अल्लाह हु अकबर चिलाते हुए 16 साल के लड़के ने पुलिस पर किया चाकू से हमला

इस वक़्त पूरी दुनिया मुस्लिम आतंक से परेशान हैं, पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर दुनिया भर के मुस्लिम अपना आपा खो चुके हैं. अब एक नया मामला रूस से आ रहा हैं, जहां एक 16 साल के लड़के ने 'अल्लाह हु अकबर' का नारा लगाते हुए कुछ पुलिस कर्मचारियों पर चाकू से हमला कर दिया, पुलिस वालों के अन्य साथियों ने तुरंत अपनी बन्दूक से गोली चलाई और वह मुस्लिम युवक मौके वारदात पर कुत्ते की मौत मारा गया. हमलावार की पहचान 'विटले अंतीपोव' रूप से की गयी हैं और स्थानीय लोगों का कहना है की उस युवक ने पुलिस पर तीन बार वार किया था, जिसके बाद पुलिस को गोली चलानी पड़ी. यह घटना रूस के तातारस्तान (Tatarstan) के कुकमोर (Kukmor) क्षेत्र की बताई जा रही है, पुलिस वालों ने जांच में पाया की उस नाबालिक युवक के पास पेट्रोल बम भी था. रूस के इस इलाके में मुस्लिम बहुल जनसँख्या हैं, यहाँ के मूल निवासी मुसलमानों के आतंक से पहले से ही काफी परेशान थे. इस हमले के बाद कुछ लोगों ने बताया है की वो इस इलाके को छोड़कर जाने का मन बना रहें हैं. घायल पुलिसवालों ने ब्यान दिया है की यह युवक दूर से अल्लाह-हु-अकबर चिलाते हुए हमारे पास आ रहा था, हमने इसे गिरफ्तार करने की कोशिश की और उसने हमपर चाकू से हमला कर दिया. इससे ठीक पहले 29 अक्टूबर, 2020 को जर्मनी के केंपेन शहर में कुछ मुस्लिम लोग फ्रांस का विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. ऐसे में प्रदर्शन कर रहे मुसलमानों ने सड़क पर चल रहे राहगीरों पर अपनी कारें चढ़ा दी. जिसमें एक नागरिक की मौत हो गयी और तीन बुरी तरह से घायल हो गए. जर्मन की पुलिस इस घटना को आतंकी हमले के रूप में जांच कर रही हैं. इसके इलावा फ्रांस के नीस शहर में आतंकी घटना हुई और इस घटना में तीन लोगों के गले काट दिए गए. इन तीन लोगों में एक महिला भी थी और हमला करने वाला एक इंसान था. इस घटना के कुछ घंटे बाद सऊदी अरब के जेद्दाह शहर में भी एक हमला हुआ और सऊदी अरब के फ्रांसीसी दूतावास में तैनात सुरक्षाकर्मी पर चाकू से हमला कर दिया, हमले के बाद ही हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया.
 

अल्लाह हु अकबर चिलाते हुए 16 साल के लड़के ने पुलिस पर किया चाकू से हमला

इस वक़्त पूरी दुनिया मुस्लिम आतंक से परेशान हैं, पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर दुनिया भर के मुस्लिम अपना आपा खो चुके हैं. अब एक नया मामला रूस से आ रहा हैं, जहां एक 16 साल के लड़के ने 'अल्लाह हु अकबर' का नारा लगाते हुए कुछ पुलिस कर्मचारियों पर चाकू से हमला कर दिया, पुलिस वालों के अन्य साथियों ने तुरंत अपनी बन्दूक से गोली चलाई और वह मुस्लिम युवक मौके वारदात पर कुत्ते की मौत मारा गया. अल्लाह हु अकबर चिलाते हुए 16 साल के लड़के ने पुलिस पर किया चाकू से हमला हमलावार की पहचान 'विटले अंतीपोव' रूप से की गयी हैं और स्थानीय लोगों का कहना है की उस युवक ने पुलिस पर तीन बार वार किया था, जिसके बाद पुलिस को गोली चलानी पड़ी. यह घटना रूस के तातारस्तान (Tatarstan) के कुकमोर (Kukmor) क्षेत्र की बताई जा रही है, पुलिस वालों ने जांच में पाया की उस नाबालिक युवक के पास पेट्रोल बम भी था. रूस के इस इलाके में मुस्लिम बहुल जनसँख्या हैं, यहाँ के मूल निवासी मुसलमानों के आतंक से पहले से ही काफी परेशान थे. इस हमले के बाद कुछ लोगों ने बताया है की वो इस इलाके को छोड़कर जाने का मन बना रहें हैं. घायल पुलिसवालों ने ब्यान दिया है की यह युवक दूर से अल्लाह-हु-अकबर चिलाते हुए हमारे पास आ रहा था, हमने इसे गिरफ्तार करने की कोशिश की और उसने हमपर चाकू से हमला कर दिया. इससे ठीक पहले 29 अक्टूबर, 2020 को जर्मनी के केंपेन शहर में कुछ मुस्लिम लोग फ्रांस का विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. ऐसे में प्रदर्शन कर रहे मुसलमानों ने सड़क पर चल रहे राहगीरों पर अपनी कारें चढ़ा दी. जिसमें एक नागरिक की मौत हो गयी और तीन बुरी तरह से घायल हो गए. जर्मन की पुलिस इस घटना को आतंकी हमले के रूप में जांच कर रही हैं. अल्लाह हु अकबर चिलाते हुए 16 साल के लड़के ने पुलिस पर किया चाकू से हमला इसके इलावा फ्रांस के नीस शहर में आतंकी घटना हुई और इस घटना में तीन लोगों के गले काट दिए गए. इन तीन लोगों में एक महिला भी थी और हमला करने वाला एक इंसान था. इस घटना के कुछ घंटे बाद सऊदी अरब के जेद्दाह शहर में भी एक हमला हुआ और सऊदी अरब के फ्रांसीसी दूतावास में तैनात सुरक्षाकर्मी पर चाकू से हमला कर दिया, हमले के बाद ही हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया.