जम्मू कश्मीर के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला, सामने आए कॉन्ग्रेस और पीडीपी के नेताओं के नाम, जाने कौन कौन शामिल है

Roshni land scam: निजी चैनल यह भी दावा करता है कि इस घोटाले में मंत्री हसीब दरबो की रिश्तेदार शहजादा बानो, एजाज हुसैन और इफ्तिकार दरबो के नाम भी शामिल हैं

0
159
Congress, PDP , NC , Roshni land scam, जम्मू कश्मीर के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला, कॉन्ग्रेस , पीडीपी

Roshni land scam: जम्मू कश्मीर के इतिहास में हुए सबसे बड़ा जमीन घोटाले को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है! इस घोटाले को लेकर कई पार्टियों के नेताओं के शामिल होने की जानकारी मिली है! बता दें कि यह जमीन घोटाला 25000 करोड़ का बताया जा रहा है! एक निजी मीडिया चैनल के पास इस सरकारी जमीन पर कब्जा करने वाले नेताओं और नौकरशाहों की लिस्ट मौजूद होने की खबर मिली है! बताया यह भी जा रहा है कि इस घोटाले के अंदर पीडीपी नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व वित्त हसीब दरबो के भी शामिल होने का दावा है! निजी चैनल उसके पास मौजूद लिस्ट होने का दावा जो करता है वह पुष्टि करता है कि मंत्री हसीब जमीन के खरीद-फरोख्त मे शामिल है!

यह निजी चैनल यह भी दावा करता है कि इस घोटाले में मंत्री हसीब दरबो की रिश्तेदार शहजादा बानो, एजाज हुसैन और इफ्तिकार दरबो के नाम भी शामिल हैं! इसके अलावा कांग्रेस नेता का नाम भी सामने आ रहा है कांग्रेस नेता के कमलापुर भी सरकारी जमीन के घोटाले में शामिल होने का दावा किया जा रहा है! अब ऐसे में इस लिस्ट के सामने आने के बाद इन सभी से इस जमीन को वापस ले लिया जाएगा!

जानकारी के लिए बता दें कि साल 1999 के पहले जम्मू कश्मीर में जो जमीन थी उन्हें गरीब तबके के लोग को देने के लिए सरकार ने रोशनी एक्ट बनाया था! इतना ही नहीं बल्कि इसका दूसरा उपयोग पावर प्रोजेक्ट के लिए पैसा जमा करना भी था था कि इसका इस्तेमाल जम्मू कश्मीर के पावर प्रोजेक्ट के लिए भी किया जा सके! इसे पूरे विधि पूर्वक तरीके से 2001 में बनाया गया था लेकिन इसके अंदर समय-समय पर संशोधन किया जाता रहा है!

लेकिन इस दौरान सरकारे बदलती रही और सरकार में रहे राजनेताओं को फायदा उठाने का मौका दिया जाता रहा! इतने नहीं बल्कि इसका लाभ उठाने के लिए इसमें कई बिजनेसमैन और अफसर भी शामिल रहे! अब इस पूरे मामले को लेकर राज्य की एलजी मनोज सिन्हा का कहना था कि अब इन सभी से जमीन को वापस लिया जाएगा यही कारण है कि अब इस मामले को फिर से उठाया गया है और इसके लिए ठोस कदम उठाए जा रहे हैं!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here