धीरूभाई अंबानी जब तक जिंदा थे , तब तक मुकेश और अनिल के काम बिल्कुल अलग-अलग थे। पिता का कारोबारी साम्राज्य दोनों ने  बखूबी से संभाल रहे थे। अपने निधन से पहले धीरूभाई अंबानी ने एक बहुत बड़ी गलती कर दी। जिसकी वजह से दोनों भाइयों के बीच में दरार आ गई।

रिलायंस के संस्थापक धीरूभाई अंबानी रिश्तो को बहुत तवज्जो देते थे।अमिताभ बच्चन के बुरे दिनों में मदद की पेशकश के बारे में किसी से छिपा नहीं है। पिता के निधन के बाद हर आम परिवार की तरह इस परिवार में भी संपत्ति को लेकर विवाद खड़े होने लगे , जिसके चलते अंबानी परिवार सुर्खियों में रहने लगा। विवादों के बढ़ते ही अंबानी परिवार में भी दरार पड़ गई।

संपत्ति छोटी हो या बड़ी वसीयत बनाना एक अहम हिस्सा माना जाता है। वसीयत होने के बाद घर में लड़ाई झगड़ो की आशंका कम हो जाती है लेकिन इस बेहद अहम पहलू का अंदाजा लगा पाने में धीरुभाई चूक गए। उन्हें अपने बेटों के आपसी प्यार का इतना भरोसा था कि शायद इसकी अनदेखी कर गए। लेकिन परिवार की तरह इस परिवार में भी संपत्ति को लेकर झगड़े बढ़ते ही गए।

पिता के निधन के बाद दोनों भाइयों में बढ़ा मनमुटाव :

अपने जीते जी धीरूभाई अंबानी ने अपनी संपत्ति को लेकर कोई भी वसीयत नहीं बनाई थी। जिसकी वजह से उनके निधन के बाद उनके परिवार में काफी विवाद खड़े हो गए। धीरूभाई अंबानी को लगता था कि जैसे दोनों भाई अब एक दूसरे पर जान देते हैं। आगे भी ऐसे ही साथ रहेंगे और उनके बनाए हुए इस साम्राज्य को बढ़ाते रहेंगे। लेकिन उनके निधन के बाद दोनों भाइयों के बीच में काफी मनमुटाव पैदा हुए।

2002 में धीरूभाई अंबानी के निधन के बाद दोनों भाइयों में संपत्ति को लेकर जंग शुरू हो गई। आखिरकार 2005 में रिलायंस ग्रुप के बंटवारे के बाद भी चीजें शांत पड़े लेकिन तब तक दोनों भाइयों में काफी दूरियां आ चुकी थी। आपको बता दें कि जब तक धीरुभाई जिंदा थे , दोनों बेटों के काम अलग-अलग थे।

अनिल अंबानी का काम कंपनी के लिए फाइनेंस इकट्ठा करना था , मुकेश अंबानी और धीरूभाई अंबानी का काम अपने इस रिलायंस साम्राज्य को आगे बढ़ाना था। अनिल अंबानी के कांटेक्ट इतने जोरदार थे कि वह कंपनी के लिए बड़ी से बड़ी रकम का इंतजाम कुछ ही मिनटों में कर लेते थे। सब कुछ सही चल रहा था और इसी बीच दोनों बेटों की शादी की गई।

अनिल और टीना अम्बानी की शादी से नाखुश था अम्बानी परिवार :

मुकेश की शादी नीता से हुई और उनके छोटे बेटे अनिल अंबानी की शादी उस समय की मशहूर बॉलीवुड एक्ट्रेस टीना मुनीम से हुई। आपको बता दें कि अंबानी परिवार बॉलीवुड की एक्ट्रेस होने की वजह से टीना और अनिल की अंबानी की शादी के खिलाफ थे। लेकिन फिर भी दोनों की शादी हो गई और टीना अंबानी परिवार का हिस्सा बनी।

थोड़े समय में ही टीना और नीता  के बीच अनबन की खबरें आए दिन सामने आने लगी। लेकिन कभी भी धीरूभाई अंबानी के होते हुए परिवारिक किससे और मनमुटाव सामने नहीं आ पाए।  लेकिन धीरुभाई के निधन के बाद सब कुछ उलट हो गया दोनों भाइयों के बीच में दरार आ गई। दोनों की इस बढ़ती हुई दूरियों को हर जगह पर देखा गया , दोनों को साथ में देखना काफी कम हो गया और हर फंक्शन में दोनों भाई एक दूसरे से काफी दूरी बनाकर रखते थे।

जिसकी वजह से दोनों लोगों की नजरों में आ गए और अंबानी परिवार को लेकर बातें होने लगी। दोनों भाइयों के झगड़े इतने बढ़ गए की उनको निपटने के लिए माँ को बीच में आना पड़ा। 2005 में मां कोकिलाबेन को बंटवारे के लिए बीच में डाला गया। उन्‍होंने दोनों भाइयों के बीच रिलायंस के कारोबारी साम्राज्‍य को बांटने का एलान किया।

मुकेश के हिस्‍से में पेट्रोकेमिकल्‍स सहित तेल और गैस, रिफाइनिंग और टेक्‍सटाइल्‍स आए। वहीं, अनिल अंबानी के पास फाइनेंशियल सर्विसेज, पावर, एंटरटेनमेंट और टेलीकॉम कारोबार गए। 2020 में अनिल अंबानी ने अपने होने का ऐलान किया वही मुकेश अंबानी आज भी दुनिया के बड़े अमीरों की सूची में बने हुए हैं

You missed