बॉलीवुड इंडस्ट्री में 70 और 80 के दशक की सुपरहिट हीरोइन हेमा मालिनी ने कई सुपरहिट फिल्में की है। ‘सीता और गीता’, ‘शोले’, ‘सत्ते पे सत्ता’ और ‘ड्रीम गर्ल’ जैसी एक से बढ़कर एक शानदार फिल्मों में काम कर करोड़ों दिलों पर राज करने वाली एक्ट्रेस है हेमा मालिनी। गौरतलब है कि, बॉलीवुड की इस ड्रीमगर्ल के चाहने वालो की संख्या आज भी लाखो में है। बता दे कि 70-80 के दशक में उनके चाहने वाले वालो की कमी नही थी, उनमें से एक शख्स पाकिस्तान से मुंबई हेमा मालिनी से मिलने के लिए आया था। वह रोज उनके घर के बाहर बैठा रहता था कि कहीं किसी दिन उनसे मुलाकात हो जाए लेकिन ऐसा नहीं हो पाया।

एक रात हुआ कुछ ऐसा…

सूत्रों की माने तो, एक रात ऐसा हुआ कि वह आदमी हेमा मालिनी के घर में घुस गया और उसे देख हेमा के घर में काम करने वाली महिला ने उसे देख कर चोर-चोर का शोर मचा दिया, सब जाग गए। इस आदमी ने सोचा कि अगर कोई उसे पकड़ लेगा तो उसकी जबरदस्त पिटाई होगी और घबराकर उसने टेबल पर रखे चाकू को उठा लिया लेकिन फिर भी करके और नौकरों ने उस आदमी को पकड़ लिया था लेकिन हिमा के पिता इतना घबरा गए हैं कि उन्होंने पुलिस को फोन करना चाहा लेकिन वह फोन तक पहुंच पाते उससे पहले ही उन्हें हार्ट अटैक आ गया।

खुद को मानती थी अपनी पिता की मौत की वजह…

इसके बाद ,डॉक्टर को बुलाया गया लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और उनके पिता इस दुनिया को अलविदा कह चुके थे।इस घटना के बाद हेमा मालिनी मुझे एहसास हुआ कि काश अगर यह घटना नहीं हुई होती उनके पापा उनके साथ और दिन रहते।पिता की मौत का हेमा पर इतना गहरा असर पड़ा कि वो कई सालों तक अपने आपको पिता के निधन का जिम्मेदार समझती रहीं और हेमा को तो यह भी लगने लगा था उनकी कामयाबी की वजह से ही आज वह अपने पिता के साथ नहीं है।

By Admin