इधर राहुल गांधी का इस्तीफा, उधर सोनिया गांधी ने उठाया बड़ा कदम

0
268

Rahul Gandhi Resign Twitter: चुनाव के बाद से ही राहुल गाँधी सुर्ख़ियों में चल रहे है! मुद्दा है राहुल गाँधी का इस्तीफा! जोकि उन्होंने घोषित ही कर दिया है कि वो कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में अब नहीं रहना चाहते है! अभी बीते बुधवार को राहुल गाँधी ने सार्वजानिक रूप से ट्विटर पर इस्तीफा जारी किया है! जिसमे उन्होंने पद को त्यागने की वजह बताई है! जब राहुल गाँधी ने ट्विटर पर इस्तीफा जारी किया तो उधर सोनिया गाँधी ने भी बड़ा फैसला ले लिया है! देश की प्रशिद्ध न्यूज़ वेबसाइट आजतक के अनुसार, सोनिया गाँधी ने ये बड़ा फैसला लिया है! तो आइये जानते है क्या है वो फैसला? क्या सोनिया गाँधी का ये फैसला कांग्रेस को मझधार से बाहर निकाल सकता है?

चुनाव में हार की जिम्मेदारी ली राहुल गाँधी ने

Rahul Gandhi Resign Twitter

लोकसभा चुनाव के बाद ही राहुल गाँधी ने अपना इस्तीफा पहले ही सौप दिया था! जिसके बाद से ही राहुल गाँधी पर इस्तीफे को वापस लेने के लिए दवाब बनाया जा रहा था! उनके इस फैसले के चलते 5 राज्यों मुख्यमंत्री भी उनसे मिलने आये और इस्तीफा वापस लेने की मांग की! चाहे फिर वह अशोक गेहलोत हो या कमलनाथ, सभी उनसे इस्तीफे को वापस लेने की मांग कर रहे है! इसके बावजूद भी राहुल नहीं माने और ट्विटर पर अपना इस्तीफा जारी कर दिया! जिसके साथ उन्होंने चुनाव में हार की जिम्मेदारी भी ली और इस्तीफा जारी किया!

सोनिया गाँधी ने लिया अब ये बड़ा फैसला

Rahul Gandhi Resign Twitter

आजतक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक बेटे राहुल गांधी ने इस्तीफा सौंपकर साफ कर दिया कि कांग्रेस कार्यसमिति अब अगला अध्यक्ष जल्द से जल्द चुने! वहीं उन्होंने चुनाव से दूर रहने के लिए अमेरिका जाने का फैसला ले लिया! वो 5 जुलाई को अमेरिका चले जाएंगे! वहीं दूसरी ओर बेटे के इस्तीफे के बाद सोनिया गांधी ने भी बड़ा फैसला लेते हुए बेटे का साथ देने का फैसला ले लिया है! उन्होंने भी राहुल गांधी के साथ अमेरिका जाने और अध्यक्ष के चुनाव से दूर रहने का बड़ा निर्णय ले लिया है! ताकि चुनाव में गांधी परिवार के दबाव की बात न आए! अब राहुल ही नहीं बल्कि सोनिया गांधी भी नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया से दूर रहेंगी!

निष्कर्ष

Rahul Gandhi Resign Twitter

राहुल गाँधी के इस्तीफे के बाद सोनिया गाँधी का ये कदम वाकई सही भी है क्योकि भाजपा पार्टी लगातार कांग्रेस पर परिवारवाद का आरोप लगाती आयी है! ऐसे में सोनिया गाँधी के इस फैसले को पूरा देश देख रहा होगा! क्योकि अब कांग्रेस का नया अध्यक्ष गैर गाँधी परिवार का होगा! जिससे सायद जनता का ध्यान अब उसके ऊपर ज्यादा हो सकता है! जो कांग्रेस को मझधार से बाहर निकाल सकता है!