यूपी में योगी का जलवा, चार राज्यों में फिर से बन रही भाजपा की सरकार,ABP-C वोटर का सर्वे, जानिए किसको कितनी सीटें

BJP government being formed again in four states: साल 2022 चुनावी दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण होने वाला है. अगले साल पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसको लेकर हाल ही में एबीपी-सीवोटर ने अपना ओपिनियन सर्वे जारी कर दिया है. इस सर्वे में जिन पाँच राज्यों में चुनाव होने वाले हैं उनमें से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर समेत चार राज्यों में भाजपा के जीतने की संभावना बताई जा रही है. उत्तर प्रदेश में जनता ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर भरोसा जताया है. हालाँकि, पंजाब में त्रिशंकु की स्थित बनने का अनुमान है. वहीं दूसरी ओर 2024 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर हो रहे पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव न केवल बीजेपी, बल्कि सभी पार्टियों के लिहाज से महत्वपूर्ण हैं. ऐसे में उत्तर प्रदेश में भाजपा की वापसी उसकी पकड़ को काफी मजबूत करती है. सी वोटर के सर्वे के मुताबिक बीजेपी (BJP) को 2022 के चुनाव में 259 और 267 के बीच सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं. यानी, लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार को पसंद किया है, जबकि बीजेपी के बाद सपा को लगभग 109-117 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है. इसके अलावा बसपा को करीब 12 से 16 सीटें और कॉन्ग्रेस के 3-7 सीटों पर सिमटने का आकलन है. वोट शेयर के लिहाज से भी बीजेपी को 0.4 फीसदी की बढ़त मिल रही है. हालाँकि, सपा पिछले चुनाव के मुकाबले लगभग 6.6 प्रतिशत अंक हासिल कर रही है. वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश में सर्वे में शामिल किए गए 44 फीसदी लोगों ने स्पष्ट कहा है कि वो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काम करने के तरीके से खुश हैं. उत्तराखंड इसके अलावा सर्वे के मुताबिक, उत्तराखंड में भी बीजेपी वापसी कर रही है। उत्तराखंड में भी भाजपा की वापसी की भविष्यवाणी तय मानी जा रही है. यहाँ बीजेपी अकेले ही 70 में से 44-48 सीटें जीत रही हैं. इसके बाद कॉन्ग्रेस 19-23 सीटों पर सिमटती दिख रही है. जबकि, AAP को भी लगभग 2 सीटें मिलने की उम्मीद है. बता दें कि 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर भी सर्वे में उत्तराखंड 46.5 प्रतिशत लोगों ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को ही वोट देंगे. वहीं केजरीवाल 14.6 फीसदी वोटों के साथ दूसरे स्थान पर हैं, उन्होंने राहुल गाँधी को 10.4 फीसदी से हराया है. गोवा सी वोटर के सर्वे के अनुसार, दक्षिण भारतीय राज्य गोवा में बीजेपी फिर से वापसी करती दिखाई दे रही है. पार्टी यहाँ पर 40 विधानसभा सीटों में से 22-26 सीटों पर जीत हासिल करती दिखाई दे रही है. इसके बाद कॉन्ग्रेस को पछाड़ते हुए गोवा में आम आदमी पार्टी 4-8 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर दिख रही है. जबकि, कॉन्ग्रेस के 3-7 सीटों पर सिमटने की उम्मीद है. मणिपुर पूर्वोत्तर राज्य की बात करें तो मणिपुर में एबीपी-सीवोटर सर्वे के मुताबिक, 32-36 सीटों पर जीत हासिल करके बीजेपी के एक बार फिर सत्ता में बने रहने का अनुमान है. वहीं कॉन्ग्रेस यहाँ 18-22 सीटें जीतती दिख रही है. इसके अलावा नागा पीपुल्स फ्रंट केवल 2-6 सीटों पर सिमट रही है. गौरतलब है कि, वोट शेयर के हिसाब से भी सबसे अधिक 40.5 फीसदी वोट बीजेपी को और 34.5 फीसदी वोट कॉन्ग्रेस को मिल रहे हैं. जबकि 7 फीसदी एनपीएफ को मिलेगा। शेष 18 फीसदी निर्दलीय उम्मीदवारों के खाते में जाने की उम्मीद है. पंजाब कॉन्ग्रेस शासित पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली सरकार यहाँ पिछड़ती दिख रही है. राज्य में आम आदमी पार्टी बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है. यहाँ 2017 में 38.5 प्रतिशत वोट पाने वाली कॉन्ग्रेस घटकर 28.8 फीसदी पर आ सकती है. यानी कि 10 प्रतिशत अंक की गिरावट देखी जा सकती है. वहीं आप का वोट शेयर 23.7 फीसदी से बढ़कर 35.1 फीसदी हो सकता है.
 

यूपी में योगी का जलवा, चार राज्यों में फिर से बन रही भाजपा की सरकार,ABP-C वोटर का सर्वे, जानिए किसको कितनी सीटें

BJP government being formed again in four states: साल 2022 चुनावी दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण होने वाला है. अगले साल पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसको लेकर हाल ही में एबीपी-सीवोटर ने अपना ओपिनियन सर्वे जारी कर दिया है. इस सर्वे में जिन पाँच राज्यों में चुनाव होने वाले हैं उनमें से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर समेत चार राज्यों में भाजपा के जीतने की संभावना बताई जा रही है. उत्तर प्रदेश में जनता ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( Yogi Adityanath) पर भरोसा जताया है. हालाँकि, पंजाब में त्रिशंकु की स्थित बनने का अनुमान है. वहीं दूसरी ओर 2024 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर हो रहे पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव न केवल बीजेपी, बल्कि सभी पार्टियों के लिहाज से महत्वपूर्ण हैं. ऐसे में उत्तर प्रदेश में भाजपा की वापसी उसकी पकड़ को काफी मजबूत करती है. सी वोटर के सर्वे के मुताबिक बीजेपी ( BJP) को 2022 के चुनाव में 259 और 267 के बीच सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं. यानी, लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार को पसंद किया है, जबकि बीजेपी के बाद सपा को लगभग 109-117 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है. इसके अलावा बसपा को करीब 12 से 16 सीटें और कॉन्ग्रेस के 3-7 सीटों पर सिमटने का आकलन है. वोट शेयर के लिहाज से भी बीजेपी को 0.4 फीसदी की बढ़त मिल रही है. हालाँकि, सपा पिछले चुनाव के मुकाबले लगभग 6.6 प्रतिशत अंक हासिल कर रही है. वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश में सर्वे में शामिल किए गए 44 फीसदी लोगों ने स्पष्ट कहा है कि वो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काम करने के तरीके से खुश हैं.

उत्तराखंड

इसके अलावा सर्वे के मुताबिक, उत्तराखंड में भी बीजेपी वापसी कर रही है। उत्तराखंड में भी भाजपा की वापसी की भविष्यवाणी तय मानी जा रही है. यहाँ बीजेपी अकेले ही 70 में से 44-48 सीटें जीत रही हैं. इसके बाद कॉन्ग्रेस 19-23 सीटों पर सिमटती दिख रही है. जबकि, AAP को भी लगभग 2 सीटें मिलने की उम्मीद है. बता दें कि 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर भी सर्वे में उत्तराखंड 46.5 प्रतिशत लोगों ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को ही वोट देंगे. वहीं केजरीवाल 14.6 फीसदी वोटों के साथ दूसरे स्थान पर हैं, उन्होंने राहुल गाँधी को 10.4 फीसदी से हराया है.

गोवा

सी वोटर के सर्वे के अनुसार, दक्षिण भारतीय राज्य गोवा में बीजेपी फिर से वापसी करती दिखाई दे रही है. पार्टी यहाँ पर 40 विधानसभा सीटों में से 22-26 सीटों पर जीत हासिल करती दिखाई दे रही है. इसके बाद कॉन्ग्रेस को पछाड़ते हुए गोवा में आम आदमी पार्टी 4-8 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर दिख रही है. जबकि, कॉन्ग्रेस के 3-7 सीटों पर सिमटने की उम्मीद है.

मणिपुर

पूर्वोत्तर राज्य की बात करें तो मणिपुर में एबीपी-सीवोटर सर्वे के मुताबिक, 32-36 सीटों पर जीत हासिल करके बीजेपी के एक बार फिर सत्ता में बने रहने का अनुमान है. वहीं कॉन्ग्रेस यहाँ 18-22 सीटें जीतती दिख रही है. इसके अलावा नागा पीपुल्स फ्रंट केवल 2-6 सीटों पर सिमट रही है. गौरतलब है कि, वोट शेयर के हिसाब से भी सबसे अधिक 40.5 फीसदी वोट बीजेपी को और 34.5 फीसदी वोट कॉन्ग्रेस को मिल रहे हैं. जबकि 7 फीसदी एनपीएफ को मिलेगा। शेष 18 फीसदी निर्दलीय उम्मीदवारों के खाते में जाने की उम्मीद है.

पंजाब

कॉन्ग्रेस शासित पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली सरकार यहाँ पिछड़ती दिख रही है. राज्य में आम आदमी पार्टी बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है. यहाँ 2017 में 38.5 प्रतिशत वोट पाने वाली कॉन्ग्रेस घटकर 28.8 फीसदी पर आ सकती है. यानी कि 10 प्रतिशत अंक की गिरावट देखी जा सकती है. वहीं आप का वोट शेयर 23.7 फीसदी से बढ़कर 35.1 फीसदी हो सकता है.