मोहम्मद उवैश ने बाबू बनकर सातवीं कक्षा की लड़की को प्रेम जाल में फंसाया, धर्म परिवर्तन कराने की योजना, पुलिस ने घसीटा

उत्तर प्रदेश के कानपुर से बिहार चौका देने वाली खबर सामने आ रही है! खबर ऐसी है कि जिसको सुनकर आप हैरान रह जाएंगे क्योंकि इस बार लव जिहाद के मामले में सातवीं कक्षा की एक लड़की का मामला सामने आ रहा है! दर्शन कानपुर में मोहम्मद उवैश ने बाबू बनकर पहले आठवीं क्लास की लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसाया और फिर अपनी बहन के साथ मिलकर उसके ऊपर इस्लाम कबूल ने का दबाव होना है! हालांकि पुलिस ने इस पूरे मामले को लेकर आरोपी मोहम्मद उवैश और उसकी बहन माही हयात को गिरफ्तार कर लिया है! नौबस्ता थाना क्षेत्र में रहने वाली 13 वर्षीय छात्रा से निर्माणाधीन अपार्टमेंट में मजदूरी करने वाले मोहम्मद ने बाबू नाम बता कर छात्रा से दोस्ती की थी! यह शख्स अजीतगंज का निवासी है! दोस्ती करने के बाद फोन पर दोनों के बीच बातचीत होने लगी छात्रा के परिजनों का आरोप है कि गुरुवार को वह बड़ी बेटी के साथ बाजार गई थी तभी आरोपी बेटी को बहला-फुसलाकर साथ ले गया! पीड़िता की मां ने लव जिहाद का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी है! इतना ही नहीं बल्कि पीड़िता की मां ने मोहम्मद पर नाबालिग को नमाज पढ़ने के तौर तरीके सिखाने का आरोप लगाया है! पीड़िता की मां ने बताया है कि आरोपित काम के दौरान अक्सर पानी मांगने के बहाने उसके घर आया करता था इस दौरान उसने अपनी धार्मिक पहचान छुपाते हुए अपना नाम बाबू बताया था! आरोपी और उसकी बहन माही हयात ने उनकी बेटी से दोस्ती कर ली थी और दोनों फोन और बेटी से अक्सर बात ही करते रहते थे! फोन से बातचीत करते हुए मोहम्मद ने उसकी बेटी से नजदीकियां बढ़ा ली थी और इन सब में उसका साथ उसकी बहन ने दिया था! इतना ही नहीं बल्कि दोनों आरोपियों ने हिंदू लड़के को अपने ही परिवार वालों के खिलाफ बरगलाना शुरू कर दिया था एक तरफ जहां वह इसे इस्लाम कबूल ने का दबाव बना रहे थे वही नमाज और आयात पढ़ने के तरीके भी सिखाते थे! जानकारी के लिए बता दें कि पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद दोनों भाई बहनों की असली पहचान सामने आई है! नौबस्ता थाना प्रभारी कुंज बिहारी मिश्र ने बताया है कि छात्रा से पूछताछ में सामने आया है कि आरोपित की बहन उससे फोन पर बात खाती थी! बहन के कहने पर भी उसने अपना नाम बाबू लेना था! छात्रों ने बताया है कि बाबू की गढ़वाली उससे कहा करते थे कि जब भी पुलिस से सामना हो अपने घर वालों के खिलाफ बोलना हम तुम्हारा धर्म परिवर्तन करा कर तुम्हें अपना लेंगे! नौबस्ता थाना प्रभारी ने बताया है कि छात्रा की मां की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ गलत नाम बता कर दोस्ती करने बहला-फुसलाकर ले गाना ही में मुकदमा दर्ज किया गया है!
 

मोहम्मद उवैश ने बाबू बनकर सातवीं कक्षा की लड़की को प्रेम जाल में फंसाया, धर्म परिवर्तन कराने की योजना, पुलिस ने घसीटा

उत्तर प्रदेश के कानपुर से बिहार चौका देने वाली खबर सामने आ रही है! खबर ऐसी है कि जिसको सुनकर आप हैरान रह जाएंगे क्योंकि इस बार लव जिहाद के मामले में सातवीं कक्षा की एक लड़की का मामला सामने आ रहा है! दर्शन कानपुर में मोहम्मद उवैश ने बाबू बनकर पहले आठवीं क्लास की लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसाया और फिर अपनी बहन के साथ मिलकर उसके ऊपर इस्लाम कबूल ने का दबाव होना है! हालांकि पुलिस ने इस पूरे मामले को लेकर आरोपी मोहम्मद उवैश और उसकी बहन माही हयात को गिरफ्तार कर लिया है! नौबस्ता थाना क्षेत्र में रहने वाली 13 वर्षीय छात्रा से निर्माणाधीन अपार्टमेंट में मजदूरी करने वाले मोहम्मद ने बाबू नाम बता कर छात्रा से दोस्ती की थी! यह शख्स अजीतगंज का निवासी है! दोस्ती करने के बाद फोन पर दोनों के बीच बातचीत होने लगी छात्रा के परिजनों का आरोप है कि गुरुवार को वह बड़ी बेटी के साथ बाजार गई थी तभी आरोपी बेटी को बहला-फुसलाकर साथ ले गया! पीड़िता की मां ने लव जिहाद का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी है! इतना ही नहीं बल्कि पीड़िता की मां ने मोहम्मद पर नाबालिग को नमाज पढ़ने के तौर तरीके सिखाने का आरोप लगाया है! पीड़िता की मां ने बताया है कि आरोपित काम के दौरान अक्सर पानी मांगने के बहाने उसके घर आया करता था इस दौरान उसने अपनी धार्मिक पहचान छुपाते हुए अपना नाम बाबू बताया था! आरोपी और उसकी बहन माही हयात ने उनकी बेटी से दोस्ती कर ली थी और दोनों फोन और बेटी से अक्सर बात ही करते रहते थे! फोन से बातचीत करते हुए मोहम्मद ने उसकी बेटी से नजदीकियां बढ़ा ली थी और इन सब में उसका साथ उसकी बहन ने दिया था! इतना ही नहीं बल्कि दोनों आरोपियों ने हिंदू लड़के को अपने ही परिवार वालों के खिलाफ बरगलाना शुरू कर दिया था एक तरफ जहां वह इसे इस्लाम कबूल ने का दबाव बना रहे थे वही नमाज और आयात पढ़ने के तरीके भी सिखाते थे! जानकारी के लिए बता दें कि पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद दोनों भाई बहनों की असली पहचान सामने आई है! नौबस्ता थाना प्रभारी कुंज बिहारी मिश्र ने बताया है कि छात्रा से पूछताछ में सामने आया है कि आरोपित की बहन उससे फोन पर बात खाती थी! बहन के कहने पर भी उसने अपना नाम बाबू लेना था! छात्रों ने बताया है कि बाबू की गढ़वाली उससे कहा करते थे कि जब भी पुलिस से सामना हो अपने घर वालों के खिलाफ बोलना हम तुम्हारा धर्म परिवर्तन करा कर तुम्हें अपना लेंगे! नौबस्ता थाना प्रभारी ने बताया है कि छात्रा की मां की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ गलत नाम बता कर दोस्ती करने बहला-फुसलाकर ले गाना ही में मुकदमा दर्ज किया गया है!