400 साल पुरानी भगवान् राम की मूर्ति के तोड़े जाने पर पवन ने मांगी CBI जाँच

0
366

कुछ दिन पहले रामतीर्थम मंदिर में भगवान राम की 400 साल पुरानी मूर्ति को आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में स्थित कुछ उपद्रवियों तत्वों ने तोड़ दिया. यही नहीं उपद्रवियों ने टूटी हुई भगवान् राम की मूर्ति को पास के तालाब में फेंक दिया था, पिछले कुछ हफ़्तों में आंध्र प्रदेश में ऐसे कई हमलों के मामले सामने आ चुके हैं.

विपक्ष और राज्य के तमाम हिन्दू लोग मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी से इन हमलो पर जवाब चाहते हैं, बताया जा रहा है की विजयनगरम पुलिस ने इन हमलावरों को पकड़ने के लिए एक टीम का भी गठन किया हैं. अब इस मामले में साउथ के सुपर स्टार पवन कल्याण ने भी अपनी चुप्पी तोड़ते हुए CBI जाँच की मांग कर डाली हैं.

इसके इलावा भाजपा नेता ने सुनील देवधर ने भी मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है की, “भगवान राम की प्रतिमा को तोड़ने की खबर मिलते ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने वहां का दौरा किया धरना दिया, लेकिन पुलिस और राज्य सरकार खामोश रही. शनिवार को हम ‘चलो रामतीर्थम यात्रा निकालेंगे’.”

सुनील देवधर ने राज्य के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी के खिलाफ ब्यान देते हुए कहा की, “इस तरह की घटनाएं राज्य में लगातार हो रही है. राज्य में केवल हिंदू देवी देवताओं पर हमले हो रहे हैं. हिंदुओं का धर्मांतरण करने के लिए चर्चों को संरक्षण दिया जा रहा है. जगनमोहन रेड्डी जी आप सावधान हो जाइए भाजपा इसे बर्दाश्त नहीं करेगी. आंध्र प्रदेश में हिंदू मंदिरों पर बार-बार हो रहे हमले 16 वीं सदी के गोवा में क्रूर सेंट जेवियर के कार्यों की याद दिलाते हैं जिन्होंने मंदिरों को नष्ट कर दिया. तालिबान द्वारा बामियान में तोड़ी गई बुद्ध प्रतिमा की याद दिला रहे हैं.”

साउथ के सुपर स्टार पवन कल्याण की राजनितिक पार्टी ‘जन सेना’ एनडीए की सहयोगी दलों में से एक हैं और पवन कल्याण ने भी मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है की, “भगवान राम की मूर्ति को खंडित किया गया, जबकि अयोध्या में राम मंदिर बनाया जा रहा है. क्योंकि राज्य सरकार ने पीथमपुर, कोंडा बिटरगुन्टा और अंटहेरवेदी की घटनाओं पर कोई गंभीरता नहीं दिखाई. अंतरावेदी में श्री लक्ष्मी नरसिम्हा स्वामी मंदिर के रथ को जलाने के आरोपी लोगों का अब तक पता नहीं चला है और न ही अभी तक किसी को भी गिरफ्तार किया गया है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here