द्वितीय विश्व युद्ध का बम कोलकाता के प्रसिद्ध नेताजी सुभाष बंदरगाह में मिला

World War 2 bomb found famous Netaji Subhash port Kolkata: द्वितीय विश्व युद्ध के समय का एक बड़ा बम कोलकाता के प्रसिद्ध नेताजी सुभाष बंदरगाह में सफाई के दौरान हड़कंप मच गया था। World War 2 bomb found famous Netaji Subhash port Kolkata - अमेरिकी सेना द्वारा निर्मित द्वितीय विश्व युद्ध का बम लगभग 450 किलोग्राम का है। 1942 और 1945 के बीच, चीन-बर्मा (म्यांमार) - अमेरिकी सेना ने युद्ध के मैदान में इसी तरह के बमों का इस्तेमाल किया। विशेषज्ञों का कहना है कि इसके फटने की वजह से आधा किलोमीटर के क्षेत्र में रहने वाले लोगों की मौत हो सकती थी। कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के कर्मचारियों ने पहले सोचा था कि यह टॉरपेडो है। उन्होंने भारतीय नौसेना बेस INS नेताजी सुभाष, कोलकाता से संपर्क किया। बाद में, सेना ने बम को निष्क्रिय करने के लिए सहयोग मांगा।
 

द्वितीय विश्व युद्ध का बम कोलकाता के प्रसिद्ध नेताजी सुभाष बंदरगाह में मिला

World War 2 bomb found famous Netaji Subhash port Kolkata: द्वितीय विश्व युद्ध के समय का एक बड़ा बम कोलकाता के प्रसिद्ध नेताजी सुभाष बंदरगाह में सफाई के दौरान हड़कंप मच गया था।

World War 2 bomb found famous Netaji Subhash port Kolkata -

अमेरिकी सेना द्वारा निर्मित द्वितीय विश्व युद्ध का बम लगभग 450 किलोग्राम का है। 1942 और 1945 के बीच, चीन-बर्मा (म्यांमार) - अमेरिकी सेना ने युद्ध के मैदान में इसी तरह के बमों का इस्तेमाल किया। विशेषज्ञों का कहना है कि इसके फटने की वजह से आधा किलोमीटर के क्षेत्र में रहने वाले लोगों की मौत हो सकती थी। कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के कर्मचारियों ने पहले सोचा था कि यह टॉरपेडो है। उन्होंने भारतीय नौसेना बेस INS नेताजी सुभाष, कोलकाता से संपर्क किया। बाद में, सेना ने बम को निष्क्रिय करने के लिए सहयोग मांगा।