जैसा कि आप लोग बखूबी जानते होंगे रामानंद सागर की रामायण जो कि देश में लोकप्रियता के मामले में सबसे अधिक मानी जाती है! वह इस रामायण के किरदारों को आज भी लोग सच में भगवान के रूप में ही देखते हैं! ऐसे में नेशनल टीवी पर प्रकाशित होने वाला शो रामायण आज भी लोगों के दिलों में कायम है!

हालांकि इसके बाद कई सारी टीवी पर रामायण बनाई गई है लेकिन उनको इतनी सफलता हासिल नहीं हुई है! वहीं फिल्म आदिपुरुष के माध्यम से रामायण को दिखाया जा रहा है! लेकिन इस फिल्म में आने से पहले ही कई विवादों को जन्म दे दिया है! इसी कड़ी में रामानंद सागर की रामायण में लक्ष्मण की भूमिका निभाने वाले सुनील लहरी का बयान भी सामने आया है!

सुनील लहरी ने बताया है कि उनके लिए फिल्म आदिपुरुष में VFX को पचा पाना मुश्किल था! हाल ही में एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया है कि कैसे उनके सीरियल रामायण में कोई कार्टून प्रभाव या मजाक नहीं था! उनका कहना है कि आजकल कोई भी अपने काम में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहता है!

सुनील ने अब डीएनए से बात करते हुए ‘आदिपुरुष’ को लेकर कहा, “इसका वीएफएक्स पचा पाना मुश्किल था! देखिए, उस समय हमारे लिए तकनीक एक नई चीज थी! हमने ज्यादा से ज्यादा प्रयासों से बेहतरीन पाने की कोशिश की, इसलिए लोग अभी भी ‘रामायण’ की रिलीज के 35 साल बाद भी इसकी सराहना करते हैं! युवा पीढ़ी को इसमें कार्टून जैसा कुछ नहीं लगता था और न ही वे उसका मजाक उड़ाते थे!”

वे आगे कहते हैं कि “अगर इस तरह की तकनीक रही होती, तो हो सकता है कि रामानन्द सागर साहब कुछ और बनाते और अच्छा बनाते! मुझे विश्वास है कि भले ही हम अब वीएफएक्स के मामले में विकसित हुए हैं, पर विजुअल्स के मामले में सागर साहब ने जो हासिल किया है, उसे दोहराना मुश्किल होगा!”

You missed