चले थे मोदी सरकार को घेरने, फिर दिया ऐसा बयान की खुद हो गए ट्रोल

0
477

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और भविष्य में बनने वाले अध्यक्ष यानी राहुल गाँधी जी ने आज भारत के राष्ट्रपति के साथ मुलाकात की. उन्होंने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद जी की एक पत्र सौंपते हुए किसानों की मांगो पर हस्तक्षेप करने की मांग रखी हैं. राष्टपति भवन से बाहर आकर उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा की भारत में ‘कोई लोकतंत्र नहीं’ हैं.

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा की, “आपके पास एक असमर्थ शख्स है, जो कुछ भी नहीं समझता और सिस्टम को उन तीन-चार लोगों के पक्ष में चला रहा है, जो सब समझते हैं.” राहुल गांधी के इस बयान पर देश भर के लोग राहुल गांधी को ही इस बयान से जोड़कर उनका मजाक उड़ाने लगे.

सोशल मीडिया पर लोगों ने राहुल गांधी को लेकर तरह तरह के मीम्स बनाये और शेयर किये. लोगों का कहने का मतलब था की राहुल गांधी ने अपने बारे में इतनी अच्छी तरह से वर्णन किया है की बीजेपी वाले भी इतना अच्छा वर्णन नहीं कर सकते थे. सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति ने लिखा है की, “जैसे कि जिन तीन- चार लोगों का उन्होंने उल्लेख किया उसमें: पहला-सोनिया गाँधी, दूसरा- प्रियंका गाँधी, तीसरा- वो खुद यानी राहुल गाँधी, बाकी चौथा कौन है यह नहीं पता?”

आपको बता दें जो किसान बिल मोदी सरकार लेकर आयी है और उसे पास किया हैं. यह किसान बिल बीजेपी के घोषणा पत्र में नहीं था, बल्कि यह किसान बिल 2019 चुनाव में कांग्रेस के घोषणा पत्र में था. यहाँ तक की यह बिल 2017 पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी के भी घोषणा पत्र में था. इन सब बातों के बावजूद आज आम आदमी पार्टी और कांग्रेस इस बिल को पूंजीवादियों का बिल बता रहें हैं.

यही नहीं देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ.मनमोहन सिंह जी ने भी राज्यों को एपीएमसी अधिनियम में संशोधन करके इस बिल को पास करने की वकालत की थी. कांग्रेस के पास किसानों से जुड़ा यह एक मुद्दा था. जिसके सहारे वह आने वाले सालों में किसानों पर राजनीती करते हुए चुनाव लड़ना चाहती थी, बीजेपी ने बिल पास करते हुए यह चुनावी मुद्दा भी विपक्ष से छिन लिया हैं. यही कारन हैं की अब विपक्ष इस कानून के प्रति भ्रांतियां फैलाते हुए किसानों को भड़का रहा हैं ताकि उसकी राजनीती चलती रहे.

देखे प्रतिक्रियाएं –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here