सेना का प्रयास लाया रंग, 106 साल बाद खुला गुलमर्ग का शिव मंदिर

0
1273

सेना द्वारा कश्मीर के गुलमर्ग क्षेत्र में सौहार्द का एक उदाहरण पेश किया गया. भारतीय सेना ने वहां के स्थानीय लोगों के साथ मिलकर गुलमर्ग स्थित बहुचर्चित शिव मंदिर की मरम्मत की और उसका सौंदर्यीकरण किया है.

देश में आपदा, गांव में मदद से लेकर सुरक्षा तक एवं सीमाओं की निगरानी से लेकर आम जनता के बीच प्रेम स्थापित करने तक भारतीय सेना हर दिशा में अपनी छवि का परचम लहरा ही देती है. हर बार भारतीय सेना प्रमाण पेश करती रहती है कि देश की जनता द्वारा उन्हें जो सम्मान मिला है, वह इसके प्रबल अधिकारी हैं.

यह मंदिर के कश्मीर के गुलमर्ग में महाराजा हरि सिंह और उनकी पत्नी महारानी मोहिनी बाई सिसोदिया द्वारा वर्ष 1915 में निर्मित किया गया था. इस मंदिर को लोग ‘महारानी टेंपल’ (Maharani temple) के नाम से भी जानते हैं. यह मंदिर एक लंबे अरसे से बिना सौंदर्यीकरण के बंद था. यहां पर दूर-दूर से आने वाले पर्यटक भी इस मंदिर को देखने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं.

इस मंदिर पर एक फिल्म भी फिल्माया जा चुका है. यह मंदिर साल 1974 में आई फिल्म ‘आप की कसम’ में भी दिखाया गया था. बहुचर्चित अभिनेता राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) द्वारा इस फिल्म का बहुत लोकप्रिय गीत जय जय शिव शंकर इसी मंदिर के पास ही फिल्माया गया था. इस वजह से भी पर्यटकों में इस जगह को देखने के लिए खासा उत्साह देखने को मिलता है.

स्थानीय सेना ने वहां के लोगों के साथ मिलकर इस मंदिर का कार्यक्रम किया और इसके बाद कई सालों बाद इस मंदिर को पुनः खुलवा दिया. किस मंदिर की मरम्मत को लेकर ब्रिगेडियर बीएस फोगाट (BS Fogat) ने कहा कि,’ गुलमर्ग एक पर्यटन स्थल है और इस बात को ध्यान में रखते हुए की भारतीय सेना और नागरिक प्रशासन ने मिलकर मरम्मत का काम किया और स्थानीय लोगों ने बहुत मदद की. हमने पहल की, लेकिन सभी के प्रयास से इसे पूरा किया गया.’

मरम्मत के उपरांत कश्मीरी पर्यटन विभाग की मदद से इस मंदिर को पुनः वहां पर आने वाले पर्यटकों और आम लोगों के लिए खोल दिया गया है. इस अवसर पर पर्यटन विभाग के प्रमुख जीएन इट्टू ने अपना बयान दिया कि,’ पर्यटन विभाग घाटी के अन्य धार्मिक स्थलों की मरम्मत एवं सौंदर्यीकरण पर भी ध्यान दे रहा है क्योंकि हम चाहते हैं कि घाटी में धार्मिक पर्यटन को भी बढ़ावा मिले.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here