बड़े भाई प्रहलाद मोदी की पत्नी का निधन हो गया था, तब कांतिलाल भी उनके अंतिम संस्कार में गए थे!

पीएम बनने के बाद नहीं आये मिलने मोदी

हिंदी अखबार से बातचीत में कांतिलाल ने बताया कि जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब मिलना-जुलना होता था! हालांकि प्रधानमंत्री बनने के बाद वे उनसे नहीं मिल पाए हैं! कांतिलाल के मुताबिक वे कभी भी किसी को नहीं बताते हैं कि मोदी उनके भतीजे हैं! हालांकि अस्पताल को इसकी जानकारी होने के बाद सीनियर डॉक्टर्स ने उनका हाल-चाल लिया!