‘तमीज नहीं है क्या… क्यों नहीं दे रही तू’: महिला अधिकारी के साथ कॉन्ग्रेस, Video वायरल

राजस्थान के पूर्व मंत्री व मांडल से कांग्रेस विधायक रामलाल जाट (Ramlal Jat) की एक ऑडियो सामने आई है. इस ऑडियो में उन्हें हुरडा तहसीलदार स्वाति झा (swati Jha) के साथ बातचीत करते हुए सुना जा रहा है. इस ऑडियो में रामलाल जाट महिला तहसीलदार से तू-तड़ाक करते सुनाई पड़ रहे हैं. सुनने में आ रहा है कि पहले कांग्रेस विधायक ने तहसीलदार से फोन पर अभद्रता से बात की और फिर उन्हें एपीओ (APO) कर दिया गया. इस घटना के बाद राजस्थान तहसीलदार सेवा परिषद में नाराजगी का माहौल है. इसके संबंध में तहसीलदार सेवा परिषद में रामलाल जाट के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्हें पूरे मामले की जानकारी दी गई है. साथ ही इसमें मांग की गई है कि अगर मामले में सही रूप से कार्यवाही नहीं की गई तो उन्हें राज्यव्यापी आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ेगा. इस परिषद का कहना है कि फोन पर विधायक द्वारा तहसीलदार स्वाति झांसे अब मर्यादित और अभद्र तरीके से बातचीत कर धमकाया गया. कुछ ही घंटों के बाद राजस्व मंडल ने स्वाति झा को पोस्टिंग की प्रतीक्षा में रखते हुए उन्हें एपीओ करने के आदेश जारी कर दिए. बात यहीं पर खत्म नहीं हुई. इसके बाद विधायक के व्यक्ति तहसीलदार के घर पहुंचे और वहां काम करने वाले एक दलित के साथ मारपीट भी की. इस संबंध में गुलाबपुरा थाने में केस दर्ज है. इस परिषद की मांग है कि दोषियों के खिलाफ जांच करके सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए. इसके उलट रामलाल घटा ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि तहसीलदार सही रूप से जनता का काम नहीं कर रही थी. आगे उन्होंने कहा कि तहसीलदार को जनता के काम को बताने ही होंगे. इसमें अभद्रता वाली क्या बात है. इस वायरल वीडियो में रामलाल जाट अपने पद का धौंस दिखाते हुए महिला अधिकारी को कह रहे हैं कि,' तुझे बोलने की तमीज नहीं है क्या... इतना भी नहीं लगता कोई जनप्रतिनिधि तुझे फोन कर रहा है' इसके बाद महिला कहते हैं,' सर आप मुझसे तू तड़ाक करके बात कर रहे हैं आपने मुझे कभी फोन नहीं किया और आप मुझसे तमीज से भी बात नहीं कर रहे हैं'. इतना मैं कांग्रेस नेता की आवाज तेज हो जाती है और वह आगे कहते हैं कि,' स्कोर नकल दे तू. क्यों नहीं दे रही है तू.' इस पूरी बातचीत के दौरान महिला अधिकारी बताती हैं कि अभी ऑफिस में लोग नहीं हैं और उन्होंने ना तो किसी से बदसलूकी की है और ना ही उन्हें कोई फोन आया है. इस वीडियो में महिला अधिकारी अपने दफ्तर आए युवक को लेकर बताती हैं कि उस युवक ने महिला को रामलाल जाट का नाम लेकर धमकी दी कि वह उनका ट्रांसफर करवा देगा. साथ ही साथ उस लड़के ने भी महिला के साथ बदसलूकी की. इस वीडियो में महिला लगातार कहती हैं कि जब लोग होंगे, तभी दस्तावेज की नकल मिलेगी. रामलाल जाट ने दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान कहा कि वह एक महिला को जमीन नामंत्रण का काम करने के लिए फोन कर रहे थे और फोन पर तहसीलदार से उन्होंने कोई अभद्रता नहीं की. रामलाल जाट का यह भी कहा था कि स्वाति झा जहां भी रहे हैं, उनका ट्रैक रिकॉर्ड विवादित ही रहा है और हमेशा ही वह जनता के कामों में रोड़े अटका आते हैं.
 

‘तमीज नहीं है क्या… क्यों नहीं दे रही तू’: महिला अधिकारी के साथ कॉन्ग्रेस, Video वायरल

राजस्थान के पूर्व मंत्री व मांडल से कांग्रेस विधायक रामलाल जाट (Ramlal Jat) की एक ऑडियो सामने आई है. इस ऑडियो में उन्हें हुरडा तहसीलदार स्वाति झा (swati Jha) के साथ बातचीत करते हुए सुना जा रहा है. इस ऑडियो में रामलाल जाट महिला तहसीलदार से तू-तड़ाक करते सुनाई पड़ रहे हैं. सुनने में आ रहा है कि पहले कांग्रेस विधायक ने तहसीलदार से फोन पर अभद्रता से बात की और फिर उन्हें एपीओ (APO) कर दिया गया. इस घटना के बाद राजस्थान तहसीलदार सेवा परिषद में नाराजगी का माहौल है. इसके संबंध में तहसीलदार सेवा परिषद में रामलाल जाट के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्हें पूरे मामले की जानकारी दी गई है. साथ ही इसमें मांग की गई है कि अगर मामले में सही रूप से कार्यवाही नहीं की गई तो उन्हें राज्यव्यापी आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ेगा. इस परिषद का कहना है कि फोन पर विधायक द्वारा तहसीलदार स्वाति झांसे अब मर्यादित और अभद्र तरीके से बातचीत कर धमकाया गया. कुछ ही घंटों के बाद राजस्व मंडल ने स्वाति झा को पोस्टिंग की प्रतीक्षा में रखते हुए उन्हें एपीओ करने के आदेश जारी कर दिए. बात यहीं पर खत्म नहीं हुई. इसके बाद विधायक के व्यक्ति तहसीलदार के घर पहुंचे और वहां काम करने वाले एक दलित के साथ मारपीट भी की. इस संबंध में गुलाबपुरा थाने में केस दर्ज है. इस परिषद की मांग है कि दोषियों के खिलाफ जांच करके सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए. इसके उलट रामलाल घटा ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि तहसीलदार सही रूप से जनता का काम नहीं कर रही थी. आगे उन्होंने कहा कि तहसीलदार को जनता के काम को बताने ही होंगे. इसमें अभद्रता वाली क्या बात है. इस वायरल वीडियो में रामलाल जाट अपने पद का धौंस दिखाते हुए महिला अधिकारी को कह रहे हैं कि,' तुझे बोलने की तमीज नहीं है क्या... इतना भी नहीं लगता कोई जनप्रतिनिधि तुझे फोन कर रहा है' इसके बाद महिला कहते हैं,' सर आप मुझसे तू तड़ाक करके बात कर रहे हैं आपने मुझे कभी फोन नहीं किया और आप मुझसे तमीज से भी बात नहीं कर रहे हैं'. इतना मैं कांग्रेस नेता की आवाज तेज हो जाती है और वह आगे कहते हैं कि,' स्कोर नकल दे तू. क्यों नहीं दे रही है तू.' इस पूरी बातचीत के दौरान महिला अधिकारी बताती हैं कि अभी ऑफिस में लोग नहीं हैं और उन्होंने ना तो किसी से बदसलूकी की है और ना ही उन्हें कोई फोन आया है. इस वीडियो में महिला अधिकारी अपने दफ्तर आए युवक को लेकर बताती हैं कि उस युवक ने महिला को रामलाल जाट का नाम लेकर धमकी दी कि वह उनका ट्रांसफर करवा देगा. साथ ही साथ उस लड़के ने भी महिला के साथ बदसलूकी की. इस वीडियो में महिला लगातार कहती हैं कि जब लोग होंगे, तभी दस्तावेज की नकल मिलेगी. रामलाल जाट ने दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान कहा कि वह एक महिला को जमीन नामंत्रण का काम करने के लिए फोन कर रहे थे और फोन पर तहसीलदार से उन्होंने कोई अभद्रता नहीं की. रामलाल जाट का यह भी कहा था कि स्वाति झा जहां भी रहे हैं, उनका ट्रैक रिकॉर्ड विवादित ही रहा है और हमेशा ही वह जनता के कामों में रोड़े अटका आते हैं.