राहुल गांधी ने कहा: धर्म की दलाली करती है भाजपा सरकार, खुद को बोलती है हिंदू पार्टी, हिंदुत्व का असली मतलब तो सिर्फ गांधीजी जानते थे…

0
12
rahul-gandhi-said-bjp-government-brokers-religion-hindu-party-speaks-for-itself-only-gandhiji-knew-the-real-meaning-of-hindutva

BJP government brokers religion: अभी हाल ही में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार ऑल इंडिया महिला कांग्रेस के स्थापना दिवस के मौके पर नया प्रतीक चिन्ह और नए झंडे का अनावरण किया. दिल्ली में आयोजित इस कार्यक्रम में महिला कांग्रेस (Congress) का नया लोगो जारी किया गया है. इस मौके पर राहुल गांधी ने अपने बयान में कहा कि आज देश में आरएसएस-बीजेपी की सरकार है. इनकी जो विचारधारा और हमारी जो विचारधारा है दोनों बिल्कुल अलग है.

इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि वो किसी और दूसरी विचारधारा के साथ समझौता कर सकते हैं लेकिन कभी भी आरएसएस, बीजेपी की विचारधारा से समझौता नहीं कर सकते. उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस की विचारधारा, गांधी जी की विचारधारा और बीजेपी – आरएसएस की विचारधारा गोडसे और सावरकर की विचारधारा है. दोनों में क्या फर्क है. यह हम सबके लिए एक जरूरी सवाल है. सारी दुनिया को बीजेपी के लोग कहते हैं कि वो हिंदू पार्टी हैं. पर पिछले 100-200 साल में किसी ने हिंदू धर्म को सही से समझा है तो वो हैं महात्मा गांधी. बीजेपी भी इस बात को मानती है. RSS ने हिंदू की छाती में तीन गोली क्यों मारी. जिसको पूरी दुनिया उदाहरण मानती है. महात्मा गांधी ने अहिंसा को सबसे अच्छे तरीके से समझा और समझाया. हिंदू धर्म अहिंसा की बुनियाद है तो फिर उन्हें क्यों गोली मारी.

इस दौरान राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि दीपावली का त्योहार आने वाला है लक्ष्मी जी की मूर्ति आपने देखी हैं. मां लक्ष्मी क्या हैं. लक्ष्मी वो शक्ति है जो घर में पैसा लाती हैं ऐसा नहीं है. लक्ष्मी का सही मतलब लक्ष्य कोई राजनेता, कोई फुटबॉलर जिसका जो लक्ष्य होता उसे जो शक्ति पूरा करती है तो उसे लक्ष्मी कहते हैं. राहुल गांधी ने महिला कार्यकर्ताओं से दुर्गा का मतलब पूछा. उन्होंने कहा कि जो शक्ति रक्षा करती है उसे दुर्गा कहते हैं. राजनेता का काम दुर्गा और लक्ष्मी को इन शक्तियों को हर व्यक्तियों तक बिना भेदभाव के पहुंचाने का होता है. दुर्गा मतलब रक्षा और लक्ष्मी मतलब लक्ष्य पूरा करने का काम. वहीं उन्होंने यह भी कहा कि कुछ पार्टी तो बस धर्म की दलाली करके अपना पेट पाल रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here