जिन्हें गंभीर मधुमेह होता उन्हे इंसुलिन इंजेक्शन भी दिए जाते हैं लेकिन कम गंभीर लोगों में जीवन शैली में बदलाव करने से डायबिटीज को कंट्रोल में किया जा सकता है।

इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में ही न जाने कितने लोगों ने गंभीर बिमारियों के चलते दुनिया को अलविदा कह दिया था। इसी तरह से कई सेलेब्स हैं जो छोटी-बड़ी तमाम बिमारियों से जूझ रहे हैं। इस लिस्म में मोस्ट ग्लैमरस एक्ट्रेस सोनम कपूर का नाम भी शामिल है। उनकी फिटनेस को देखते हुए कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता कि वे भी किसी बिमारी का शिकार होंगी। जी हां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सोनम कपूर टाइप-1 डायबिटीज है।

सोनम को 17 साल की उम्र ये बीमारी हुई थी। सोमन कपूर इस बीमारी को कंट्रोल करने के लिए नियमित योग, एक्‍सरसाइज और हेल्‍दी डाइट लेती हैं और लंबे वक्त से इसका इलाज कर रही हैं।

अकेली सेलेब हैं जो इसका शिकार हैं। फिलहाल खबरों की मानें तो उनके अलावा प्रियंका चोपड़ा के पति निक जोनस भी इसी बिमारी से जूझ रहे हैं औऱ उन्हें भी शुरुआती दौर में इसके बारे में पता चल गया था।


जिनको डायबिटीज है उन को नियमित रूप से एक्सरसाइज करना चाहिए, धूम्रपान व शराब का सेवन करने से बचना चाहिए, किसी भी अधिक शुगर वाले फूड का सेवन नहीं करना चाहिए, काम मात्रा में खाना खाना चाहिए, वजन को कंट्रोल में रखना पड़ेगा इसके अलावा ब्लड शुगर बढ़ने पर डॉक्टर से तुरंत सलाह लेनी चाहिए ।

टाइप-1 डायबिटीज का इलाज

मायोक्लीनिक कहता है कि, कई रिसर्च के बावजूद टाइप-1 डायबिटीज का कोई इलाज डॉक्टर के पास नहीं है. जिसके कारण इंसुलिन इंजेक्शन, डाइट और लाइफस्टाइल की मदद से ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखने की कोशिश की जाती है. वरना, इसके कारण दिल की बीमारी, किडनी डैमेज, नर्व डैमेज, आई डैमेज आदि समस्याएं हो सकती हैं.

डायबिटीज कंट्रोल करने का तरीका

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ए1सी टेस्ट, फास्टिंग ब्लड शुगर टेस्ट, ग्लूकोज टॉलरेंस टेस्ट, रैंडम ब्लड शुगर टेस्ट आदि के द्वारा मधुमेह की जांच (Diabetes Tests) होने के बाद बीमारी की गंभीरता के मुताबिक इसका इलाज किया जाता है. जिन लोगों में गंभीर मधुमेह होता है, उन्हें इंसुलिन इंजेक्शन दिए जाते हैं. लेकिन कम गंभीर लोगों में जीवनशैली में बदलाव करके डायबिटीज को कंट्रोल करने की कोशिश की जाती है.