दुनिया की सबसे तेज रफ्तार सुपरसोनिक मिसाइल क्या तैयार है.

0
472

Indians ready world’s supersonic power. आज भारत किसी भी मामले में किसी और देश से कम नहीं है.  क्षेत्रीय सुरक्षा समीकरणों के मद्देनजर. ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज में मिसाइल के प्रक्षेपण के लिहाज से देश के 40 सुखोई लड़ाकू विमानों में बदलाव किया गया है. अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 40 सुखोई विमानों को ब्रह्मोस को प्रक्षेपित करने के लिए तैयार करने का काम शुरू हो चुका है.

Indians ready world's supersonic power

Read also : सर्दियों में वजन क्यों बढ़ जाता है.

Indians ready world’s supersonic power.

इंडिया अपने हिन्दुस्तान Aeronautics लिमिटेड (एचएएल) में इन विमानों में संरचनात्मक बदलाव करेगा. परियोजना की समय सीमा तय की जा चुकी है. यह परियोजना साल 2020 तक पूरी हो जाएगी. हालांकि सूत्रों ने इस बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी.

दुनिया की सबसे तेज रफ्तार सुपरसोनिक मिसाइल क्या तैयार है. दुनिया की सबसे तेज रफ्तार सुपरसोनिक मिसाइल आकाश से मार करती है.

Indians ready world's supersonic power

संस्करण का सुखोई-30 लड़ाकू विमान से बीते 22 नवंबर को सफल प्रक्षेपण किया गया था. सुरक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक परीक्षण से. भारतीय वायुसेना की मारक क्षमता में अभूतपूर्व बढ़ोत्तरी हुई है. 400 किलोमीटर तक की जा सकती है मारक क्षमता.

ब्रह्मोस की मारक क्षमता 290 किलोमीटर है. भारत को पिछले साल मिसाइल टेक्नोलॉजी कंट्रोल रेजीम (एमटीसीआर) की पूर्ण सदस्यता मिली है.

 supersonic power

कुछ तकनीकी प्रतिबंध हटा लिए जायेंगे. इसकी क्षमता बढ़ाकर 400 किलोमीटर तक की जा सकती है. भारत इस मामले कई सालो से मेहनत कर रहा था. इस के साथ दूसरे देशो से भी अपने संभंध को अच्छा करने में लगा रहता था.

Read also : टॉप 5 स्मार्टफोन्स 2017 के

सुखोई पर तैनात किया जाने वाला सबसे heavy हथियार है.
ढाई टन वजनी ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल तेज बहुत तेज है. India और Russia के साझा उपक्रम वाली यह Missile सुखोई-30 लड़ाकू Airplanes. Airplanes पर तैनात किया जाने वाला सबसे भारी हथियार होगी.

Read also :