हरिद्वार में आनंद गिरी से जुड़े अहम दस्तावेज सहित स्वामी को लेकर प्रयागराज आयी सीबीआई, अभियुक्तों से पूछताछ जारी

Why the formation of a new party of the Captain can prove to : हिन्दू धर्म के समर्थक महंत नरेंद्र गिरि (Narendra Giri) मौत से जुड़े कई अहम सबूत सीबीआई (CBI) के हाथ लगे हैं. जिसे लेकर सीबीआई की टीम प्रयागराज (Prayagraj) पहुंची. महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले की छानबीन कर रही सीबीआई की टीम स्वामी आनंद गिरी को लेकर प्रयागराज पुलिस लाइन लौट आई है. हम आपको बता दें कि बुधवार को सीबीआई की टीम आनंद गिरि को लेकर उत्तराखंड गई थी. उत्तराखंड से जांच पड़ताल और साक्ष्य लेकर सीबीआई की टीम प्रयागराज लौट चुकी है. सूत्रों के हवाले से यह बताया गया कि स्वामी आनंद गिरि के आश्रम से सीबीआई को ठोस सबूत मिले हैं. स्वामी आनंद गिरि का लैपटॉप सीबीआई ने बरामद कर लिया है और ब्लैकमेलिंग करने वाला कथित वीडियो भी बरामद किए जाने की पूरी संभावना जताई गई है. मुख्य तीनों अभियुक्तों से कई स्तरों पर पूछताछ - दूसरी तरफ , प्रयागराज पुलिस लाइन में आज भी आद्या प्रसाद तिवारी और उसके बेटे संदीप तिवारी से सीबीआई की पूछताछ जारी है. सबूत मिलने के बाद एक बार फिर से तीनों अभियुक्तों से अलग-अलग पूछताछ होगी. जरूरत पड़ने पर तीनों अभियुक्तों को एकसाथ बैठा कर भी सीबीआई पूछताछ कर सकती है. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि ये सीबीआई को अब नया क्या बताते है. गौरतलब है की बुधवार को हरिद्वार पहुंचने के बाद सीबीआई ने आनंद गिरि से देर रात 3 बजे तक पूछताछ की थी. जानकारी के मुताबिक सीबीआई ने गुरुवार को भी हरिद्वार में कई लोगों से पूछताछ करने के साथ ही कुछ और आश्रमों में छापेमारी की थी. सीबीआई ने आनंद गिरि के आश्रम में 7 घंटे से ज्यादा छानबीन की. निर्माणाधीन आश्रम से लैपटॉप और अन्य जरूरी दस्तावेज बरामद किए. हम आपको बताते चले की करीब 16 घंटों तक हरिद्वार में जांच करने के दौरान सीबीआई ने आनंद गिरि के कुछ करीबी लोगों से भी पूछताछ की. कुल मिलाकर करीब आधा दर्जन लोगों तक सीबीआई पहुंची. आनंद गिरि के मोबाइल फोन और इनकमिंग कॉल्स को लेकर भी सीबीआई पड़ताल कर रही है. बताया गया कि इस पूरे मामले में हरिद्वार के कई प्रॉपर्टी डीलर भी सीबीआई की रडार में हैं.
 

हरिद्वार में आनंद गिरी से जुड़े अहम दस्तावेज सहित स्वामी को लेकर प्रयागराज आयी सीबीआई, अभियुक्तों से पूछताछ जारी

Why the formation of a new party of the Captain can prove to : हिन्दू धर्म के समर्थक महंत नरेंद्र गिरि ( Narendra Giri) मौत से जुड़े कई अहम सबूत सीबीआई ( CBI) के हाथ लगे हैं. जिसे लेकर सीबीआई की टीम प्रयागराज (Prayagraj) पहुंची. महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले की छानबीन कर रही सीबीआई की टीम स्वामी आनंद गिरी को लेकर प्रयागराज पुलिस लाइन लौट आई है. हम आपको बता दें कि बुधवार को सीबीआई की टीम आनंद गिरि को लेकर उत्तराखंड गई थी. उत्तराखंड से जांच पड़ताल और साक्ष्य लेकर सीबीआई की टीम प्रयागराज लौट चुकी है. सूत्रों के हवाले से यह बताया गया कि स्वामी आनंद गिरि के आश्रम से सीबीआई को ठोस सबूत मिले हैं. स्वामी आनंद गिरि का लैपटॉप सीबीआई ने बरामद कर लिया है और ब्लैकमेलिंग करने वाला कथित वीडियो भी बरामद किए जाने की पूरी संभावना जताई गई है.

मुख्य तीनों अभियुक्तों से कई स्तरों पर पूछताछ -

दूसरी तरफ , प्रयागराज पुलिस लाइन में आज भी आद्या प्रसाद तिवारी और उसके बेटे संदीप तिवारी से सीबीआई की पूछताछ जारी है. सबूत मिलने के बाद एक बार फिर से तीनों अभियुक्तों से अलग-अलग पूछताछ होगी. जरूरत पड़ने पर तीनों अभियुक्तों को एकसाथ बैठा कर भी सीबीआई पूछताछ कर सकती है. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि ये सीबीआई को अब नया क्या बताते है. गौरतलब है की बुधवार को हरिद्वार पहुंचने के बाद सीबीआई ने आनंद गिरि से देर रात 3 बजे तक पूछताछ की थी. जानकारी के मुताबिक सीबीआई ने गुरुवार को भी हरिद्वार में कई लोगों से पूछताछ करने के साथ ही कुछ और आश्रमों में छापेमारी की थी. सीबीआई ने आनंद गिरि के आश्रम में 7 घंटे से ज्यादा छानबीन की.​ निर्माणाधीन आश्रम से लैपटॉप और अन्य जरूरी दस्तावेज बरामद किए. हम आपको बताते चले की करीब 16 घंटों तक हरिद्वार में जांच करने के दौरान सीबीआई ने आनंद गिरि के कुछ करीबी लोगों से भी पूछताछ की. कुल मिलाकर करीब आधा दर्जन लोगों तक सीबीआई पहुंची. आनंद गिरि के मोबाइल फोन और इनकमिंग कॉल्स को लेकर भी सीबीआई पड़ताल कर रही है. बताया गया कि इस पूरे मामले में हरिद्वार के कई प्रॉपर्टी डीलर भी सीबीआई की रडार में हैं.