‘चर्च में बिना अंडरवियर के आएँ महिलाएँ… वरना ईसा मसीह शरीर में नहीं कर पाएँगे प्रवेश’- पादरी का आदेश

Women come to church without underwear…: हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर धड़ल्ले से वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि केन्या के पादरी ने चर्च में आने वाली महिलाओं को यह आदेश दिया है कि वह किसी भी प्रकार का अंडर गारमेंट्स पहनकर चर्च (Church) में ना आए. अगर वह यह आदेश नहीं मानेंगे तो जीसस नाराज हो जाएंगे जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा. यह पूरा मामला कन्या के नैरोबी स्थित चर्च का है जहां के पादरी ने चर्च में आने वाले महिलाओं के लिए आदेश जारी किया. जिसके अनुसार चरण में महिलाएं किसी भी प्रकार का अंडर गारमेंट्स पहनकर प्रवेश नहीं करेंगे. इस रिपोर्ट के मुताबिक चर्च के फादर ने इसके पीछे यह तर्क दिया कि चर्च में जब महिलाएं अंडर गारमेंट्स पहन कर आती हैं तो इससे गॉड जीसस उनके शरीर में प्रवेश नहीं कर पाते जिससे उनका चर्च में आना अधूरा रह जाता है. फादर ने आगे कहा कि महिलाएं तभी चर्च में आने का पूरा लाभ उठा पाएंगे जब वह अंडरवियर पहनकर चर्च में आना बंद कर देंगी. क्योंकि यह गॉड जीसस से मिलने में बाधा उत्पन्न करती है. वहीं दूसरी ओर पादरी ने पुरुषों के अंडर गारमेंट के बारे में कुछ नहीं कहा. https://twitter.com/alok_bhatt/status/1442012983656206338 बात इतने पर ही नहीं रुकी. पादरी ने महिलाओं से कहा कि चर्च में आने से पहले उन्हें अपनी बेटियों को चेक करना होगा ताकि वह अंदरुनी कपड़े पहन कर ना सके. आपको जानकर हैरानी होगी कि कई सारी महिलाएं जो चर्च में नियमित रूप से जाया करती थी, वह इस पाखंडी पादरी के बहकावे में आ गई और उन्होंने पादरी के आदेश का पालन करते हुए चर्च जाना शुरू कर दिया. बता दें कि यह घटना 7 साल पुरानी है जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. कोई भी कीवर्ड सर्च कर लेने पर पुरानी कोई भी घटनाएं सामने आ जाती हैं जिस पर सोशल मीडिया आज पूरी तरह से रुचि लेने लगता है.
 

‘चर्च में बिना अंडरवियर के आएँ महिलाएँ… वरना ईसा मसीह शरीर में नहीं कर पाएँगे प्रवेश’- पादरी का आदेश

Women come to church without underwear…: हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया ( Social Media) पर धड़ल्ले से वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि केन्या के पादरी ने चर्च में आने वाली महिलाओं को यह आदेश दिया है कि वह किसी भी प्रकार का अंडर गारमेंट्स पहनकर चर्च ( Church) में ना आए. अगर वह यह आदेश नहीं मानेंगे तो जीसस नाराज हो जाएंगे जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा. यह पूरा मामला कन्या के नैरोबी स्थित चर्च का है जहां के पादरी ने चर्च में आने वाले महिलाओं के लिए आदेश जारी किया. जिसके अनुसार चरण में महिलाएं किसी भी प्रकार का अंडर गारमेंट्स पहनकर प्रवेश नहीं करेंगे. इस रिपोर्ट के मुताबिक चर्च के फादर ने इसके पीछे यह तर्क दिया कि चर्च में जब महिलाएं अंडर गारमेंट्स पहन कर आती हैं तो इससे गॉड जीसस उनके शरीर में प्रवेश नहीं कर पाते जिससे उनका चर्च में आना अधूरा रह जाता है. फादर ने आगे कहा कि महिलाएं तभी चर्च में आने का पूरा लाभ उठा पाएंगे जब वह अंडरवियर पहनकर चर्च में आना बंद कर देंगी. क्योंकि यह गॉड जीसस से मिलने में बाधा उत्पन्न करती है. वहीं दूसरी ओर पादरी ने पुरुषों के अंडर गारमेंट के बारे में कुछ नहीं कहा. https://twitter.com/alok_bhatt/status/1442012983656206338 बात इतने पर ही नहीं रुकी. पादरी ने महिलाओं से कहा कि चर्च में आने से पहले उन्हें अपनी बेटियों को चेक करना होगा ताकि वह अंदरुनी कपड़े पहन कर ना सके. आपको जानकर हैरानी होगी कि कई सारी महिलाएं जो चर्च में नियमित रूप से जाया करती थी, वह इस पाखंडी पादरी के बहकावे में आ गई और उन्होंने पादरी के आदेश का पालन करते हुए चर्च जाना शुरू कर दिया. बता दें कि यह घटना 7 साल पुरानी है जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. कोई भी कीवर्ड सर्च कर लेने पर पुरानी कोई भी घटनाएं सामने आ जाती हैं जिस पर सोशल मीडिया आज पूरी तरह से रुचि लेने लगता है.