कामिल ने हिंदू महिला को नाम बताया ‘कपिल,’धोखे से किया निकाह, जबरन पढ़वाई जाती थी नमाज़..खिलाया जाता था गौ-मांस

Namaz was forcibly recited ... beef was fed: पूरे देश से 'सेक्स जिहाद' के मामले कम होने का नाम ही नहीं ले रहे हैं.अभी-अभी एक ताजा मामला यूपी के बागपत से आया है. बागपत जिले के एक गांव की महिला से एक मुस्लिम युवक ने नाम बदलकर पहले तो कोर्ट में शादी की और उसके बाद मैं मुजफ्फरनगर जाकर निकाह कर लिया. उस महिला का आरोप है कि उसका 'धर्म परिवर्तन' कराया गया. गौरतलब है कि महिला ने इसकी शिकायत बागपत कोतवाली में दर्ज कराई है जिसके बाद पुलिस ने धर्म परिवर्तन की धाराओं में आरोपी को पकड़ कर उसे जेल भेज दिया है. सूत्रों की मानें तो महिला ने आरोप लगाया है कि बागपत (Bagpat) के खट्टा प्रहलादपुर गांव का एक युवक जो अपना नाम कपिल बताता था उसके साथ उसने 2011 में मेरठ जाकर कोर्ट मैरिज कर ली थी. कुछ समय बाद युवक उसको मुजफ्फरनगर के फ फुलत गांव ले गया और दबाव बनाकर उसके साथ निकाह कर लिया. मुजफ्फरनगर जाकर महिला को पता चला कि युवक का नाम कपिल नहीं कामिल है. मुजफ्फरनगर मैं उसे युवक की असलियत पता चला और उसने यह भी जाना कि वह युवक 3 बच्चों का पिता है. महिला ने आरोप लगाया है कि उस को बंधक बनाकर रखा गया और जबरदस्ती उसका धर्म परिवर्तन भी कराया गया. पुलिस प्रशासन ने बताया कि महिला पर नवाज पढ़ने और गौमांस खाने का दबाव बनाया जाता था और विरोध करने पर मारपीट भी की जाती थी. महिला का कहना है कि असलियत सामने आने के बाद उसे 9 साल तक बंधक बनाकर रखा गया. लेकिन मौका मिलते ही वह आरोपित के चंगुल से भाग निकली. महिला थाने में मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो उसने डीएम के यहां शिकायत की और डीएम के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
 

कामिल ने हिंदू महिला को नाम बताया ‘कपिल,’धोखे से किया निकाह, जबरन पढ़वाई जाती थी नमाज़..खिलाया जाता था गौ-मांस

Namaz was forcibly recited ... beef was fed: पूरे देश से 'सेक्स जिहाद' के मामले कम होने का नाम ही नहीं ले रहे हैं.अभी-अभी एक ताजा मामला यूपी के बागपत से आया है. बागपत जिले के एक गांव की महिला से एक मुस्लिम युवक ने नाम बदलकर पहले तो कोर्ट में शादी की और उसके बाद मैं मुजफ्फरनगर जाकर निकाह कर लिया. उस महिला का आरोप है कि उसका 'धर्म परिवर्तन' कराया गया. गौरतलब है कि महिला ने इसकी शिकायत बागपत कोतवाली में दर्ज कराई है जिसके बाद पुलिस ने धर्म परिवर्तन की धाराओं में आरोपी को पकड़ कर उसे जेल भेज दिया है. सूत्रों की मानें तो महिला ने आरोप लगाया है कि बागपत (Bagpat) के खट्टा प्रहलादपुर गांव का एक युवक जो अपना नाम कपिल बताता था उसके साथ उसने 2011 में मेरठ जाकर कोर्ट मैरिज कर ली थी. कुछ समय बाद युवक उसको मुजफ्फरनगर के फ फुलत गांव ले गया और दबाव बनाकर उसके साथ निकाह कर लिया. मुजफ्फरनगर जाकर महिला को पता चला कि युवक का नाम कपिल नहीं कामिल है. मुजफ्फरनगर मैं उसे युवक की असलियत पता चला और उसने यह भी जाना कि वह युवक 3 बच्चों का पिता है. महिला ने आरोप लगाया है कि उस को बंधक बनाकर रखा गया और जबरदस्ती उसका धर्म परिवर्तन भी कराया गया. पुलिस प्रशासन ने बताया कि महिला पर नवाज पढ़ने और गौमांस खाने का दबाव बनाया जाता था और विरोध करने पर मारपीट भी की जाती थी. महिला का कहना है कि असलियत सामने आने के बाद उसे 9 साल तक बंधक बनाकर रखा गया. लेकिन मौका मिलते ही वह आरोपित के चंगुल से भाग निकली. महिला थाने में मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो उसने डीएम के यहां शिकायत की और डीएम के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.