महाराष्ट्र की राजनीति में नया मोड़, आदित्य ठाकरे को CM बनाने के लिए NCP तैयार

महाराष्ट्र सरकार बनाने को लेकर सियासत तेज हो गई है! राज्य में भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई है लेकिन बहुमत के आंकड़े से बहुत दूर है! इसी वजह से उसको शिवसेना का समर्थन चाहिए लेकिन शिवसेना सीएम पद की मांग पर अड़ी है! इसी बीच राज्य की सियासत में नया मोड़ आ गया है! पहले विपक्ष में बैठने की बात कर रही एनसीपी ने फिर अपना मूड बदल लिया है! एनसीपी प्रमुख शरद पवार सोमवार को ही सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली गए थे! इस दौरान दोनों के बीच सरकार गठन को लेकर चर्चा भी हुई! हालांकि दोनों ही नेताओं ने इस बारे में नहीं बताया! दूसरी ओर शिवसेना भी एनसीपी के साथ नजदीकियां बढ़ा रही है ताकि भारतीय जनता पार्टी पर दबाव बनाया जा सके! संजय राउत तो शरद पवार से मिलने भी जा चुके हैं! यहां एनसीपी सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन देने के लिए तैयार हो गई है! एनसीपी अभी तक विपक्ष में बैठने की बात कर रही थी, लेकिन अब सरकार बनाने की इच्छा जाहिर करते हुए एनसीपी ने शिवसेना के सामने कुछ शर्त रखी है! सूत्रों के अनुसार, एनसीपी ने कहा कि यदि शिवसेना हमारे साथ गठबंधन कर सरकार बनाना चाहती है! एनसीपी ने शर्त रखी है कि पांच साल के लिए मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा! सीएम का पद हमें नहीं चाहिए!' उन्होंने कहा कि इस स्थिति में दो डिप्टी सीएम के पद होंगे उनमें भी एक शिवसेना का ही होगा, लेकिन ये बातें तभी संभव होंगी जब शिवसेना बीजेपी (BJP) के साथ अपना गठबंधन तोड़ ले! Source: Catchnews
 

महाराष्ट्र की राजनीति में नया मोड़, आदित्य ठाकरे को CM बनाने के लिए NCP तैयार

महाराष्ट्र सरकार बनाने को लेकर सियासत तेज हो गई है! राज्य में भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई है लेकिन बहुमत के आंकड़े से बहुत दूर है! इसी वजह से उसको शिवसेना का समर्थन चाहिए लेकिन शिवसेना सीएम पद की मांग पर अड़ी है! इसी बीच राज्य की सियासत में नया मोड़ आ गया है! पहले विपक्ष में बैठने की बात कर रही एनसीपी ने फिर अपना मूड बदल लिया है! एनसीपी प्रमुख शरद पवार सोमवार को ही सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली गए थे! इस दौरान दोनों के बीच सरकार गठन को लेकर चर्चा भी हुई! हालांकि दोनों ही नेताओं ने इस बारे में नहीं बताया! दूसरी ओर शिवसेना भी एनसीपी के साथ नजदीकियां बढ़ा रही है ताकि भारतीय जनता पार्टी पर दबाव बनाया जा सके! संजय राउत तो शरद पवार से मिलने भी जा चुके हैं! यहां एनसीपी सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन देने के लिए तैयार हो गई है! एनसीपी अभी तक विपक्ष में बैठने की बात कर रही थी, लेकिन अब सरकार बनाने की इच्छा जाहिर करते हुए एनसीपी ने शिवसेना के सामने कुछ शर्त रखी है! सूत्रों के अनुसार, एनसीपी ने कहा कि यदि शिवसेना हमारे साथ गठबंधन कर सरकार बनाना चाहती है! एनसीपी ने शर्त रखी है कि पांच साल के लिए मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा! सीएम का पद हमें नहीं चाहिए!' उन्होंने कहा कि इस स्थिति में दो डिप्टी सीएम के पद होंगे उनमें भी एक शिवसेना का ही होगा, लेकिन ये बातें तभी संभव होंगी जब शिवसेना बीजेपी (BJP) के साथ अपना गठबंधन तोड़ ले! Source: Catchnews