पंकजा मुंडे लेंगी ये बड़ा फैसला, महाराष्ट्र भाजपा के लिए अहम होगा 12 दिसम्बर

0
111
Punkaja Munde Dicide 12 December

Punkaja Munde Dicide 12 December: महाराष्ट्र बीजेपी नेता पंकजा मुंडे, जो अपनी पार्टी से नाराज़ हैं, 12 दिसंबर को एक बड़ा फैसला लेने जा रही हैं। वह बीजेपी छोड़ने पर फैसला ले सकती है। गौरतलब है कि 12 दिसंबर को उनके पिता गोपीनाथ मुंडे की भी जयंती है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, 12 दिसंबर को, पंकजा मुंडे कार्यकर्ता उस्मानाबाद जिले के परली में एक सम्मेलन करने जा रहे हैं और इसमें वे अपने राजनीतिक भविष्य के बारे में एक बड़ा फैसला भी लेंगे। यह निर्णय भाजपा भी कर सकती है। बताया जा रहा है कि पंकजा महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव हारने के बाद पार्टी नेतृत्व से नाराज हैं। उन्होंने हाल ही में ट्विटर और फेसबुक पर अपने बायो से बीजेपी शब्द को हटा दिया। तब से, अटकलें तेज हो गई हैं कि वह पार्टी छोड़ने के बारे में फैसला कर सकती हैं।

भाजपा हरकत में आई

भाजपा के दिग्गज नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि वह आठ से 10 दिनों में अपना रास्ता चुनने का फैसला करेंगी। पंकजा मुंडे के फेसबुक पोस्ट के बाद, उनके पार्टी छोड़ने की अटकलें तेज हो गईं।

इस बीच, महाराष्ट्र भाजपा के बड़े नेता पंकजा को समझाने के लिए सक्रिय हो गए। राज्य भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के अलावा, पंकजा को मनाने के लिए विनोद तावड़े को काम पर रखा गया था। यहां तक ​​कि देवेंद्र फड़नवीस ने पंकजा से बात की।

क्यों नाराज हुए पंकजा मुंडे?

पंकजा मुंडे मराठावाड़ा की परली सीट पर अपने चचेरे भाई धनंजय मुंडे से हाल ही में विधानसभा चुनाव हार गई हैं। पंकजा इस हार को पचा नहीं पाई हैं।

वह तब से जनता के बीच और अपने समर्थकों के बीच चुप हैं, लेकिन उन्होंने भाजपा के कई बड़े नेताओं के प्रति अपनी पीड़ा व्यक्त की है। पंकजा 30 हजार से ज्यादा वोटों से हार गईं जो उनके लिए एक बड़ा झटका था।