पीएम मोदी को सुब्रमण्यम स्वामी ने चिट्ठी लिखकर कहा: भ्रष्टाचार की जांच में देरी होने से भाजपा की खराब हो रही छवि

Subramanian Swamy wrote a letter to PM Modi: अभी हाल ही में बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanyam Swami) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खत लिखा है. इस पत्र में उन्होंने भ्रष्टाचार की जांच देरी से करवाने के बारे में चिंता जताते हुए लिखा है कि इसकी वजह से बीजेपी की छवि चारों ओर खराब हो रही है. इस पत्र में उन्होंने सोनिया गांधी, राहुल गांधी, पी चिदंबरम, रॉबर्ट वाड्रा और अन्य लोगों से जुड़े कई मामलों में अभियोजन में देरी से बीजेपी की छवि खराब होने की बात कही है. बता दें कि उन्होंने दो पन्ने की चिट्ठी पीएम मोदी को लिखी है. इस पत्र को उन्होंने अपने अधिकारिक टि्वटर हैंडल से भी शेयर की है. उन्होंने पत्र में लिखा है कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि सरकार द्वारा भ्रष्टाचार के कई मामलों में अभियोजन में एक असाधारण और व्याख्या करने में देरी हो रही है, जो यूपीए की सरकार के समय हुआ था. उन्होंने इस पत्र में आगे लिखा है कि, ‘ 2जी घोटाले (2G Scam) की अपील दिल्ली हाईकोर्ट में लंबित है या फिर जमानत पर चल रहे लोगों के खिलाफ पड़े हुए मुकदमे हो. एयरसेल मैक्सिस और आईएनएक्स मीडिया रिश्वत मामले में पी चिदंबरम और उनके पुत्र का मामला हो या नेशनल हेराल्ड केस में अनियमितता के मामले में सोनिया गांधी और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) जो जमानत पर बाहर हैं. बता दें कि बीजेपी सांसद में प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा पर भी आरोप लगाया कि उनके खिलाफ दर्ज काले धन के मामले में कुछ भी आगे नहीं किया गया है. https://twitter.com/Swamy39/status/1433714518991929349 स्वामी ने अपने बयान में आगे कहा है कि इन सब वजहों से पार्टी की छवि को नुकसान पहुंच रहा है क्योंकि 2014 के चुनावी अभियान के दौरान राष्ट्रीय और स्थानीय स्तर पर हुए चुनाव में भ्रष्टाचार से लड़ना हमारे मुख्य मुद्दे में शामिल था. गौरतलब है कि सुब्रमण्यम स्वामी की इस पोस्ट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है. एक टि्वटर यूजर ने लिखा है कि हाई प्रोफाइल भ्रष्टाचार की लिस्ट में राफेल है क्या? वहीं दूसरी ओर विकास सिंह नाम के ट्विटर यूजर लिखते हैं कि सर आपकी बात सरकार में कोई नहीं सुनता है, लेकिन जनता आपकी बात सुन रही है और समझ भी रही है. मौके का इंतजार है बस कोई आतंकी हमला बीच में न हो. वही एक और ट्विटर यूजर लिखते हैं कि इस सरकार ने भ्रष्टाचार से अपना फोकस हटा लिया है. यह केवल जाति के आधार पर राजनीति करने में लगी हुई है.
 

पीएम मोदी को सुब्रमण्यम स्वामी ने चिट्ठी लिखकर कहा: भ्रष्टाचार की जांच में देरी होने से भाजपा की खराब हो रही छवि

Subramanian Swamy wrote a letter to PM Modi: अभी हाल ही में बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ( Subramanyam Swami) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खत लिखा है. इस पत्र में उन्होंने भ्रष्टाचार की जांच देरी से करवाने के बारे में चिंता जताते हुए लिखा है कि इसकी वजह से बीजेपी की छवि चारों ओर खराब हो रही है. इस पत्र में उन्होंने सोनिया गांधी, राहुल गांधी, पी चिदंबरम, रॉबर्ट वाड्रा और अन्य लोगों से जुड़े कई मामलों में अभियोजन में देरी से बीजेपी की छवि खराब होने की बात कही है. बता दें कि उन्होंने दो पन्ने की चिट्ठी पीएम मोदी को लिखी है. इस पत्र को उन्होंने अपने अधिकारिक टि्वटर हैंडल से भी शेयर की है. उन्होंने पत्र में लिखा है कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि सरकार द्वारा भ्रष्टाचार के कई मामलों में अभियोजन में एक असाधारण और व्याख्या करने में देरी हो रही है, जो यूपीए की सरकार के समय हुआ था. उन्होंने इस पत्र में आगे लिखा है कि, ‘ 2जी घोटाले (2G Scam) की अपील दिल्ली हाईकोर्ट में लंबित है या फिर जमानत पर चल रहे लोगों के खिलाफ पड़े हुए मुकदमे हो. एयरसेल मैक्सिस और आईएनएक्स मीडिया रिश्वत मामले में पी चिदंबरम और उनके पुत्र का मामला हो या नेशनल हेराल्ड केस में अनियमितता के मामले में सोनिया गांधी और राहुल गांधी ( Rahul Gandhi) जो जमानत पर बाहर हैं. बता दें कि बीजेपी सांसद में प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा पर भी आरोप लगाया कि उनके खिलाफ दर्ज काले धन के मामले में कुछ भी आगे नहीं किया गया है. https://twitter.com/Swamy39/status/1433714518991929349 स्वामी ने अपने बयान में आगे कहा है कि इन सब वजहों से पार्टी की छवि को नुकसान पहुंच रहा है क्योंकि 2014 के चुनावी अभियान के दौरान राष्ट्रीय और स्थानीय स्तर पर हुए चुनाव में भ्रष्टाचार से लड़ना हमारे मुख्य मुद्दे में शामिल था. गौरतलब है कि सुब्रमण्यम स्वामी की इस पोस्ट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है. एक टि्वटर यूजर ने लिखा है कि हाई प्रोफाइल भ्रष्टाचार की लिस्ट में राफेल है क्या? वहीं दूसरी ओर विकास सिंह नाम के ट्विटर यूजर लिखते हैं कि सर आपकी बात सरकार में कोई नहीं सुनता है, लेकिन जनता आपकी बात सुन रही है और समझ भी रही है. मौके का इंतजार है बस कोई आतंकी हमला बीच में न हो. वही एक और ट्विटर यूजर लिखते हैं कि इस सरकार ने भ्रष्टाचार से अपना फोकस हटा लिया है. यह केवल जाति के आधार पर राजनीति करने में लगी हुई है.