ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिला BJP में आने का शानदार तोहफा…

मध्यप्रदेश में कांग्रेस के सरकार को गिराने में ज्योतिरादित्य सिंधिया की काफी अहम भूमिका रही थी. रिपोर्ट की माने तो बीजेपी सरकार ज्योतिरादित्य सिंधिया को उनकी वफादारी के लिए बड़ा इनाम दे सकती हैं. खबर है कि उनको कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है. ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिल सकता है बड़ा मंत्रालय जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी के काफी करीबी रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी कैबिनेट में एक महत्वपूर्ण स्थान मिल सकता है. संसद के मानसून सत्र से पहले मोदी कैबिनेट का विस्तार भी हो सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक सिंधिया को रेल मंत्रालय या मानव संसाधन विकास मंत्रालय दिया जा सकता है इसके अलावा उन्हें शहरी विकास मंत्रालय मिलने की संभावना है. गौरतलब है कि मोदी सरकार में अभी फिलहाल 60 मंत्री हैं. जिसकी संख्या 80 तक बढ़ाई जा सकती है. इसका कारण यह है कि कई मंत्रियों के पास दो-तीन मंत्रालय है. फिलहाल मोदी सरकार मंत्रालय में युवा नेताओं को शामिल करने के फिराक में है. सिंधिया के साथ दो पूर्व मुख्यमंत्रियों महाराष्ट्र देवेंद्र फडणवीस और असम के सर्बानंद सोनोवाल को भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने की उम्मीद है. वही सिंधिया खेमे के वरिष्ठ नेता के अनुसार मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार जल्दी से जल्दी हो सकता है जिसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम पर मुहर लग चुकी है. पहले भी रह चुके हैं केंद्रीय मंत्री सिंधिया दो बार पूर्व कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं. आपको बता दें कि मनमोहन सरकार में उन्हें केंद्रीय सूचना और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री बनाया गया था वह साल 2009 में सिंधिया को वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी भी सौंपी गई थी. गौरतलब है कि 49 वर्षीय सिंधिया 2002 में कांग्रेस में शामिल हुए थे. 18 वर्ष बाद इसी साल मार्च में उन्होंने कांग्रेस छोड़ दिए और बीजेपी में शामिल हो गए. सिंधिया के साथ 22 विधायक भी त्यागपत्र देकर बीजेपी में शामिल हो गए. इस वजह से कांग्रेस सरकार गिर गई और शिवराज चौहान नेतृत्व में बीजेपी ने दोबारा मध्य प्रदेश मैं सरकार बनाई.
 

ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिला BJP में आने का शानदार तोहफा…

मध्यप्रदेश में कांग्रेस के सरकार को गिराने में ज्योतिरादित्य सिंधिया की काफी अहम भूमिका रही थी. रिपोर्ट की माने तो बीजेपी सरकार ज्योतिरादित्य सिंधिया को उनकी वफादारी के लिए बड़ा इनाम दे सकती हैं. खबर है कि उनको कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिल सकता है बड़ा मंत्रालय

जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी के काफी करीबी रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी कैबिनेट में एक महत्वपूर्ण स्थान मिल सकता है. संसद के मानसून सत्र से पहले मोदी कैबिनेट का विस्तार भी हो सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक सिंधिया को रेल मंत्रालय या मानव संसाधन विकास मंत्रालय दिया जा सकता है इसके अलावा उन्हें शहरी विकास मंत्रालय मिलने की संभावना है. गौरतलब है कि मोदी सरकार में अभी फिलहाल 60 मंत्री हैं. जिसकी संख्या 80 तक बढ़ाई जा सकती है. इसका कारण यह है कि कई मंत्रियों के पास दो-तीन मंत्रालय है. फिलहाल मोदी सरकार मंत्रालय में युवा नेताओं को शामिल करने के फिराक में है. सिंधिया के साथ दो पूर्व मुख्यमंत्रियों महाराष्ट्र देवेंद्र फडणवीस और असम के सर्बानंद सोनोवाल को भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने की उम्मीद है. वही सिंधिया खेमे के वरिष्ठ नेता के अनुसार मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार जल्दी से जल्दी हो सकता है जिसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम पर मुहर लग चुकी है.

पहले भी रह चुके हैं केंद्रीय मंत्री

सिंधिया दो बार पूर्व कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं. आपको बता दें कि मनमोहन सरकार में उन्हें केंद्रीय सूचना और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री बनाया गया था वह साल 2009 में सिंधिया को वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी भी सौंपी गई थी. गौरतलब है कि 49 वर्षीय सिंधिया 2002 में कांग्रेस में शामिल हुए थे. 18 वर्ष बाद इसी साल मार्च में उन्होंने कांग्रेस छोड़ दिए और बीजेपी में शामिल हो गए. सिंधिया के साथ 22 विधायक भी त्यागपत्र देकर बीजेपी में शामिल हो गए. इस वजह से कांग्रेस सरकार गिर गई और शिवराज चौहान नेतृत्व में बीजेपी ने दोबारा मध्य प्रदेश मैं सरकार बनाई.