ब्रेकिंग: यूपी में बड़ी हलचल, पहली बार केशव मौर्य के घर पहुंचे योगी आदित्यनाथ

0
610

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से उनके घर मिलने के लिए पहुंचे! यह पहली बार हुआ है जो मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री के आवास पर गए हैं! बताया तो यह जा रहा है कि 7 कालिदास मार्ग स्थित केशव प्रसाद मौर्य के घर पर दोनों नेताओं के बीच डेढ़ घंटे तक बातचीत चली है! मुख्यमंत्री योजना आवास 5 कालिदास मार्ग पर स्थित उनके आवास से एक वास को छोड़कर 7 केडी बंगला केशव प्रसाद मौर्या का है मुख्यमंत्री पहली बार उनके घर पहुंचे हैं कहा तो यह जा रहा है कि केशव प्रसाद मौर्य के बेटे की शादी की बधाई वाली औपचारिकता की इस मुलाकात का कारण था!

बताया यह भी जा रहा है कि कोर कमेटी का केशव प्रसाद मौर्य के घर पर लंच था जहां संघ के किशन गोपाल सहित बीजेपी कोर कमेटी के सभी सदस्य लंच के लिए आए थे इसलिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री उनके घर पहुंचे थे!

योगी मंत्रियों के साथ आज होगा मंथन

बीएल संतोष मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी और मंत्रियों के साथ शाम को बीजेपी के मुख्यालय में बैठेंगे! इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के प्रभारी राधामोहन सिंह प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल भी इस बैठक के अंदर मौजूद रहेंगे! इस दौरान वही मंत्रियों ने उनके विभागों में हुए काम काजो का विवरण लिया जाएगा!

केशव और मुख्यमंत्री योगी में मनमुटाव?

उत्तर प्रदेश को लेकर पार्टी नेतृत्व ने ही है क्या रहा हो कि कोई भी क्लेश नहीं था लेकिन मीडिया जनित भ्रम में था वह भी अब खत्म हो गया है लेकिन वहां आप भी योगी बनाम केशव प्रसाद मौर्य चल रहा है! केशव साल 2017 में मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे थे पार्टी ने उनको चुनाव के मौके पर प्रदेश अध्यक्ष बनाकर यह संकेत भी दिया था! वहीं चुनाव के नतीजे आज आने के बाद आखिरी मौके पर उनको उपमुख्यमंत्री बनना पड़ गया था केशव प्रसाद मौर्या साल 2022 के उत्तर प्रदेश का चुनाव असम मॉडल पर चाहते हैं कि चुनाव में किसी का मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित न किया जाए मुख्यमंत्री का फैसला विधानमंडल की बैठक में हो!

2022 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ? केशव प्रसाद मौर्य ने दिया था यह जवाब

उत्तर प्रदेश के अंदर 2022 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी का मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा इस सवाल के जवाब में उपमुख्यमंत्री ने योगी जी का नाम नहीं लिया था उनका कहना था कि केंद्रीय नेतृत्व इसका फैसला लेगा उन्होंने असम मॉडल की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के अंदर चुनाव कराए जाने की मांग की है!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here