कब और कैसे लगती हैं कार में आग जाने इसकी वजह, जानबूझकर यह गलतियां करते हैं लोग

0
159
cars,car driving,learn,learn car driving,car learn,how to,car catch fire reason,fire reason,fire,accident,car accidents,car on fire,fire in a car,indiavirals,top 5 reasons cars catch on fire,burning cars incidents,gadi me aag,chalti car me lagi aag,car me aag lagne ke karan,cng car me aag lagne ke karan,accident mein gadi mein aag kaise lagta hai,cng me car hit hone ka karan

Car Catch Fire on Road Reason: अक्सर खबरें सामने आती ही रहती है की चलती हुई गाड़ी में आग लग गई! ऐसे कई मामले भी हुए हैं कुछ लोग भाग्यशाली हुए हैं और वह गाड़ी से बाहर निकल गए लेकिन हर बार ऐसा तो नहीं हो पाता! लेकिन आखिरकार क्या कारण होते हैं जिसकी वजह से अचानक से गाड़ी के अंदर आग लग जाती है? क्या इससे बचा नहीं जा सकता क्या इसके उपाय नहीं हो सकते? चलिए आज हम आपको बताते हैं!

Car Catch Fire on Road Reason-

सबसे पहले बात होती है एक्सेसरीज़ की-

दरअसल कई बार अपने शौक को पूरा करने के लिए गाड़ी के अंदर कई प्रकार की एक्सेसरीज लगा ली जाती है! लेकिन यही शौक इंसान का उसके लिए सबसे बड़ी मुसीबत बन जाता है! कुछ ऐसी भी एक्सेसरीज होती है जो बिजली से चलती है और उसके तारों को फिर से जुड़ जाता है! ऐसे में अगर गलती से भी कोई तार का जोड़ हट जाए या फिर खुला रह जाए तो शॉर्ट सर्किट होना तो लाजमी है! जिसके चलते गाड़ी आप के गोले में बदल जाती है! इसलिए हमारी राय है कि जरूरी ही गाड़ी के अंदर एक्सेसरीज लगवाए और उसको किसी अच्छी कंपनी से लें और किसी अच्छे मकैनिक से सेट करवाएं!

इसके बाद बात आती है सर्विस की-

अक्सर आपने देखा ही होगा कि लोग जब तक फ्री की सर्विस मिल रही है तो कंपनी में जाकर अपनी गाड़ी की सर्विस कराते हैं लेकिन जैसे ही वह फ्री सर्विस खत्म हो जाती है तो कहीं पर भी सस्ते में सर्विस कराने की सोच लेते हैं! अब बात समझने की जरूरत यह है कि सरकार की जरूरतें अलग-अलग हो यानी अगर मारुति की सर्विस करने का तरीका अलग होता है और हौंडा या हुडाई जैसी कारों के सर्विस का तरीका अलग! दरअसल हर कंपनियां अपने मकैनिक को ट्रेनिंग देती है और इन ट्रेन मकैनिक ओं को उस कंपनी की कारों के हर एक पाठ की जानकारी होती है! लेकिन अगर वही बात करें बाहर के मकैनिक वह हर कार की सर्विस करने का दावा भी करते हैं ऐसे में अक्सर यह होता है कि वह किसी कार्य में एक्सपर्ट नहीं हो पाते! जानकारों का कहना है कि गलत सर्विस के कारण भी गाड़ी के अंदर आग लग सकते हैं!

गाड़ी में एलपीजी या सीएनजी किट-

अक्सर यह भी देखा गया है कि लोग अपनी गाड़ी के अंदर एलपीजी या सीएनजी किट किट बाजार के अंदर आमतौर पर 15 से 20000 में लग जा! लेकिन जो अधिकृत सेंटर होते हैं उनके ऊपर इसका दाम 50 से 70000 देना पड़ता है! अब ऐसे में लोग बाजार की सस्ती कीट लगवाना ही पसंद करते हैं लेकिन यह किट अगर गलत तरीके से लग जाए कोई कमी रह जाए तो जान की दुश्मन बन जाती है! अभी तक ऐसा माना जाता है कि जिन गाड़ियों के अंदर आग लगती है उनमें से अधिकतर गाड़ियों में एलपीजी गैस सीएनजी वाली की होती है इसलिए अगर आपको अपनी गाड़ी के अंदर एलपीजी और सीएनजी किट लगवानी है तो आप केवल कंपनी फिटेड किट ही इस्तेमाल करें! ऐसी कारों को तवज्जो दें जिनके अंदर कंपनियां सीएनजी किट लगाकर बेचती है! अगर लगवाने ही तो है तो कंपनी से लगवा लीजिए बाहर से ना लगवाए!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here