मोदी कैबिनेट में जुड़ सकता ये बड़ा नाम, राजनाथ बोले- UP में 2022 का चुनाव योगी के नाम

भाजपा फिलहाल जबरदस्त मोदी सरकार विराम लग सकता है. कई नामों पर चर्चा हो रही है जिन्हें मंत्रिमंडल के विस्तार के दौरान जगह मिल सकती है. मीडिया बताए गए हैं जिनमें सबसे चौंकाने वाला नाम वरुण गांधी का है. और आजतक से बातचीत में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2022 का चुनाव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम पर ही लड़ा जाएगा और वह स्वतंत्र रूप से इस चुनाव का नेतृत्व करेंगे. टाइम्स नाउ की रिपोर्ट की मानें तो उन्हें कुछ सरकारी सूत्रों के 6 नाम मिले हैं. जिन्हें मोदी कैबिनेट में जगह मिलने की संभावना है, यह 6 नाम है ज्योतिरादित्य सिंधिया, वरुण गांधी, भूपेंद्र यादव, दिनेश त्रिवेदी अश्वनी वैष्णव और जामग्याल सेरिंग नामग्याल. https://twitter.com/TimesNow/status/1405552672334258179 इन नामों में ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिनेश त्रिवेदी पहले भी मनमोहन सरकार में मंत्रिमंडल का हिस्सा रह चुके हैं, गौरतलब है कि सिंधिया कांग्रेस को छोड़कर तो वहीं दूसरी ओर त्रिवेदी तृणमूल कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हुए हैं. भाजपा के वरिष्ठ रणनीतिकारों में से एक माने जाते हैं जिनके कारण पार्टी बिहार और हैदराबाद में अच्छा प्रदर्शन कर पाई तो वही वरुण गांधी पीलीभीत से सांसद हैं और उनकी छवि कट्टर हिंदुत्ववादी नेता की रही है. जामग्याल सेरिंग नामग्याल लद्दाख से सांसद हैं. लद्दाख हिल काउंसिल चुनाव में बीजेपी का दबदबा बनाने में उनका काफी अहम योगदान माना जा रहा है. इसके अलावा अश्वनी वैष्णव भी कैबिनेट के संभावित में से एक हैं. पूर्व आईएएस अधिकारी वैष्णव ओडिशा से बीजू जनता दल की सहायता से राज्यसभा सांसद चुने गए हैं. तो वहीं दूसरी तरफ राजनाथ सिंह ने यह स्पष्ट कर दिया है कि भाजपा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव वर्तमान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ही नेतृत्व में लड़ी जाएगी. सीएम योगी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित होने के बावजूद भी वह आइसोलेशन में काम करते रहे और उनके परिश्रम कर पर कोई भी सवाल नहीं उठा सकता. यूपी के सीएम का चेहरा वही बने रहेंगे. ध्यान देने वाली बात यह है कि पिछले कुछ दिनों से मीडिया के एक खास वर्ग की तरफ से यह पर प्रोपेगेंडा चलाया जा रहा था कि बीजेपी आलाकमान यूपी के नेतृत्व में बदलाव कर सकती है. लेकिन राजनाथ सिंह ने इन सारी अटकलों पर विराम दे दिया है. और कहा है कि यूपी में मुख्यमंत्री पद के इकलौते दावेदार योगी ही हैं
 

मोदी कैबिनेट में जुड़ सकता ये बड़ा नाम, राजनाथ बोले- UP में 2022 का चुनाव योगी के नाम

भाजपा फिलहाल जबरदस्त मोदी सरकार विराम लग सकता है. कई नामों पर चर्चा हो रही है जिन्हें मंत्रिमंडल के विस्तार के दौरान जगह मिल सकती है. मीडिया बताए गए हैं जिनमें सबसे चौंकाने वाला नाम वरुण गांधी का है. और आजतक से बातचीत में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2022 का चुनाव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम पर ही लड़ा जाएगा और वह स्वतंत्र रूप से इस चुनाव का नेतृत्व करेंगे. टाइम्स नाउ की रिपोर्ट की मानें तो उन्हें कुछ सरकारी सूत्रों के 6 नाम मिले हैं. जिन्हें मोदी कैबिनेट में जगह मिलने की संभावना है, यह 6 नाम है ज्योतिरादित्य सिंधिया, वरुण गांधी, भूपेंद्र यादव, दिनेश त्रिवेदी अश्वनी वैष्णव और जामग्याल सेरिंग नामग्याल. https://twitter.com/TimesNow/status/1405552672334258179 इन नामों में ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिनेश त्रिवेदी पहले भी मनमोहन सरकार में मंत्रिमंडल का हिस्सा रह चुके हैं, गौरतलब है कि सिंधिया कांग्रेस को छोड़कर तो वहीं दूसरी ओर त्रिवेदी तृणमूल कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हुए हैं. भाजपा के वरिष्ठ रणनीतिकारों में से एक माने जाते हैं जिनके कारण पार्टी बिहार और हैदराबाद में अच्छा प्रदर्शन कर पाई तो वही वरुण गांधी पीलीभीत से सांसद हैं और उनकी छवि कट्टर हिंदुत्ववादी नेता की रही है. जामग्याल सेरिंग नामग्याल लद्दाख से सांसद हैं. लद्दाख हिल काउंसिल चुनाव में बीजेपी का दबदबा बनाने में उनका काफी अहम योगदान माना जा रहा है. इसके अलावा अश्वनी वैष्णव भी कैबिनेट के संभावित में से एक हैं. पूर्व आईएएस अधिकारी वैष्णव ओडिशा से बीजू जनता दल की सहायता से राज्यसभा सांसद चुने गए हैं. तो वहीं दूसरी तरफ राजनाथ सिंह ने यह स्पष्ट कर दिया है कि भाजपा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव वर्तमान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ही नेतृत्व में लड़ी जाएगी. सीएम योगी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित होने के बावजूद भी वह आइसोलेशन में काम करते रहे और उनके परिश्रम कर पर कोई भी सवाल नहीं उठा सकता. यूपी के सीएम का चेहरा वही बने रहेंगे. ध्यान देने वाली बात यह है कि पिछले कुछ दिनों से मीडिया के एक खास वर्ग की तरफ से यह पर प्रोपेगेंडा चलाया जा रहा था कि बीजेपी आलाकमान यूपी के नेतृत्व में बदलाव कर सकती है. लेकिन राजनाथ सिंह ने इन सारी अटकलों पर विराम दे दिया है. और कहा है कि यूपी में मुख्यमंत्री पद के इकलौते दावेदार योगी ही हैं