‘इस्लाम अपनाने पर ₹1 लाख, 50 गज का मकान’: ‘मोहम्मद अली’ ने दिया लालच, जाने कौन है यह

₹ 1 lakh 50 yards house for 'Adopting Islam': मौलाना कलीम सिद्दीकी के कई साथी उत्तर प्रदेश ATS की रडार पर हैं. वही दूसरी ओर बुलंदशहर में लालच देकर इस्लामी धर्मांतरण कराने का एक पोस्ट वायरल हुआ है. यूपी ATS ने मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी के साथ ही उसके संपर्कों को खँगालना शुरू कर दिया है. दिल्ली, मेरठ और मुजफ्फरनगर में इसके लिए खास तौर पर अभियान चलाया जा रहा है। उसके खिलाफ जानकारी जुटाई जा रही है. गौरतलब है कि, इससे पता चलेगा कि धर्मांतरण गिरोह के सरगनाओं में से एक मौलाना कलीम सिद्दीकी के तार कहाँ तक फैले हुए हैं अंदेशा यह भी है कि उसका भी नेटवर्क मोहम्मद उमर गौतम की तरह फैला हुआ और मजबूत हो सकता है, जो पहले से ही पुलिस की गिरफ्त में है और जिसकी निशानदेही पर कलीम सिद्दीकी (Kalim Siddique) धरा गया. उससे जुड़े संपर्कों की धर-पकड़ होगी और उनसे भी पूछताछ की जाएगी, ताकि गिरोह की तह तक जाया जा सके. https://twitter.com/agrawalshree1/status/1441827807424778241 वहीं दूसरी ओर यूपी ATS उधर अवैध फंडिंग को लेकर भी मौलाना कलीम सिद्दीकी से पूछताछ कर रही है. शुक्रवार को उसे जेल से ATS मुख्यालय भी ले जाया गया. बता दें कि, वहीं पर उससे कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ जुटाने के लिए पूछताछ चल रही है. वही, अन्य माध्यमों से भी सूचनाएँ इकट्ठी की जा रही हैं. इस मामले में एएसपी के निगरानी में गठित टीम को पूछताछ के साथ-साथ उमर गौतम और मौलाना के रिश्तों को लेकर भी जाँच करने के लिए भी लगाया गया है. वहीं दूसरी ओर उसके एक अन्य करीबी मुजफ्फरनगर के खतौली से कलीम के करीबी हाफिज इदरीश को पुलिस दो दिन पहले ही हिरासत में ले चुकी है. इसके बाद मदरसा जामिया इमाम वलीउल्लाह इस्लामिया के शिक्षक, स्टाफ और छात्र के अलावा फुलत गाँव में रहने वाले कलीम के परिवार वाले अंडरग्राउंड हो गए हैं. इदरीश को खतौली से दबोचा गया. मौलाना सारिक के घर हुए एक कार्यक्रम को लेकर पुलिस सूचनाएँ खँगाल रही है.
 

‘इस्लाम अपनाने पर ₹1 लाख, 50 गज का मकान’: ‘मोहम्मद अली’ ने दिया लालच, जाने कौन है यह

₹ 1 lakh 50 yards house for 'Adopting Islam': मौलाना कलीम सिद्दीकी के कई साथी उत्तर प्रदेश ATS की रडार पर हैं. वही दूसरी ओर बुलंदशहर में लालच देकर इस्लामी धर्मांतरण कराने का एक पोस्ट वायरल हुआ है. यूपी ATS ने मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी के साथ ही उसके संपर्कों को खँगालना शुरू कर दिया है. दिल्ली, मेरठ और मुजफ्फरनगर में इसके लिए खास तौर पर अभियान चलाया जा रहा है। उसके खिलाफ जानकारी जुटाई जा रही है. गौरतलब है कि, इससे पता चलेगा कि धर्मांतरण गिरोह के सरगनाओं में से एक मौलाना कलीम सिद्दीकी के तार कहाँ तक फैले हुए हैं अंदेशा यह भी है कि उसका भी नेटवर्क मोहम्मद उमर गौतम की तरह फैला हुआ और मजबूत हो सकता है, जो पहले से ही पुलिस की गिरफ्त में है और जिसकी निशानदेही पर कलीम सिद्दीकी ( Kalim Siddique) धरा गया. उससे जुड़े संपर्कों की धर-पकड़ होगी और उनसे भी पूछताछ की जाएगी, ताकि गिरोह की तह तक जाया जा सके. https://twitter.com/agrawalshree1/status/1441827807424778241 वहीं दूसरी ओर यूपी ATS उधर अवैध फंडिंग को लेकर भी मौलाना कलीम सिद्दीकी से पूछताछ कर रही है. शुक्रवार को उसे जेल से ATS मुख्यालय भी ले जाया गया. बता दें कि, वहीं पर उससे कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ जुटाने के लिए पूछताछ चल रही है. वही, अन्य माध्यमों से भी सूचनाएँ इकट्ठी की जा रही हैं. इस मामले में एएसपी के निगरानी में गठित टीम को पूछताछ के साथ-साथ उमर गौतम और मौलाना के रिश्तों को लेकर भी जाँच करने के लिए भी लगाया गया है. वहीं दूसरी ओर उसके एक अन्य करीबी मुजफ्फरनगर के खतौली से कलीम के करीबी हाफिज इदरीश को पुलिस दो दिन पहले ही हिरासत में ले चुकी है. इसके बाद मदरसा जामिया इमाम वलीउल्लाह इस्लामिया के शिक्षक, स्टाफ और छात्र के अलावा फुलत गाँव में रहने वाले कलीम के परिवार वाले अंडरग्राउंड हो गए हैं. इदरीश को खतौली से दबोचा गया. मौलाना सारिक के घर हुए एक कार्यक्रम को लेकर पुलिस सूचनाएँ खँगाल रही है.