असम BTC चुनाव: कांग्रेस का जीता सिर्फ 1 प्रत्याशी, वह भी बीजेपी में हो गया शामिल

0
511

कांग्रेस कहने को राष्ट्रीय पार्टी है और भारत में आज के वक़्त में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी भी हैं. इसके बावजूद देश भर में होने वाले छोटे से लेकर बड़े चुनावों में उसके प्रत्याशियों का हाल निर्दलीय उम्मीदवारों से भी बुरा होता हैं. अब खबर आ रही हैं की ‘Bodoland Territorial Council (BTC)’ के चुनाव में कांग्रेस ने अपने 40 प्रत्याशी खड़े किये थे.

इन 40 प्रत्याशियों में से ‘Bodoland Territorial Council (BTC)’ के चुनाव में मात्र एक प्रत्याशी ने ही जीत हासिल की. कांग्रेस अभी उस प्रत्याशी को बधाई भी नहीं दी होगी की वह भी बीजेपी में शामिल हो गया. इस प्रत्याशी का नाम सुजल सिंघा बताया जा रहा हैं, इसके बीजेपी में शामिल होने के चलते बीजेपी की अब 10 सीटें हो चुकी हैं और असम में NDA की कुल 22 सीटें हो गयी हैं.

यह पूरा घटना क्रम तब हुआ जब श्रीरामपुर क्षेत्र से जीते सुजल सिंघा ने असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा की उपस्थिति में गुवाहाटी के होटल लिली में सोमवार (दिसंबर 14, 2020) को बीजेपी में शामिल होने का ऐलान कर दिया. BTC में UPPL-BJP गठबंधन पूर्ण बहुमत के पास 22 सीटें हो गयी.

इससे पहले 17 सालों तक सत्ता में काबिज रही बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF) थी लेकिन बीजेपी ने इस बार ऐसी रणनीति बनाई की बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF) का राजनीतिक वर्चस्व ही पूरी तरह से टूट गया और वह बहुमत से 4 सीटें दूर हो गयी. असम विधानसभा का सेमि फ़ाइनल माने वाले वाले इस चुनाव में बीजेपी ने UPPL और गण सुरक्षा पार्टी (जीएसपी) के रूप में अपने नए साथी तलाशें हैं.

राजनितिक पंडितों का कहना है की असम विधान चुनाव से पहले ‘स्वशासी निकाय बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल’ के इसी गठबंधन के साथ नए समीकरण बनाते हुए चुनाव में विरोधी पार्टियों को पस्त कर सकती हैं. बात करें कांग्रेस की तो उसने असलम जो की घोर मोदी विरोधी नेताओं में गिना जाता हैं, उसकी पार्टी के साथ गठबंधन किया था नतीजा दोनों को ही जनता ने नाकार दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here