न्यूज़

बागपत-बड़ौत में गुरु-शिष्या का रिश्ता हुआ शर्मसार

Demo pics Credit by : Google

घर के बाद एक स्कूल व कोचिंग ही ऐसी जगह होती है, जहां परिवार के लोग अपने क्षेत्र में एक मील का पत्थर रखने वाले दिगम्बर जैन महाविद्यालय का है जहां पर एमए अर्थशास्त्र विषय मे पढ़ाई करने वाली एक छात्रा से शिक्षक ने अश्लील हरकत करते हुए उसे अलग कमरे में बुलाने को बाध्य करने का प्रयास किया। छात्रा ने इस मामले की शिकायत कॉलेज प्राचार्य से की तो कॉलेज प्रबंधन में हड़कम्प मच गया।

शिक्षक अपनी इस घिनोनी हरकत पर शर्मसार होने के बजाय छात्रा को फोन पर धमकियां तक दे रहा है। खास बात यह है कि यह आरोपी शिक्षक बसपा के जिलाध्यक्ष भी है और लगातार अपनी पार्टी के ओहदे की धौंस भी छात्रा को दे रहे है। आलम यह हो चुका है कि अब छात्रा बेहद डरी और सहमी हुई है क्योंकि कॉलेज प्रबंधन इस मामले में लापरवाही बरतते हुए कोई कार्यवाही उक्त शिक्षक के खिलाफ नहीं कर रहा है।

पीड़ित छात्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि वह एमए अर्थशास्त्र द्वितीय सेमेस्टर की पढ़ाई डीजे कॉलेज से कर रही है। विभाग के शिक्षक ने उन्हें कॉलेज के कमरा नम्बर तीन में पढ़ाई के लिए बुलाया था। जब वह वहाँ पहुँची तो वहां शिक्षक के अलावा अन्य छात्र नहीं थे। उसे यह देखकर काफी अजीब भी लगा। तभी शिक्षक ने उसके साथ अश्लील हरकतें करते हुए उसे अपने निर्देशन में पीएचडी तक कराने की बात कही। शिक्षक ने उसके साथ छेड़छाड़ करते हुए उसे कॉलेज के एक दूसरे खाली कमरे में ले जाने की भी बात कही।

इस पर वह किसी तरह शिक्षक से पीछा छुड़ाकर भाग निकली। कॉलेज प्राचार्य को लिखित शिकायत के बाद आरोपी शिक्षक ने माफीनामा की भी बात कही, लेकिन अब शिक्षक माफीनामा देने के बजाय शिकायत वापस लेने के लिए धमकी तक दे रहे है जिससे वह काफी डरी हुई है। वहीं कॉलेज प्राचार्य डॉ वीरेंद्र सिंह का कहना है कि कॉलेज की छात्रा ने लिखित में शिक्षक पर छेड़छाड़ करने की शिकायत की है, मामले में गंभीरता से जांच की जा रही है, कार्रवाही भी की जाएगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The Latest

To Top
// Infinite Scroll $('.infinite-content').infinitescroll({ navSelector: ".nav-links", nextSelector: ".nav-links a:first", itemSelector: ".infinite-post", loading: { msgText: "Loading more posts...", finishedMsg: "Sorry, no more posts" }, errorCallback: function(){ $(".inf-more-but").css("display", "none") } }); $(window).unbind('.infscr'); $(".inf-more-but").click(function(){ $('.infinite-content').infinitescroll('retrieve'); return false; }); $(window).load(function(){ if ($('.nav-links a').length) { $('.inf-more-but').css('display','inline-block'); } else { $('.inf-more-but').css('display','none'); } }); $(window).load(function() { // The slider being synced must be initialized first $('.post-gallery-bot').flexslider({ animation: "slide", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, itemWidth: 80, itemMargin: 10, asNavFor: '.post-gallery-top' }); $('.post-gallery-top').flexslider({ animation: "fade", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, prevText: "<", nextText: ">", sync: ".post-gallery-bot" }); }); });